आपकी आंखों के सामने की ऐसी तस्वीर झकझोरती है रघुबर साहब

“ झारखंड (मुकेश भारतीय)। कुछ तस्वीरें मानवता को शर्मशार कर देती है तो कुछ तस्वीरें मन-मस्तिष्क को झकझोर डालती है। आये दिन इस तरह की तस्वीरें उजागर होती रहती है। लेकिन किसी राज्य के मुखिया यानि सीएम की आंखों के सामने की ऐसी तस्वीर देखने को मिले तो दिमागी झन्नाहट को बखूबी समझा जा सकता है।”  राजधानी रांची से प्रकाशित हिन्दी दैनिक भास्कर में एक फ्रंट ली़ड फोटो प्रकाशित हुई है। इस तस्वीर के साथ अखबार ने भी बड़ी दिलचस्प तरीके से लिखा है कि “मुख्यमंत्री रघुवर दास 62 साल के हैं। मगर लगातार दौरे कर रहे हैं। बजट पूर्व संगोष्ठी और बैठकों में व्यस्त […]

Read more

‘एक्सपर्ट मीडिया न्यूज’ से बोले नालंदा एसपी- अब यूं जारी नही होगी प्रेस विज्ञप्ति

नालंदा के एसपी सुधीर कुमार पोरिका ने कहा कि आगे से पुलिस विभाग की ओर से जो भी सूचनाएं सोशल साइट के ग्रुपों पर जारी की जायेगी, वे सक्षम अफसरों के पदनाम हस्ताक्षर से ही जारी किये जायेगें।  इस संबंध में प्रस्तुत है एक्सपर्ट मीडिया न्यूज के प्रधान संपादक मुकेश भारतीय और नालंदा एसपी सुधीर कुमार पोरिका के बीच हुई बातचीत के प्रमुख अंश….. एक्सपर्ट मीडिया न्यूज:  आपने और डीएम साहब ने सोशल मीडिया पर बिना कोई पुष्ट सूचना के कोई चीज जारी न करे लेकिन आपके पुलिस विभाग की ओर से यह गलतियां की जा रही है। यहां तक कि […]

Read more

डीएम और एसपी के अनुदेश को यूं ढेंगा दिखा रहे हैं नालंदा पुलिस-प्रशासन के नुमाइंदे

राजनामा न्यूज (मुकेश भारतीय)। बिहार के  नालंदा जिले में  डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम और एसपी सुधीर पोरिका  ने सोशल मीडिया को लेकर कई तरह के संयुक्त अनुदेश जारी कर रखे हैं। लेकिन, दुर्भाग्य की बात है कि यहां पुलिस-प्रसाशन के लोग ही उसकी धज्जियां उड़ाने में लगे हैं। नालंदा में थाना, अंचल, अनुमंडल या फिर जिला स्तर पर पुलिस-प्रशासन अपनी दैनिक या विशेष कार्रवाईयां करती है। उसे लेकर प्रायः डीएसपी और एसपी स्तर पर प्रेस कांफ्रेस (वार्ता) आयोजित की जाती है। लेकिन आश्चर्य की बात  है कि थाना स्तर पर उसी की प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी जाती है, उस पर […]

Read more

JAC अध्यक्ष दुर्गा उरांव ने की राजनामा के संपादक पर फर्जी पुलिस केस की भ्रत्सना, राजगीर मामले को लेकर वे करेगें PIL

रांची (राजनामा न्यूज़ डेस्क)। पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा को उनके मंत्रिमंडल समेत पूरे कुनबे को  जनहित याचिका दायर कर  जेल की सलाखों में डलवाने वाले झारखंड अंगेस्ट क्रप्शन के अध्यक्ष दुर्गा उरांव उर्फ दुर्गा मुंडा ने बिहार के नालंदा जिले के राजगीर थाना पुलिस द्वारा राजनामा.कॉम के संपादक-संचालक मुकेश भारतीय पर की गई फर्जी मुकदमा की कड़ी निंदा की है और जिला पुलिस-प्रशासन से इस मामले में सीएम नीतीश कुमार से तत्काल हस्तक्षेप की मांग की है। साथ ही उन्होंने कहा कि राजगीर मलमास मेला की सैराती भूमि समेत अन्य स्थानों पर जिस तरह की अतिक्रमण कर अवैध होटलों-मकानों के निर्माण के सबूत […]

