15 हजार लेकर थानाध्यक्ष ने कराई नाबालिग छात्रा की शादी, कतिपय पत्रकार देख ले VEDIO

Share Button

रांची (राजनामा.कॉम)। किसी एक पुलिस वाले की कार्यशैली से समूचे विभाग पर उंगली नहीं उठाई जा सकती, क्योंकि सेवा देने वाले इंसान ही होते हैं और हर इंसान का अपना चरित्र होता है। एक मीडियाकर्मी जब किसी समस्या को उठाता तो उसमें जनहित नीहित होता है, गैर कानूनी कुरीतियों के खिलाफ खुला जंग होता है।

लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि आज प्रायः मीडिया के लोग इसे नजरअंदाज करते हैं और जब कोई समस्या उठाता है तो एक छद्म माहौल क्रिएट करने की मुहिम में जुट जाते हैं। झारखंड प्रांत के सराकेला जिले के राजनगर क्षेत्र में यही सब हो रहा है।

भ्रष्ट निकम्मे तंत्र के कतिपय लोगों की दलाली करने वाले कुछ मीडियाकर्मी राजनगर कस्तूरबा आवासीय विद्यालय के नवमी क्लास की नाबालिग छात्रा की जबरन थाना परिसर में शादी मामले में कर रहे हैं।

जैसा कि विदित है कि आज हर जगह स्थानीय स्तर पर मीडियाकर्मी-पुलिस-प्रशासन की सोशल ग्रुप चल रहा है। ऐसे ग्रुपों का सूचना आदान-प्रदान में अपना विशेष महत्व होता है। लेकिन उसके द्वारा भ्रम भी फैलाए जाते हैं।

राजनगर में कतिपय मीडियाकर्मियों द्वारा ही ऐसी अफवाह (बच्चा चोरी) फैलाई जा चुकी है, जिसमें कई जानें गई है और पुलिस-प्रशासन को उत्पन्न सामाजिक विद्वेष से निपटने में भारी मशक्कत करनी पड़ी है।

वहां के समाचार नामक एक व्हाट्सएप्प ग्रुप में एक मीडियाकर्मी ने सूचना वायरल की है। उस सूचना में राजनगर थाना प्रभारी यज्ञ नारायण तिवारी के हवाले से कही गई है कि “मीडिया में फर्जी खबर चलाकर बदनाम करने की शाजिश रचा गया…

थाने परिसर में कभी भी किसी प्रकार की शादी नहीं हुई थी..किसी पत्रकार ने पक्ष जानने की कोशिश नहीं की। न हमसे फोन पर बात किया। पत्रकार समाज के आयना होते हैं। पत्रकारों को चाहिए कि सच्चाई खबर ही दिखाएं।”

इस पोस्ट को किसी वीपिन मिश्रा सहारा के नाम से फार्वड किया गया है। जाहिर है कि इसे अन्य ग्रुपों में भी वायरल किया गया है, जो कि स्थानीय मीडिया द्वारा सच को झूठ और झूठ को सच बनाने की ओछी पत्रकारिता से इतर कुछ नहीं है।

राजनगर थाना में थानाध्यक्ष एक नाबालिग छात्रा की थाना परिसर में कराई गई शादी में सीधे शामिल हैं। इसकी पुष्टि छात्रा एवं उसकी जिस युवक से शादी कराई गई है, उसके पिता द्वारा हो चुकी है। अनेक वीडियो फुटेज के अलावे इसके भी फुटेज एक्सपर्ट मीडिया न्यूज टीम के पास उपलब्ध हैं। मामला उठाने के पहले हर प्रमाण की पड़ताल कर ली गई है।

युवक के पिता का इतना तक कहना है कि थानाध्यक्ष ने 25 हजार रुपए की मांग की। नहीं देने पर उसके बेटे को फांसी करवा देने की धमकी तक दी। उसने किसी तरह धान बेच कर 15 हजार रुपए दिये।

सुनिए वीडियोः क्या कहता है वह पिता, जिसके पुत्र से नाबालिग छात्रा की जबरन कराई गई शादी….

 

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...