25 दिसबंर से बंद होगी रांची के बिल्डरिया खबर मंत्र का प्रकाशन !

Share Button

झारखंड के मीडिया जगत में खबर मंत्र वाकई अखबार चलाने के लिए अपना नया मंत्र इन दिनों दे रहा है। जब- जब अखबार पटरी पर आने लगती है, बिल्डर से अखबार मालिक बने अभय सिंह अपना ईजाद किया मंत्र छोड़ देते हैं। जिससे अखबार में बवाल और प्रिंट मीडिया क्षेत्र में हलचल मच जाती है।

उनके इस सनकीपन हरकत को लेकर फिर यह सवाल उठने लग जाते हैं कि आखिर अभय सिंह को यह क्या हो गया है।

गुरुवार को उनका एक और सनकीपन अखबार में दिखा। जब उन्होंने अचानक खबर मंत्र में यह इश्तहार चिपका दिया कि 25 दिसंबर से अखबार बंद किया जा रहा है। इस नोटिस ने कहीं अधिक सनसनी फैला दी। रांची से बाहर इसके मुख्य संपादक हरिनारायण सिंह को जानकारी हुई तो वे सारा कार्यक्रम छोड़कर वापस हो लिए।

बिल्डर से तीन साल तक अखबार चलाने, अभी विज्ञापन में अच्छी रकम आने की दुहायी दी गयी। बिल्डर को बहुत कुछ याद दिलाया गया।

बिल्डर का रोना रहा कि विज्ञापन का पैसा नहीं आता। घाटा बढ़ता जा रहा है। लेकिन बात फिर बिगड़ते- बिगड़ते बन गयी और यह हतप्रभ करनेवाला नोटिस बिल्डर ने हटवा लिया।

कहा जा रहा है कि इन सब के पीछे बिल्डर हैं और बिल्डर के पीछे कोई महिला है। दोनों के फेर में कुछ लोग रांची में चल निकले इस अखबार पर काबिज होने का सपना देखने लगे हैं। वह भी प्रधान संपादक और उनके लोगों को अखबार से हटाकर।

ऐसे लोगों की बैठकी भी एक महिला के यहां खूब चल रही है। चर्चा तो यही है कि इसी में इस तरह का नोटिस देकर अखबार में पैदा होनेवाली तपिश मापने की यह पहली कोशिश हुई है। (साभारः जनसत्ता एक्सप्रेस)

Share Button

Relate Newss:

.....और यूं 4 माह बाद जेल से बाहर निकले पत्रकार वीरेंद्र मंडल व उनके पिता
सड़क हादसा नहीं, श्वेताभ सुमन ने कराया हमला !
दैनिक प्रभात खबर का अमन तिवारी क्राईम रिपोर्टर है या क्राईम मैनजर !
सुप्रीम कोर्ट ने मजीठिया बोर्ड के फ़ैसले को सही ठहराया, अखबार मालिकों को झटका
अरविन्द केजरीवाल के दलाल हैं पुण्य प्रसुन वाजपेयी ?
मीडिया-दलाली का कच्चा चिठ्ठा है दैनिक भास्कर रिपोर्टर का यह वायरल ऑडियो
दैनिक भास्कर ने आतंकी के बाद बीएसएनएल कर्मी बताया!
नहीं सुधर रहा दैनिक हिन्दुस्तान, एक्पायर विज्ञापन छाप कर रहा यूं घोटाला
नहीं रहे दैनिक भास्कर समाचार पत्र समूह के चेयरमैन रमेशचंद्र अग्रवाल
राजग को 300 सीटें आ भी जाएं तो कैसे आईं, यह कौन बताएगा?
इस न्यूज़ चैनल का यह कैसा एक्सक्लुसिव
रैली को विफल करने की हुई बर्बर कोशिश :मरांडी
उपयोगिता समाप्त हो जाने के बाद छापे गये विज्ञापन
समाचार प्लस चैनल के Ceo_Cheif Editor ने प्रेस कांफ्रेस कर सत्ता को दी यूं खुली चुनौती
हेमंत सोरेन का इस्तीफा, अब मजबूत विपक्ष की भूमिका निभाएंगें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...