Read more

सिल्ली MLA अमित महतो के इस ‘बुजुर्ग मां’ जज्बे को सलाम

रांची ( मुकेश भारतीय )। मां सिर्फ मां होती है और जीवन में वह सर्वोपरि है। पिछले ढाई दशक से उपर की अपनी पत्रकारिता में कहीं भी रहा। चाहे वह बिहार-झारखंड हो, उत्तर प्रदेश, नई दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल हो या फिर दक्षिण के राज्यों का भ्रमण हो… कहीं इस तरह की बानगी मुझे देखने को नहीं मिल सका है। वाकई फेसबुक-ट्वीटर जैसे सोशल साइट तरह-तरह के अनुभवों से अवगत कराता है। यहां मेरी उपस्थिति का करीब एक ढेड़ दशक होने को है। लेकिन हाल के दिनों में मैं एक युवा राजनीतिज्ञ का कायल हो चुका हूं। वे हैं..अमित कुमार महतो। अमित झारखंड […]

Read more

रघु’राज के प्रमुख प्रेस सलाहकार योगेश किसलय ने फेसबुक पर उड़ेली ओछी मानसिकता

रांची (मुकेश भारतीय)। झारखण्ड के मुख्यमंत्री रघुवर दास के प्रेस सलाहकार योगेश किसलय की सोशल साइटों पर थू-थू हो रही है। फेसबुक और ट्वीटर पर तो कहीं चुटेले तो कहीं आक्रोश का आलम है। कोई उनकी हंसी उड़ा रहा है तो कोई नालायक सरकारी पत्रकार बता रहा है। दरअसल झारखंड-बिहार की मीडिया में अपनी अलग भगवा छाप रखने वाले वरिष्ठ पत्रकार योगेश किसलय ने अपनी फेसबुक टाइम लाइन पर विगत 14 अप्रैल,2017 को एक फर्जी फोटो के साथ अत्यंत विवादित कमेंट शेयर की है। योगेश किसलय किस जाति और वर्ण से आते हैं, ये लोगों को भले पता न हो लेकिन […]

Read more

रघुबर जी, शराबबंदी को लेकर अपनी बाट न लगाईए

-: मुकेश भारतीय :- नशेड़ी ही नशे की बात करता है। झारखंड के सीएम रघुवर दास ने बिहार के सीएम नीतिश कुमार के उस बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी है, जिसमें श्री कुमार ने कहा था कि झारखंड सरकार को घमंड का नशा हो गया है। वेशक श्री दास के इस प्रतिक्रिया को आक्रामक नहीं कहा जा सकता। राजनीतिक विश्लेशक इसे अपरिपक्वता का परिचायक मानते हैं। बकौल रघुवर, यह कहना कि बिहार के सीएम को जातिवाद का नशा है।, भ्रष्टाचार का नशा है और घमंड का भी नशा है। वो हमसे नशा की बात कर रहे हैं। आखिर नीतिश कुमार ने […]

Read more

प्रेरणा नहीं, पीड़ा बन गई है राजेन्द्र का यह विश्व रिकार्ड

राजनामा.कॉम(मुकेश भारतीय)।  महज जिद और जुनून के बल विश्व रिकार्ड बना चुके आनंदी के राजेन्द्र कुमार साहु का जीवन जितनी गंभीर और प्रेरक है, उससे कहीं अधिक कुछ नया कर गुजरने की कहानी रोचक। बकौल राजेन्द्र, हर तरफ से थक हार मायुस होकर गांव लौटे और पुनः खेती-बारी के काम में जुट गए तो उनके मन में यह टीस सालती रही कि वे कुछ ऐसा नहीं कर पा रहे हैं, जिससे देश-दुनिया के लोग जान सके। स्वंय राजेन्द्र के शब्दों में, “ एक दिन वे यूं ही अखबार पढ़ रहे थे कि अचानक नजर एक खबर पर गई। खबर उत्तर प्रदेश […]

Read more

सब कुछ गलतफहमी वश हो गयाः कांके प्रखंड प्रमुख

राजनामा.कॉम के संचालक-संपादक मुकेश भारतीय  की पत्नी के नाम से रांची के नेवरी विकास अवस्थित 5 डिसमिल जमीन को जबरन रास्ता बना डालने के मामले में कांके प्रखंड प्रमुख सुदेश उरांव ने कहा है कि सब कुछ गलतफहमी में हो गया है।  श्री उरांव ने श्री भारतीय से मोबाईल पर कहा कि भविष्य ऐसी गलती नहीं दोहराई जाएगी। प्रखंड प्रमुख इस गलतफहमी में थे कि आगे की जमीन भारतीय की पत्नी की जमीन नहीं है। वे इस भ्रम में थे कि आगे आम रास्ता के रुप में रिंग रोड तक खाली है। उल्लेखनीय है कि कांके प्रखंड प्रमुख है या ‘एनोस एक्का डिजीज’ शीर्षक से राजनामा.कॉम […]

