सोशल मीडिया के सहारे तेजस्वी का भाजपा पर करारा हमला

Share Button

राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी ने सोशल मीडिया के माध्यम से भाजपा पर तीखा हमला बोल रहे हैं। तेजस्वी ने भाजपा पर दूसरे राज्यों में बिहारियों के प्रति नीति को एक अहम मुद्दा बनाया है।

tejaswiतेजस्वी जिक्र करते हैं कि कभी भाजपा के झारखंड मुख्यमंत्री स्थानीय नीति बनाकर उत्तरप्रदेश व बिहार के लोगों को सरकारी नौकरी नहीं देने की बात कहते हैं तो कभी दिल्ली के भाजपा नेता विजय गोयल द्वारा बिहारियों को दिल्ली से बाहर भेजने की धमकी देते हैं। महाराष्ट्र में भाजपा एवं उसके सहयोगी दल तो साफ कहते हैं यूपी, बिहार के लोगों को महाराष्ट्र में नौकरी नहीं लेने देंगे। बिहारियों को हक दिलाने का वक्त आता है तो ये बिल में घुस जाते हैं।

गौरतलब हो कि राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने एक टीवी कार्यक्रम के दौरान कहा था कि मेरा बेटा तेजस्वी यादव महागठबंधन की जीत के बाद एक बड़ी भूमिका में दिखेगा। लालू की ये बात तेजस्वी की गतिविधियों और तेजी से सिद्ध भी हो रही है। सिर्फ सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने के लिहाज से देखें और विरोधी पार्टियों पर हमले करने के लिहाज से देखें तो पिछले कुछ दिनों में तेजस्वी काफी जोशीले दिख रहे हैं।

उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है कि केंद्र सरकार सत्ता के नशे में चूर एवं लोकतांत्रिक मर्यादाओं को भूल प्रत्येक मोर्चे पर विफल साबित हुई है। मोदी सरकार के शासनकाल में देश फिरकापरस्ती और मौका परस्ती की बुनियाद में बट चुका है। टीम इंडिया का थोथला नारा व झूठे राष्ट्रवाद का दंभ भरने वाली एवं जाति, धर्म, भाषा के नाम पर देश को तोड़ने एवं बांटने वाली इन ताकतों ने अब भारतीय संघीय व्यवस्था पर हमला कर दिया है।

महाराष्ट्र सरकार द्वारा हिंदी भाषी लोगों के साथ जो अन्याय किया जा रहा है उस पर लाल किले की प्राचीर से टीम इंडिया चिल्लाने वाले प्रधानमंत्री महोदय कुछ नहीं बोल रहे है। हिंदी भाषी विशेषकर बिहारी लोगों को बीजेपी की महाराष्ट्र सरकार प्रताड़ित कर रही है उस पर बिहार भाजपा के बड़बोले नेताओं को सांप सूंघ गया है। भाजपा को वोट नहीं देने पर जनता को पाकिस्तान भेजने की गीदड़ भभकी देने वाले गिरिराज सिंह इस मुद्दे पर कुंभकर्णी नींद सो जाते है, बिहारियों के हक़ की लड़ाई लड़ने का समय आता है तो ये बिल में घुस जाते है।

तेजस्वी ने कहा कि जब से हरियाणा में भाजपा की सरकार बनी,उन्होंने कहना शुरू कर दिया कि हरियाणा के सारे अपराधों के लिए बिहार यूपी के लोग दोषी है। हरियाणा के कृषि मंत्री ने कहा की हम बिहार से लड़की लायेंगे, अब झारखंड के मुख्यमंत्री कहते है की बिहार यूपी के लोगों को झारखण्ड में घुसने नहीं देंगे। भाजपाइयों की संकीर्ण नीतियों एवं मानसिकता के कारण हर गली-मौहल्ले में नफरत फैल रही है। यदि सब में आपसी प्यार-मोहब्बत नहीं होगा तो देश एक बार फिर से तबाह हो जायेगा। प्रधानमंत्री मोदी एवं उनकी पार्टी के लोग देश के सांस्कृतिक-धार्मिक ताने-बाने को तोड़ देश के सदियों पुराने उदार मूल्यों और विचारों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। ये भाजपाइयों क्या सोचते है बिहार के लोग इतने बेगैरत हैं कि भाजपा को बिहार की सत्ता में घुसने देंगे? सुशील मोदी या बदजुबानी के धनी गिरिराज सिंह का खून तब क्यों नहीं खौलता जब भाजपा के दूसरे राज्य इकाइयों के नेता उनकी जननी के खिलाफ़ ज़हर उगलते हैं? या फिर अपने आका को खुश करने के फेर में इनका खून पानी हो चुका है? मैं बिहार के करोड़ों युवाओं की तरफ से इन बड़बोले भाजपाइयों को आगाह करना चाहता हूँ कि हम बिहार को इनकी संकीर्ण राजनीति की नई प्रयोगशाला नहीं बनने देंगे। बिहार के राष्ट्रप्रेमी युवा भाजपा की विभाजक, राष्ट्रविरोधी, जनविरोधी एवं विध्वंसकारी नीतियों के प्रति आम जनमानस को जागृत कर इनकी धज्जियाँ उड़ा देंगे।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...