सफायर इंटरनेशल स्कूल के छात्र विनय की हत्या का आश्चर्यजनक खुलासा

Share Button

safire international school

रांची के सफायर इंटरनेशल स्कूल के छात्र विनय महतो  के मौत की गुत्थी सुलझ गयी है. रांची पुलिस  ने इस मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पूरी जानकारी दी.

रांची के एसएसपी कुलदीप द्विवेदी ने कहा कि नज्मा, उनके पति और उनके दोनों बच्चों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया, ‘फॉरेंसिक एक्सपर्ट द्वारा की गई जांच के दौरान मिले सबूतों के आधार पर ये गिरफ्तारियां की गई हैं।’

इस पूरी घटना में विनय की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसकी शिक्षिका की बेटी के साथ गहरी दोस्ती थी जिसे शिक्षिका नाजिया हुसैन और उसके घर वाले नापसंद करते थे और इसी के कारण नाजिया हुसैन के बेटे ने विनय की हत्या कर दी. 

शिक्षिका नाजिया हुसैन की बेटे ने विनय को रात के 12 बजे अपने घर पर बुलाया. उसने कहा, आज मां ने सोया चिल्ली बनाने का प्लान बनाया है तुम रात को मेरे घर आना उसने बताया कि उसकी बहन और मां दोनों साथ होंगे.

विनय को नाजिया के बेटे ने यह भी कहा कि ध्यान रहे कि तुम्हें आते हुए कोई देख ना ले इसलिए सावधानी से आना. विनय रात के तकरीबन 1 बजे अपने हास्टल से शिक्षक नाजिया हुसैन के घर के लिए निकला.

रात को जब वह शिक्षिका के घर पहुंचा तो उसका बेटा पहले से इंतजार में था. 

विनय के घर पहुंचने के बाद शिक्षिका के बेटे ने  अपनी बहन से उसके रिश्ते को लेकर बात छेड़ी और दोनों के बीच हाथापाई शुरू हो गयी.

विनय ने जब वहां से भागने की कोशिश की तो उसे पीछे से पकड़ लिया और उसकी पेट पर मुक्के मारे साथ ही उसका सिर उनसे दिवार में पटक दिया जिससे बहुत ज्यादा खुन निकलने लगा.

शिक्षिका के बेटे को लगा कि विनय की मौत हो गयी. शिक्षिका और उसकी बेटी अपने कमरे में सो रहे थे आवाज सुनकर जब वह जागे तो उन्होंने देखा कि विनय खुन से लथपथ फर्स पर पड़ा है.

न्होंने विनय को कॉरिडॉर से बाहर ले जाकर नीचे फेंक दिया. उसके बाद शिक्षिका और उनके बेटे ने अपने घर में लगा खुन साफ कर दिया.आर्ट टीचर की नजर उसके फेंके जाने के 20 मिनट बाद पड़ी.

शिक्षक ने फ्लैट में मौजुद लोगों को जगाया और पूरे घटना की सूचना पुलिस को दी गयी. घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने डॉग स्क्वायड और पूरी टीम के साथ घटना की जांच की गयी.

विनय को सबसे पहले गुरूनानक अस्पताल में भरती कराया गया जिसके बाद उसे रिम्स रेफर कर दिया गया. रास्ते में ही विनय की मौत हो गयी. रिस्म में ही उसका पोस्टमार्टम किया गया.

शिक्षिका नाजिया हुसैन और उसका परिवार विनय और उसकी बेटी के रिश्तों को लेकर नाराज था और मौके की ताक में था.

विनय की हत्या करने के बाद शिक्षिका के बेटे ने फोन पर अपने पिता को इसकी जानकारी दी पिता ने भी उन्हें सलाह दिया कि सबूत पूरी तरह मिटा दो ताकि किसी को शक ना हो.

जांच टीम ने आसपास रहने वाले लोगों से सघन पूछताछ की. सीसीटीवी फुटेज ने भी जांच में मदद की जिसमें विनय रात को बाहर जाता हुआ दिख रहा था.

इस फुटेज से साफ हो गया कि घटना को प्रथम तल्ले पर ही अंजाम  दिया गया है जिसके बाद इसी पर ध्यान केंद्रीत करके पुलिस ने जांच शुरू की सबसे अलग – अलग पूछताछ हुई.

इस पूछताछ से नाजिया हुसैन और उसके परिवार वाले टूट गये और घटना में अपनी संलिप्ता स्वीकार कर ली.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *