समाज के लिए खतरा है ऐसे वेबसाइट-पत्रकार

Share Button
Read Time:3 Minute, 4 Second

कल मैंने मीडिया की हलचलों और उससे जुड़े राजनीतिक सुर्खियों की खबर देने वाली वेबसाइट  http://bhadas4media.com/  की एक खबर पर नजर गई तो मैं चौंक पड़ा। वह खबर ही ऐसी ही थी। 

bhadasखबर थी कि देश की प्रथम आइपीएस महिला दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा की सीएम पद की उम्मीदवार किरण बेदी नहीं, बल्कि पंजाब की सुरजीत कौर थी, जिनकी मौत एक सड़क हादसे में हो गई थी।

इस खबर को वरिष्ठ पत्रकार संजय कुमार सिंह के फेसबुक वाल से साभार प्रकाशित की गई है। इस खबर का लेखन और प्रस्तुति इतने रोचक ढंग से की गई है कि कोई सहज अविश्वास नहीं कर सकता (देखें लिंकः ) । 

लेकिन इस खबर के तत्थों को  लेकर जब मैंने अपने फेसबुक वाल पर सबालिया लहजे में एक पोस्ट किया तो उसके नतीजे जिस तरह से सामने आए, वे अधिक चौंकाने वाले निकले। खबर के तत्थ   http://www.fodey.com नामक वेबसाइट से फर्जी तौर पर जुटाए गए प्रतीत हुए। 

faduजाहिर है कि खुद को कथित वरिष्ठ पत्रकार की श्रेणी से विभूषित करने वाले संजय कुमार सिंह ने यह खबर फर्जी तौर पर किसी को फायदा और किसी को नुकसान करने के लिए गढ़ी है। इस लिंक पर जाकर कोई भी यूजर ऐसी भ्रामक खबरें गढ़ सकता हैः http://www.fodey.com/generators/newspaper/snippet.asp। 

अगर संजय कुमार सिंह या भड़ास  के पास किरण बेदी के प्रथम आइपीएस न होने और सड़क हादसे के शिकार सुरजीत कौर की बाबत कोई प्रमाणिक जानकारी है तो उसे सार्वजनिक करनी चाहिये या फिर समाज देश से माफी मांगनी चाहिये। व्यवस्था को भी चाहिए कि ऐसे लोगों की पड़ताल कर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करे ताकि कोई अफवाह या भ्रम का महौल उत्पन्न करने का दुःसाहस न कर सके।

सबसे बड़ी बात कि भड़ास के संचालक-संपादक यशवंत सिंह एक सुलझे हुए धारदार पत्रकार माने जाते हैं। हाल के दिनों में उनकी चर्चित साइट की सूचनाओं में वो दम नहीं दिखता है, जैसा कि पहले दिखता था। गली-मोहल्लों में चल रही न्यूज चैनलों जैसी उत्तेजक और मनगढ़ंत खबरों की बहुलता दिख रही है। यशवंत जी को सलाह देने की हिमाकत तो नहीं कर सकते लेकिन गुजारिश जरुर कर सकते हैं कि वे भ्रम फैलाने वाले सूचकों से परहेज करें।  … मुकेश भारतीय

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

JAJ का 'सनकी' प्रदेश अध्यक्ष फिर सुर्खियों में, जमशेदपुर जिलाध्यक्ष ने चटाई धूल
ईमेल आइडी तक विहीन सुदेश महतो का सोशल साइट पर तूती!
व्यवसायी को अपराधी बना रही है ओरमांझी पुलिस
फेसबुक के बजाय जमीन पर काम करें मोदी : अखिलेश
पाक की पीएम बनना चाहती है मलाला, टीटीपी ने दी धमकी
भारतीय होने पर नाज, नहीं चाहिए किसी से देशभक्ति का सर्टिफिकेट :आमिर खान
सीएम रघुवर दास के बेटे के कथित 'SEX AUDIO' -1
पीएम के ‘मन की बात' के जवाब में राजद का ‘काम की बात' !
यह कैसी आजादी है,जिसमें विरोध की भी इजाजत नहीं है !
जांच कमिटि की रिपोर्ट में खुलासा, पूर्व प्रबंधक की सांठगांठ से हुआ लाखों का खेला
भारत में बिना वेतन काम करेगें 'ग्रीनपीस इंडिया' कर्मी !
यूपी में पत्रकार जगेन्द्र की हत्या पर केंद्र व राज्य सरकार को नोटिस
रांची नगर निगमः 2 मिनट में 920 करोड़ का बजट पास !
अमृता के डांस कांसेप्ट से वेडिंग और कार्पोरेट इवेंट्स में मस्ती का डबल डोज
पत्रकार प्रताड़ना को लेकर यूं मुखर हुए पूर्व विधायक अनंत राम टुडू
प्रेस क्लब रांची के नवांतुकों पर अतीत से सीख भविष्य संवारने की बड़ी जिम्मेवारी
अजीत डोभाल का इंटरव्यू से इन्कार, भास्कर डॉट कॉम पर जारी ऑडियो क्लिप अस्पष्ट
बांका डीएम ने हिन्दुस्तान रिपोर्टर के दफ्तरों में प्रवेश पर लगाई रोक !
एक आरटीआई एक्टिविस्ट ने हिला डाली सुशासन बाबू की चूल !
सीबीआई और न्यायालय पर भारी, एक आयकर अधिकारी !
गुजरात की कीमत पर बिहार की जीत नहीं चाहती है आरएसएस! बहाना या सच ?
प्रायः बड़े नेताओं के करीबी है मुजफ्फरपुर का महापापी ब्रजेश ठाकुर
भास्कर के 'पेड न्यूज़' को लेकर झाविमो हुआ तल्ख
झारखंड जर्नलिस्ट एशोसिएशन के अध्यक्ष पर सचिव ने लगाये गंभीर आरोप
नारायण..नारायण, फेसबुक पर आये हरिनारायण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...