हजारीबाग पुलिस के रडार पर हैं कांग्रेस विधायक निर्मला देवी

Share Button

jharkhand_cm_son_audioझारखंड में कांग्रेस की विधायक निर्मला देवी के मोबाइल नम्बर से नक्सलियों को कथित रूप से कॉल किए जाने को लेकर पुलिस उन पर नजर रखे हुई है।

इस मुद्दे पर विधायक निर्मला देवी और हजारीबाग के सहायक पुलिस अधीक्षक हरिलाल चौहान के बीच हुई बातचीत की टेप राज्य में वायरल हो गई है।

कुछ दिनों पहले चौहान ने यह जानने के लिए विधायक को फोन किया था कि क्या उन्होंने अपने फोन से नक्सलियों को कॉल किया था।

बातचीत में पुलिस अधिकारी ने विधायक से कहा कि उनके मोबाइल फोन से नक्सलियों को कॉल किए गए थे। इस पर आवेश में आकर विधायक निर्मला देवी ने पुलिस अधिकारी से कहा कि सत्य जानने के लिए वह उनके कार्यालय में फोन करें।

निर्मला देवी ने संवाददाताओं से कहा, “जिस तरह मेरे पति को फंसाया गया, उसी तरह राज्य पुलिस फर्जी मामलों में मुझे भी फंसाना चाहती है। मेरे पति पर अपराध नियंत्रण कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था, जिसे उच्च न्यायालय ने खारिज कर दिया था।”

विधायक निर्मला देवी के पति योगेंद्र साव मंत्री रह चुके हैं। 2014 में नक्सलियों के साथ संबंध उजागर होने पर साव को मंत्री पद छोड़ना पड़ा था और जेल भी जाना पड़ा था।

उधर झारखंड पुलिस ने विधायक को परेशान करने के आरोप को सिरे से खारिज किया है।पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “विधायक को फोन कर इसलिए पूछा गया था कि कहीं कोई दूसरा व्यक्ति उनका मोबाइल तो इस्तेमाल नहीं कर रहा है।

विधायक के मोबाइल फोन से कुछ कॉल नक्सलियों को किए गए थे। जांच चल रही है। अगर विधायक के फोन से नक्सलियों को कॉल किए जाने की पुष्टि हो गई तो समुचित कार्रवाई की जाएगी।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...