बिल्कुल बदल गई है पत्रकारों की दिशा और दशा

शब्दों में वो ताकत होती है जो बन्दूक की गोली, तोप के गोले एवं तलवार में नहीं होती है। अस्त्र-शस्त्र से घायल व्यक्ति की सीमा शरीर होता हैजो देर-सबेर ठीक हो ही जाता है लेकिन, शब्द से मानव की आत्मा घायल होती है, इस पीड़ा को जीवन-पर्यन्त तक नहीं भुलाया जा सकता। शब्दों कासच्चा मालिक पत्रकार ही होता है, जिसकी लेखनी से निकला प्रत्येक शब्द किसी देश, समाज, विकास की न केवल दिशा और दशा को तय करता है बल्कि उन्हें एक निश्चित् गति भी प्रदान करने में सहायक होता है। इतिहास गवाह है देश के अन्दर बड़ी-बड़ी क्राँन्तियां पत्रकारों की […]

Read more

रांची भू-अर्जन कार्यालयः दलाल-बाबूओं का रामराज

यह नजारा है राजधानी रांची स्थित जिला भू-अर्जन कार्यालय की। यहां बड़े मियां तो बड़े मियां सुभान अल्लाह वाली कहावत चरितार्थ है। किसी भी टेबुल पर आप खड़े-खड़े उब जायेगें,लेकिन सामने किसी बाबू साहेब के गनीमत से भी दर्शन न हो पायेगें। यहां हर तरफ सिर्फ मनमानी ही मनमानी का नजारा दिखेगा।जिला भू-अर्जन पदाधिकारी से बात कीजिए। इनका कहना है कि यहां के नजारे से विचलित न हों,समूचे झारखंड का यही हाल है।हर जगह ऐसे ही काम चलता है। ऐसे में कोई काम होने की कल्पना आप समझ सकते हैं। एन.एच-33 के फोरलेनिंग, रिंग रोड आदि जैसे परियोजनाओं के लिये व्यापक […]

Read more

चौबे चले छब्बे बनने और दुबे बन कर रह गए

मौर्या टीवी प्रसिद्ध फिल्म निर्माता-निर्देशक प्रकाश झा का न्यूज चैनल है। इस चैनल की सबसे बड़ी विशेषता थाली के बैगन वाली है। कभी इधर तो कभी उधर। जब सरकारी लोकपाल की लोकपाल चर्चा हुई तो लोकपाल, जब सिविल सोसाइटी की जन लोकपाल की हुई तो जन लोकपाल और अब जब बहुजन लोकपाल की चर्चा हुई तो बहुजन लोकपाल। दरअसल, प्रकाश झा फिल्म आरक्षण को लेकर दलित नेताओं के निशाने पर हैं और उसकी चोट से बचने के लिए वे अब दलित वर्ग की हिमायती बन गये हैं। इसकी व्यापक झलक गत दिनों दिल्ली के रामलीला मैदान में बहुजन लोकपाल के समर्थन […]

Read more

पर्यावरण को यूँ नष्ट कर रहे हैं खनन माफिया

 राजधानी राँची प्रक्षेत्र के एक बड़े भूभाग पर सुसज्जित पहाड़ियों तथा मनोरम वन संपदाओं को खनन माफियाओं का हुजूम तहस-नहस कर रहे हैं. इस क्षेत्र में कुकुरमुत्ते की भांति उगे करीब 10000 से ऊपर अवैध क्रेसर मशीन चल रहे हैं. इनके संचालकों को विभागीय अधिकारियों तथा राजनेताओं का खुला संरक्षण प्राप्त है. प्रदेश व केन्द्र स्तर पर सारी सूचनायें रहने के बाबजूद इस दिशा में कोई कार्रवाई न होना एक गंभीर चिंता का विषय है.

