AFSPA हटाकर मेरी भूख हड़ताल खत्म कराएं मोदी: इरोम

Share Button

मणिपुर की लौह महिला के नाम से मशहूर इरोम चानू शर्मिला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील की है कि वह दमनकारी सशस्त्र बल विशेषाधिकार कानून (AFSPA) हटाकर 14 साल से जारी उनकी भूख हड़ताल खत्म कराने में मदद करें।

 Iromइरोम ने मोदी को लिखे एक पत्र में कहा, ‘संसद में आपकी कोशिशों से AFSPA-1958 हटाने को लेकर मैं अपनी आजादी के दिन गिन रही हूं। लिहाजा, आप वह सर्वशक्तिमान नेता बनें जो यह कानून हटाकर 14 साल से जारी मेरा अनशन आखिरकार खत्म करा दें।’

पत्र में शर्मिला ने अफसोस जताया, ‘AFSPA- 1958 के तहत मारने का लाइसेंस रखकर भारत सरकार हजारों हत्याएं कर रही है और पिछले कुछ दशकों में कई निर्दोष लोग लापता भी हुए हैं।’

इरोम ने मोदी से सवाल किया कि आखिर संसद देश के बाकी हिस्सों की तुलना में पूर्वोत्तर को एक अशांत क्षेत्र घोषित कर उससे अलग तरह का सलूक क्यों करती है और सशस्त्र बलों, हवलदार रैंक के कर्मी को भी, किसी के उग्रवादी होने के संदेह के आधार पर उसकी हत्या करने, उसे प्रताडि़त करने या उससे बलात्कार करने की इजाजत कैसे देती है।

 इरोम ने कहा कि ऐसी मानसिकता ज्यादा से ज्यादा उग्रवादी तत्वों के पैदा होने में मददगार रही है। उन्होंने पत्र में मोदी से अनुरोध किया, ‘कृपया हमें इंसान होने के बुनियादी अधिकार मुहैया कराएं ताकि हम आत्मसम्मान और गरिमा से जी सकें। इरोम ने संविधान के तहत जीवन के अधिकार की मांग की है।

Share Button

Relate Newss:

चाय पर चर्चा के बहाने पीएम मोदी की विपक्ष संग अच्छी पहल
अंततः कैंसर की आगोश में समा गये बिहार के वरिष्ठ पत्रकार अरुण कुमार
माहौल बिगाड़ने में लगे हैं कुछ लोग : नितीश कुमार
सर्च, सीजर और रेड का पावर चाहिये :झारखंड लोकायुक्त
महज 500 से रिस्क फ्री लाखों का धंधा करना हो तो दरभंगा में खोल लीजिये लोकल चैनल!
झारखंड में मस्ती मार लौट रहे बिहार में धराये यूपी के दयाशंकर !
बादल को मंडेला बता कर मजाक के पात्र बने मोदी
आंचलिक पत्रकार संघ और शासन की दाल में फिर दिखा भयादोहन का तड़का
अजीत जोगी ने  किया इंडियन एक्सप्रेस के उपर मानहानि का मुकदमा
विधायक अमित महतो ने फेसबुक पर निकाली जर्जर सड़क की खीज
आखिर रघुवर दास महेन्द्र सिंह धौनी से इतने चिढ़ते क्यों है?
भाजपा बनाम मोदी में उलझा दिखता है यह चुनाव !
बचिये ऐसे विज्ञापनों से, हमें मूर्ख बना रहे हैं ये
...और दैनिक हिन्दुस्तान रांची के HR हेड ने पत्रकार से कहा-‘साले पेपर पर साइन करो, नहीं तो... !
नालंदा के थानों में जी हुजूरी करते चौकीदार और अपराधी बने डीएम-एसपी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...