राजगीर के इस भू-माफिया के खिलाफ किसी क्षण हो सकती है FIR, जद में कई अफसर-कर्मी भी

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज (मुकेश भारतीय)। नालंदा जिले के अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल  राजगीर प्रक्षेत्र अवस्थित मलमास मेला सैरात भूमि पर काबिज बड़े माफिया-अतिक्रमणकारयों एवं उनके सहयोगी बने अफसर-कर्मियों के खिलाफ आज कभी भी एफआईआर दर्ज हो सकती है। राजगीर के आरटीआई एक्टिविस्ट पुरुषोतम प्रसाद द्वारा लोक शिकायत निवारण प्रथम अपीलीय प्राधिकार में दायर वाद की सुनावई के दौरान अपने अंतरिम आदेश में पटना प्रमंडलीय आयुक्त आन्नद किशोर ने नालंदा के डीएम के अधिकृत लोक प्राधिकार को 24 घंटे के अंदर दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर 36 घंटे के भीतर रिपोर्ट करने के निर्देश दिये हैं। प्रमंडलीय आयुक्त के आदेश के आलोक […]

Read more

दैनिक जागरण के स्थानीय संवाददाता हैं होटल मालिक बब्लु सिंह

राजनामा.कॉम। “नालंदा थाना पर्यटक सुविधा क्रेंद पर एक कथित पत्रकार का यूं सजा होटल बोर्ड” शीर्षक से प्रकाशित खबर में जिस कथित होटल मालिक एवं पत्रकार बब्लु सिंह का जिक्र किया गया है, उन्होंने कहा है कि वे काफी लंबे समय से पटना से  प्रकाशित हिन्दी दैनिक जागरण के स्थानीय संवाददाता के रुप में जुड़े हैं और  नियमित रुप से समाचार संकलन, लेखन व संप्रेषण के कार्य करते आ रहे हैं। इसकी पुष्टि बिहार शरीफ जागरण कार्यालय के प्रभारी से किया जा सकता है। उन्होंने मोबाईल पर साइट के प्रधान संपादक को बताया कि नालंदा थाना पर्यटक सुविधा क्रेंद पर जो […]

Read more

नालंदा थाना पर्यटक सुविधा क्रेंद पर एक कथित पत्रकार का यूं सजा होटल बोर्ड

राजनामा.कॉम। नालंदा जिले में मीडिया/प्रेस के नाम पर कहीं कहीं बड़ी अजीब स्थिति देखने को मिलती है। इस ओर पुलिस-प्रशासन का भी ध्यान नहीं जाता है क्योंकि वे ये मान कर चलते हैं कि प्रेस वाले उनका बेड़ा गर्क कर सकते हैं। विश्व विख्यात प्राचीन नालंदा विश्वविद्यालय (खंडहर) जाने वाली मार्ग मेन मोड़ के पास बने थाना पर्यटक सुविधा क्रेंद को देखिये। यहां न तो कभी कोई पुलिसकर्मी रहता है और न हीं यहां पर्यटकों के लिये कोई सुविधा व्यवस्था है। फिलहाल काफी लंबे समय से इस थाना  पर्यटक सुविधा क्रेंद पर एक होटल वाले ने अपना बडा सा होडिंग लगा […]

Read more

पटना-नालंदा के अखबारों में यूं छापे जा रहे हैं उपयोगिता विहीन सरकारी विज्ञापन

राजनामा.कॉम (संजय कुमार)। केंद्र एवं राज्य सरकार अपनी उपलब्धियों तथा सरकारी कार्यक्रमों की जानकारी अखबार के द्वारा लोगों को देने हेतु विज्ञापन जारी करती है, ताकि  कार्यक्रम में अधिक लोगों की सहभागिता हो सके। परंतु ,सरकार द्वारा जारी विज्ञापन कार्यक्रम की समाप्ति के बाद छापे जा रहे हैं। उपयोगिता विहीन विज्ञापनों का सरकार द्वारा भुगतान भी कर दिया जाता है। जिससे आम जनों का टैक्स के रूप में वसूली गई राशि का दुरुपयोग भी हो रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार दैनिक हिंदुस्तान ,पटना के मगध संस्करण ने दिनांक 6 अप्रैल २०१८ को पेज संख्या 9 पर डीएबीपी ३८१०१/१३/०००१/१८१९ द्वारा हाफ […]

Read more

आरोप राजगीर JDU MLA का और शीर्षक बन गये हिलसा RJD MLA

राजनामा.कॉम। कभी-कभी दैनिक समाचार पत्रों की खबरें बड़ी रोचक हो जाती है। लोग चटखारे के साथ पढ़ते है और मजे लेते हैं। सूचनाएं तो उन्हें मिल ही जाती है, जैसा कि वे अपेक्षा रखते हैं। पटना से प्रकाशित हिन्दी दैनिक भास्कर के बिहार शरीफ संस्करण में “ विधायक शक्ति सिंह ने नूरसराय पुलिस पर फंसाने का लगाया आरोप” शीर्षक से एक खबर प्रकाशित है। लेकिन खबर के अंदर के मजबून में लिखा गया है कि “पुलिस कार्यशैली से वाफिक जदयू के राजगीर विधायक रवि ज्योति ने नूरसराय पुलिस पर संगीन आरोप लगाये हैं। विधायक ने बताया कि पुलिस ने नूरसराय के […]

Read more

दैनिक भास्कर-हिन्दुस्तान-सहारा,बिहारशरीफ संस्करण का संवाददाता-संपादक है या जज?

राजनामा.कॉम। पटना से प्रकाशित दैनिक हिन्दुस्तान  दैनिक भास्कर  और  राष्ट्रीय सहारा का बिहारशरीफ संस्करण के संवाददाता-संपादक माननीय न्यायालय से भी उपर हैं ? यह सबाल एक बार फिर उठ खड़ा हुआ है। आज दैनिक भास्कर में “संपत्ति के लिए चाचा की हत्या करनेवाला धराया” तो दैनिक हिन्दुस्तान में “ चाचा की हत्या करने वाला भतीजा पटना से गिरफ्तार” तो वहीं राष्ट्रीय सहारा में “चाचा का हत्यारा भतीजा पटना में चढ़ा पुलिस के हत्थे ” शीर्षक से खबर प्रकाशित हुई है। तीनों तिकड़ी अखबारों में अमुमन समान सूचना है कि सरमेरा थाना अंतर्गत छोटी केनार गांव में संपत्ति हड़पने के लिए भतीजा […]

Read more

‘अपराधियों के बाद अब पुलिस-प्रशासन के निशाने पर पत्रकार’

राजनामा.कॉम। जिस तरह बिहार के लोग अपनी आजीविका के लिए बिहार से बाहर जा रहे हैं तो क्या उसी तरह अब बिहार के पत्रकारों को पत्रकारिता के लिए राज्य से बाहर जाना होगा। बिहार में गलत परंपरा की शुरूआत हो रही है. जिसमें प्रदेश के पत्रकारों की कलम को प्रभावित करने की कोशिश  पुलिस प्रशासन के द्वारा की जा रही है। यह कहना है नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के संस्थापक सह राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश कुमार गुप्ता का। अध्यक्ष श्री गुप्ता नालंदा के पीड़ित पत्रकार राजीव रंजन से मिलने बिहारशरीफ आए हुए थे। एनजेए के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि नि:संदेह विगत कई […]

Read more
1 2 3 11