Read more

सावधान ! सुअर की चर्बी खा रहे हैं हमारे बच्चें

“Laysचिप्स के पैकेट में दरअसल सूअर की चर्बी है ”  इस बात को लेकर कुछ अरसे पहले पाकिस्तान में काफी हंगामा हुआ था,जिस पर ढेरों आरोप और सफाइयां दस्तावेजों सहित मौजूद हैं। हैरत की बात यह दिखी कि इस पदार्थ को कई देशों में प्रतिबंधित किया गया है किन्तु अपने देश में धड़ल्ले से उपयोग हो रहा है…. मूल तौर पर यह पदार्थ सूअर और मछली की चर्बी से प्राप्त होता है और ज्यादातर नूडल्स, चिप्स में स्वाद बढाने के लिए किया जाता है। रसायन शास्त्र में इसे Disodium Inosinate कहा जाता है जिसका सूत्र है C10H11N4Na2O8P1 होता यह है कि […]

Read more

अन्ना की राम लीला में खो गया जटायु

चलो भाई खेल खतम हुआ| रामलीला मैदान में सबकी लीला समाप्त। सबको धन्यवाद भी ज्ञापित हो गया पर एक व्यक्ति का नाम केजरीवाल की जुबान से नहीं फूटा, अरुण दास जी का जो इस आन्दोलन के समर्थन में अनशन करते हुए शहीद हो गए| गलती किसकी है? सीधे सीधे अरुण दास जी की…….एक तो उन्हें ऐसे लोगों का साथ नहीं करना चाहिए था और उनके भारत स्वाभिमान मंच का पूर्णकालिक सदस्य नहीं बनना चाहिए था और दूसरे बन भी गए थे तो देश के स्वयंभू बुद्धिजीवियों के आन्दोलन से खुद को दूर रखना चाहिए था| अरे इतना तो समझना चाहिए था […]

Read more

कौन है रांची के इस चैनल का मालिक! कौन चला रहा है इसे!

सावधान ! कहीं अगले शिकार आप तो नहीं?  झारखण्ड ( रांची) से एक चैनल का प्रसारण किया जाता है.  नाम पहचाने के लिए कोई खास जद्दोजहद की जरूरत नहीं पड़ेगी… अभी केवल दो चैनलों का ही प्रसारण रांची से किया जाता है और संयोगवश दोनों ही चैनल नोएडा से प्रसारित हो रहे एक चैनल के द्वारा प्राप्त किये गए लाइसेन्स पर चल रहे हैं…  इन्हीं दोनों चैनलों में से एक चैनल है जिसमे सन्दर्भ में चर्चा की गयी है. इस चैनल के तथाकथित मालिक एक पूर्व मीडियाकर्मी रह चुके हैं… तथाकथित इसलिए कि मालिक के सन्दर्भ में कई भ्रांतियां है… कोई […]

Read more

टीआरपी की होड़ में मर गई मीडिया की नैतिकता!

 टीआरपी की होड़ में आजकल के अखबार और चैनल्स कुछ भी करने को तैयार दिख रहे हैं. कुछ कर दिखाने का ऐसा जुनून की संसाधनों के अभाव में भी हर पांच मिनट बाद फायर होता है ब्रेकिंग न्यूज. भले ही स्पॉट पर अपने रिपोर्टर हो न हों, अपनी ओवी हो न हो लेकिन इन्हें तो दूसरे चैनल से लाइव काटने में महारत हासिल है. लगभग सभी रिजनल चैनल और कई नेशनल चैनलों के पास चलने वाले ज्यादातर फूटेज चोरी के होते हैं. मगर फिर भी सब करेंगे नंबर 1 होने का दावा. आखिर कहां गई पत्रकारों की नैतिकता? क्यों खोखली होती […]

Read more

कशिश चैनल के न्यूज हेड की जय हो

हाय! तुम चुप क्यों हो…कुछ बोल क्यों नहीं रही हो   मंदिर देवघर का हो या कहीं और का… आपने कभी गौर से देखा है … चैनल कशिश को … एक बार गौर से देखिये … चकरा तो हम भी गए थे … क्या ये चैनल हेड की पत्नी है … गौर से देखा तो चौंक गया … अरे ये तो वही है … बवाल एंकर … पर अब सधी हुई … मंदिर मंदिर घूमती … चैनल चैनल खेलती … ये तो मैडम जी का जलवा है … जलवा भी ऐसा की न्यूज़ डाइरेक्टर का सब कुछ दाव पर … जमशेदपुर […]

Read more

सन्मार्ग से बैजनाथ मिश्र की छुट्टी! रजत गुप्ता की वापसी!

रांची से प्रकाशित हिंदी दैनिक सन्मार्ग से वरिष्ठ पत्रकार श्री बैजनाथ मिश्र (हाल ही में राज्य सूचना आयुक्त के पद से सेवानिवृत हुए) की विदाई हो गई है। वे पिछले पखवारे ही इस अखबार के पीआरबी अधिनियम के तहत समाचारों के लिए जिम्मेवार(!) प्रधान संपादक बनाये गए थे। श्री मिश्र के सन्मार्ग जैसै छोटे अखबार से इतनी जल्दी विदाई की किसी ने कल्पना भी न की होगी। अखबार के आज 15 अगस्त के प्रिंट लाइन के अनुसार रजत कुमार गुप्ता संपादक पद पर वापस लौट आए हैं और अखबार के मुद्रक-प्रकाशक प्रेम ने भी संपादक पद छोड़ दिया है। हिंदी दैनिक […]

Read more

विदेशी लहर है भारत पहुंची “बेशर्मी मोर्चा”

स्‍लट वॉक यानि “बेशर्मी मोर्चा”। क्‍या आपको पता है कि स्‍लट वॉक का असल मतलब क्‍या होता है और इसका जन्‍म कहां हुआ। अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं। स्लट वॉक यानी बेशर्मी मोर्चा की नींव कनाडा के टोरंटो शहर में उस समय पड़ी, जब दुष्कर्म की बढ़ती घटनाओं के लिए एक पुलिस अधिकारी ने भड़काऊ कपड़ों को प्रमुख कारण बताया। अधिकारी ने महिलाओं को संयमित परिधान पहनने की सलाह दी थी। ……. आगे पढ़े

Read more

दिल्ली से लखनऊ पहुंचा "बेशर्मी मोर्चा" :किया भौंडा प्रदर्शन

महिलाओं से छेड़छाड़ की बढ़ती वारदातों, बलात्‍कार, यौन शोषण और छिटाकशी की घटनाओं को रोकने के लिये दिल्‍ली में पहली बार स्‍लट वॉक यानी कि बेशर्मी मोर्चा निकाला गया। दिल्‍ली के बाद अब इस मार्च ने उत्‍तर प्रदेश की तरफ रुख किया है।आगामी दिनों में राजधानी लखनऊ में यह मोर्चा निकाला जायेगा…… आगे पढ़े

Read more

सावधान !! सुअर की चर्बी खा रहे हैं हम और हमारे बच्चें

“Laysचिप्स के पैकेट में दरअसल सूअर की चर्बी है ” इस बात को लेकर कुछ अरसे पहले पाकिस्तान में काफी हंगामा हुआ था,जिस पर ढेरों आरोप और सफाइयां दस्तावेजों सहित मौजूद हैं। हैरत की बात यह दिखी कि इस पदार्थ को कई देशों में प्रतिबंधित किया गया है किन्तु अपने देश में धड़ल्ले से उपयोग हो रहा। मूल तौर पर यह पदार्थ सूअर और मछली की चर्बी से प्राप्त होता है और ज्यादातर नूडल्स, चिप्स में स्वाद बढाने के लिए किया जाता है। रसायन शास्त्र में इसे Disodium Inosinate कहा जाता है जिसका सूत्र है C10H11N4Na2O8P1 होता यह है कि अधिकतर […]

Read more
1 178 179 180 181