हाई कोर्ट के बीफ बैन के खिलाफ सड़क पर कश्मीर, फहराए पाक झंडे

Share Button

बीते दिन ही कश्मीर के इलाके से असिया अंद्राबी को गिरफ्तार किया गया है, जिसने कुछ दिन घाटी में पाक झंडे फहराए थे और अब फिर से घाटी में बीफ बैन के खिलाफ वहां पाक झंडे फहरा कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

pakistan_flag_srinagarगौरतलब है कि कश्मीर में हाईकोर्ट के बीफ बैन पर दिए गए फैसले से नाराज लोगों ने श्रीनगर में जमकर हंगामा किया। अलगाववादियों की ओर से किए गए बंद के ऐलान के बाद सड़कों पर उतरे प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान का झंडा लहराया और नारेबाजी भी की।

बीफ बैन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को भी बल प्रयोग करना पड़ा।

सूत्रों के मुताबिक, जुमे की नमाज के बाद अलगाववादी नेता मीरवाइज फारुक के समर्थक सड़कों पर उतर आए और देखते ही देखते विरोध-प्रदर्शन हिंसक हो गया।

विरोधियों ने पाकिस्तान का झंडा लहराते हुए पुलिस पर पथराव भी किया इसके बाद पुलिस ने भी लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले भी छोड़े।

बता दें कि बीते कई हफ्तों से कश्मीर में जुमे की नमाज के बाद पाकिस्तान का झंडा लहराया जा रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले भी बीफ बैन के खिलाफ नेताओं से बॉलीवुड सेलिब्रिटियों के बयान आ रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर ओवैसी भी बीफ बैन के खिलाफ एक के बाद एक बयान देते रहते हैं, लेकिन कश्मीर का प्रदर्शन करना का तरीका गलत है।

Share Button

Relate Newss:

प्रकृति का खेल या भ्रष्टाचार की रेल! कब खुलेगा इस आश्चर्य का राज़?
रेंगने को मजबूर क्यों हुआ एन डी टीवी ?
कोई नहीं ले रहा संदिग्ध आतंकी के नियोक्ता अखबार का नाम ?
जदयू विधायक ने सांसद पप्पू यादव की खोली 'ऑडियो पोल'
अर्नब गोस्वामी पर 500 करोड़ के मानहानि का दावा
मधेपुरा जिले के बिहारीगंज में तनाव, नेट सेवा बंद, धारा 144 लागू
ब्‍वॉयफ्रेंड बंटी सचदेवा के साथ फिर देखी गई सोनाक्षी सिन्‍हा !
ऊना में भीड़ के हमले में 8 दलित हुये घायल, पुलिस रही निष्क्रीय !
भाजपा ने सोशल मीडिया को 'एंटी-सोशल' बनायाः नीतिश
एक प्रेम-प्रसंग को लेकर यूं गेम खेल गई पटना-नालंदा की कंकड़बाग-चंडी पुलिस
मुंडा’काज हो या ‘रघु’राज, नहीं बदल रहे वन विभाग के भ्रष्ट'साज !
‘सत्य पर असत्य की विजय’ मामले में दैनिक भास्कर ने अग्रलेख छाप मांगी माफी
VBU host 68th  All India Commerce Conference 2015
राजनीतिक अतिवादियों से बच के रहें
राजस्थान पत्रिका समूह के सलाहकार संपादक बने ओम थानवी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...