सोनिया ने मोदी से पूछा, क्या हुआ तेरा वादा

Share Button

sonia gandhiपटना के गांधी मैदान में बिहार महागठबंधन दल की ‘स्वाभिमान रैली’ में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला।

पटना रैली में सोनिया ने कहा कि “यह भूमि दुनिया भर में शांति का संदेश देती है। मैं जानती हूं कि बिहार की जनता हमेशा अपने आत्मसम्मान के लिए खड़ी होती है और रैली की भीड़ यह साबित भी कर रही है।‘

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव, जेडीयू अध्यक्ष शरद यादव की मौजूदगी में सोनिया ने कहा कि कुछ लोगों को बिहार को नीचा दिखाने में बहुत मजा आता है, कभी बिहार के डीएनए का मजाक उड़ाते हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा बिहार का सम्मान किया है और बिहार नीतीश जी के नेतृत्व में तेजी से विकास कर रहा है।

मोदी सरकार को किसान विरोधी बताते हुए सोनिया ने कहा कि देश की जनता के साथ-साथ, बिहार की जनता का विश्वास प्रधानमंत्री से उठ चुका है।

सोनिया ने पीएम से पूछा, ‘पीएम ने युवाओं को नौकरी देने का वादा किया था, उस वादे का क्या हुआ? व्यापम से लाखों युवाओं का भविष्य नष्ट हुआ है।’

सोनिया ने अर्थव्यवस्था का हवाला देते हुए कहा कि पीएम मोदी की गलत नीतियों की वजह से वह भी खराब होती जा रही है। पहले मोदी पाक मुद्दे को लेकर चुनौती देते थे लेकिन अब जब सीमा पर अस्थिरता है, पीएम की उससे निपटने की क्या पॉलिसी है?

उन्होंने अपना 56 इंच का सीना दिखाकर वादे किए थे, क्या आप उनके वादों पर विश्वास करेंगे।

Share Button

Relate Newss:

रघु'राज के लिए शर्मनाक है इस श्रवण कुमार की कठिन पेंशन यात्रा
देखिये, इस मामले में राजगीर नगर पंचायत पदाधिकारी की गीली हो रही पैंट!
खबर के बाद हरकत, मलमास मेला मोबाईल एप्प से अवैध जानकारी हटाने में जुटा प्रशासन
रिटायर्ड सिपाही का बेटा लेफ्टिनेंट बन नगरनौसा का नाम किया रौशन
बड़कागांव में रैयत-पुलिस भिड़ंत में 3 की मौत, दर्जनों घायलः परंपरागत हथियार ले सड़क पर उतरे लोग
मंत्री की टिप्पणी पर हाय तौबा मचाने वाले, इस आंचलिक पत्रकार की सुध कौन लेगा?
मीडिया के विजय माल्या यानी महुआ चैनल के पीके तिवारी की 112 करोड की सम्पति जब्त
जानिए विंग कमांडर अभिनंदन की रिहाई की अलग कहानी, संतोष भारतीय की जुबानी
पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने लिखा- भाजपा को राजनीति का ककहरा सिखा दिया बिहार के जनादेश ने
हिरासत में मौतें: बिहार ने सुधारी अपनी छवि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...