सड़क हादसे के बाद भड़की हिंसा में थाना प्रभारी समेत दो की मौत, दर्जनों घायल

Share Button

bihar_lalganj_police (1)सड़क हादसे में मौत के बाद हाजीपुर के लालगंज में संप्रदायिक हिंसा भड़क गई है। मामले को शांत करने पहुंची पुलिस के साथ लोगों की हुए पथराव में घायल थाना प्रभारी अजीत कुमार समेत दो की मौत हो गई है। पुलिस की ओर से मामले को शांत करने के लिए 100 राउंड से ज्यादा फायरिंग की गई है। इसमें दर्जनों लोग गंभीर रुप से घायल हो गए हैं।

सीएम ने मामले को गंभीरता को देखते हुए अपनी रांची दौरा रद्द कर दिया है। वे उच्च स्तरीय बैठक कर मामले को शीघ्र निपटाने का निर्देश जारी किया है।

घटना स्थल पर पुलिस के सारे वरीय अधिकारी कैंप कर रहे हैं। लेकिन अभी भी तनाव व्याप्त है। ग्रामीणों के आक्रोश के कारण पुलिस गांव में प्रवेश नहीं कर पा रही है।

bihar_lalganj_police (3)मंगलवार को एक अनियंत्रित कार राजेंद्र चौधरी के घर में प्रवेश कर गई। इससे राजेंद्र चौधरी और उनकी पोती की मौत हो गई थी। इसको लेकर यहां रहने वाले दो समुदाय के लोग आमने सामने हो गए थे।

आज सुबह छठ का अर्घ्य देने के बाद हादसे में मरे लोगों के परिवार के लोगों ने कार चालक के घर जाकर उसके साथ मारपीट करने लगे। इससे नाराज होकर उसके समर्थक आक्रोशित प्रभावित परिवार के लोगों के साथ मारपीट करने लगे।

इससे मामला बिगड़ गया। प्रभावित परिवार के साथ आए लोगों इस पर भड़क गए और करीब दो दर्जन से ज्यादा घरों में आग लगा दी।

bihar_lalganj_police (4)इसके बाद से मामला बिगड़ता ही चला गया। मामले को शांत करने के लिए पुलिस की ओर से 100 राउंड गोली चलाई गई है। लेकिन मामला शांत होने का नाम नहीं ले रहा है।

ग्रामीणों ने बेलसर थाना प्रभारी को पकड़कर जमकर पिटाई कर दी है, इससे इलाज के क्रम में उनकी मौत हो गई है।

मामले को नियंत्रित करने के लिए आस पास की पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंच गई। लेकिन आक्रोशित लोगों ने इनपर भी हमला कर दिया।

पुलिस की ओर से मामले को शांत करने के लिए हवा फायरिंग की गई तो आक्रोशित लोगों ने पुलिस पर पथराव कर इन्हें घटनास्थल से खदेड़ दिया है।

पुलिस फिलहाल लालगंज थाना में कैंप कर रही है। पुलिस फायरिंग में अभी तक 8 लोग जख्मी हो गए हैं। इसमें तीन पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। तनाव को देखते हुए आस पास के थाने की पुलिस को भी बुला लिया गया है। वरीय पुलिस अधिकारी भी घटनास्थल पर कैंप कर रहे हैं।

क्या है मामला

bihar_lalganj_police (5)लालगंज थाना क्षेत्र के अगरपुर जीए स्कूल के पास मंगलवार की दोपहर एक अनियंत्रित कार राजेंद्र शर्मा के घर में घुस गई। इसमें 65 वर्षीय राजेंद्र चौधरी और उसकी छह माह की पोती की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी।

राजेंद्र लालगंज थाने के अगरपुर गांव का ही रहने वाला था। सूचना मिलने पर पास में ही रहने वाले कार चालक और उसके मालिक के घर पर जाकर प्रभावित परिवार के लोगों की ओर से हंगामा किया जाने लगा।

मंगलवार को तो पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर मामले को किसी प्रकार से शांत करा दिया। लेकिन बुधवार की सुबह सूर्य को अर्ध्य देने के बाद आक्रोशित लोग कार चालक के घर पर हमला उसकी पिटाई करने लगे।

इसका उसके समुदाय विशेष लोगों ने जब विरोध किया तो आक्रोशित लोगों ने उनके आस पास में बने घरों को जलाकर राख कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पर पहुंची।

लेकिन आक्रोशित लोगों ने उसे खदेड़ दिया। फिर दल बल के साथ पुलिस दल गांव में जब प्रवेश की तो लोगों ने उसपर पथराव कर उसे फिर भगा दिया है। मामले को शांत करने के लिए अभी तक पुलिस की ओर से 100 राउंड फायरिंग की गई है।

पुलिस फायरिंग में एक पांच वर्षीय बच्चे समेत आठ लोगों के जख्मी होने की सूचना है। इसमें तीन पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। पथराव में घायल हुए बेलसर ओपी के थाना प्रभारी का इलाज के दौरान मौत हो गई है।

सीएम ने दिए निर्देश

nitish_biharसीएम नीतीश कुमार ने मामले की सूचना मिलने पर आनन फानन में अपना रांची का कार्यक्रम स्थगित कर सीएस, गृह सचिव और डीजीपी के साथ बैठक कर मामले की समीक्षा की और सख्त कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए।

सीएम के निर्देश पर पटना से वरीय अधिकारी और रैफ, बीएमपी समेत अन्य पारा मलेट्री फोर्स लालगंज के लिए रवाना हो गई है।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...