सुनीति रंजन दास: रामबिलास पासवान संपोषित एक गुंडा !

Share Button

राजनामा.कॉम (मुकेश भारतीय)। पिछले कई दिनों से मेरे फेसबुक टाइमलाइन पर मित्र Vijay Deo Jha की पोस्ट टैग हो रही थी। Vijay Deo Jha अंग्रेजी दैनिक द टेलीग्राफ के झारखंड से रिपोर्टर हैं। इस संबंध में उनसे फोन पर लंबी बातचीत भी हुई। दरभंगा के मित्रों से भी जानकारी जुटाई।

suniti_ljpसच पुछिये तो सारे स्रोतों से जिस प्रकार की सूचनाएं मिली है, वह अंदर तक झकझोर जाती है और मन-मस्तिष्क में एक यक्ष प्रश्न अन्यास फूट पड़ता है कि आखिर बिहार की राजनीति के अपराधीकरण में कब बदलाब आयेगी।?

यहां किसी भी दल को देखिए, अपराधियों का भरण-पोषण करती दिखेगी। कोई भी दल समाज के ऐसे राजनैतिक गुंडों के खिलाफ मुखर नजर नहीं आती है।

सुशासन,सुशासन और सुशासन के ढिंढोंरे पीटने वाले दल और उसके मुखिया की बात तो और भी निराली है। लगता है कि उनके खर्चा-पानी का इंतजाम समाज के गुंडों से लेवी वसूले वगैर चल ही नहीं सकती।

बहरहाल, हम बात करते हैं बिहार की राजनीति और अपराध की दुनिया में तेजी से उभरते दरभंगा के लोजपा नेता सुनीति रंजन दास की। दास को पार्टी सुप्रीमों एवं केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान का इतना खुला सरंक्षण प्राप्त है कि वह उन्हें पिताजी से संबोधित करता है।

सुनीति रंजन दास की अपराधिक दबंगता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि नीतिश सरकार के पुलिस-प्रशासन के आला लोग भी उसके तलवे चाटते हैं। उसका दूर-दूर तक कोई कुछ भी उखाड़ने वाला नहीं दिख रहा है।

राजनामा.कॉम सुनीति रंजन दास को लेकर कई खुलासे करने जा रही है। इसका उद्देश्य मात्र यही है कि या तो वह स्वंय का सामाजिक आयना देख कर वाल्मिकी का स्वरूप धारण कर ले या फिर उसे कानून की खान में जिंदा दफन कर दिया जाये।

Vijay Deo Jha ने सुनीति रंजन दास के काले कारनामें से पीड़ित होकर अपनी फेसबुक वाल पर कई पोस्ट लिखे हैं। राजनामा.कॉम पर उसमें कुछ अहम पोस्ट को निचे प्रस्तुत कर रही है…………  
Vijay Deo Jha, 
Yesterday at 4:30pm ·

suniti_paswanजनता चुनाव के वक़्त अपना औकात दिखाती है. बांकी टाइम चार सौ बीस टाइप राजनितिक लबाड़िये, दलाल, माफिया लोग जनता की ऐसी की तैसी करते हैं.

बिहार में चुनाव होंगें रामविलास पासवानजी वोट मांगने आयेंगें। और तब पासवानजी से लोग पूछेंगें की आपके साथ तस्वीर बायीं तरफ दिख रहा यह दाढ़ी मार्का नवटोलिया (दरभंगा) का यह छँटा हुआ शरीफ सुनीति रंजन दास कौन है जिसकी पहचान जमीन माफिया और सभी गैर क़ानूनी धंधे के लिए होती है. पासवानजी लोग आपसे पूछेंगें की अपने गंदे कामों को लिगलाइज़ करने के लिए आपको सुनीति कितना चंदा देता है.
Vijay Deo Jha, 
May 20 at 9:15am ·

आईये आज आपको लोजपा के इस महान विचारक, पथ प्रदर्शक जमीन से जुड़े सुनीति रंजन दास की कथा सुनाएँ। दिल थाम कर सुनिए।

बाल्यकाल काल में भगवान कृष्ण से प्रभावित थे. कृष्ण माखन चुराते थे तो सुनीति लोगों की मुर्गी इसलिए नवटोलिया मोहल्ले के लोग इन्हें चिकेन चोर कहते थे.

इनकी वयस्क लीला चिकेन लीला से भी बड़ी है, ये पलक झपकते ही लोगों की जमीन गायब कर देते हैं. बहुत लीलाधारी हैं

Vijay Deo Jha, May 4 ·

sunitiये हैं सुनीति रंजन दास खुद को सामाजिक कार्यकर्ता कहलना पसंद करते हैं. जमीन दलाली और हड़प अभियान के द्वारा शांतिपूर्ण जीवन यापन करते हैं.

आजकल ये भूमि अधिग्रहण कानून के विशेषज्ञ बने हैं सो दरभंगा (बिहार) के बहादुरपुर थाने के नवटोलिया इलाके की हमारी पुस्तैनी खतियानी जमीन पर कब्ज़ा कर रहे हैं.

कहते हैं की उनकी बहुत ऊँची पकड़ है सो सबूत के तौर पर रामविलास पासवान और पारस पासवान के साथ अपने फोटो दिखाते हैं. वैसे ये भीड़ में घुस कर फोटो खिचवाने में उस्ताद हैं.

कहते हैं की ये लोक जनशक्ति पार्टी के जिला सचिव हैं और पासवानजी के रिस्तेदार। पर उनकी सांसद के सांसद पारस जी के अनुसार सुनीति को उसकी भू माफिया और अपराधिक चरित्र के कारण पार्टी के पद से कभी का हटा दिया गया था और न ही वे उनके रिस्तेदार हैं. दो बात चुनाव लड़ चुके हैं लेकिन जमानत नहीं बचा पाये। पिछले दो सालों से मेरे परिवार को धमकी दे रहे हैं.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...