Read more

रिस्क नहीं चुनौती है ‘नो निगेटिव न्यूज’ की पहलः अमरकांत

निगेटिव और पॉजिटिव दो विपरित धाराएं हैं। लेकिन पत्रकारिता में  इसके अपने-अपने मायने हैं। हर सूचना किसी के लिये निगेटिव होती है तो किसी के लिये पॉजिटिव। यह एक सोच है या सच, सदैव एक चिंतन का विषय रहा है। क्योंकि  किसी भी सूचना-समाचार के संकलन, लेखन, संप्रेषण, संपादन और प्रकाशन के बीच भाषा, शैली और तत्थों की सूक्ष्म पड़ताल ही सब कुछ तय करता है कि उसका स्वरुप क्या होगा । ऐसे में देश के जाने-माने हिन्दी दैनिक भास्कर ने ‘नो निगेटिव न्यूज’ की पहल की है। अखबार की इस पहल को लेकर रांची संस्करण के स्थानीय संपादकः अमरकांत   से  राजनामा.कॉम के संपादकः मुकेश भारतीय ने खास बातचीत […]

Read more

भूल कर पुरानी बातें…आईये भरें उड़ान

वर्ष 2014 मेरे लिये काफी चुनौतीपूर्ण और प्रेरणादायक तो था लेकिन एक ठहराव भरा।  व्यक्ति से लेकर व्यवस्था तक, सबकी आंखों में टिमटिमाती उम्मीद की किरणों का ही प्रतिफल है कि  मेरा भी विश्वास बिखरने से बच गया। समय बहुत बलवान होता है। समय के साथ सब कुछ बदल जाता है। अगर विश्वास को अहंकार की श्रेणी से अगल कर के देखें तो आपको झारखंड विधानसभा चुनाव के दौरान अपने इस वेबसाइट पर  किसी से क्या उम्मीद की जाए…. शीर्षक से मेरी बात स्तंभ में मैंने एक पीडा लिखी थी। कसक व्यवस्था को लेकर थी। संयोग देखिये या कहिये उपर वाले का न्याय कि […]

Read more

सिर्फ ‘नमो’ से उम्मीद !

वेशक सोशल मीडिया नेटवर्क और वेब जर्नलिज्म ने आम आदमी की वाक्य व अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को एक नई दिशा प्रदान की है। स्थापित समाचार पत्र-पत्रिकाएं हो या न्यूज चैनलें…..खास लोगों की ही थेथरई पर आ टिकी है। वह आम जन-मानस के विचारों से इतर अधिक मंत्र गढ़ते दिखते हैं। जबकि आवाम की आवाज काफी अलग होती है। आज कल फेसबुक पर सक्रीय जमशेदपुर के राकेश मिश्र जी से चैट बॉक्स के द्वारा उन्हें देश-प्रदेश को लेकर टटोलने की कोशिश की तो उनके जबाव में कई सबाल महसूस किया। जिसका जबाव इस देश के कर्णधार नेताओं को हर हाल में देनी […]

Read more

सर्च, सीजर और रेड का पावर चाहिये :झारखंड लोकायुक्त

राजनामा.कॉम के संपादक मुकेश भारतीय ने झारखंड के  लोकायुक्त जस्टिस अमरेश्वर सहाय से उनके कार्यालय में कई ज्वलंत मुद्दों पर बात-चीत की। प्रस्तुत है उसके मुख्य अंशः- अगल राज्य बनने के बाद आप झारखंड को आप कहां देखते हैं ? लोकायुक्तः पिछले बारह बर्षों में झारखंड को कम से कम बारह पायदान उपर चढ़ जाना चाहिये था। लेकिन यह काफी दुर्भाग्य की बात है कि मेरी राय में यह दो पायदान ही उपर चढ़ पाया है और अभी दस पायदान नीचे है। जिस तरह से इसका विकास होला चाहिये था, वह नहीं हो पाया है। यहां संसाधनों की कमी भी नहीं है […]

Read more
1 2