श्रीराम पर केस के बाद अब उनके भक्त हनुमान को भेजा नोटिस

Share Button

hanuman

सीतामढ़ी में श्रीराम के खिलाफ केस के बाद अब बेगूसराय में उनके प्रिय भक्त बजरंग बली को नोटिस देने का मामला सामने आया है.

 बेगूसराय के लोहिया नगर स्थित बजरंग बली के मंदिर को अतिक्रमण के क्षेत्र में घोषित करते हुए एक अधिकारी ने इस मामले में भगवान को नोटिस जारी कर दिया है.

इलाके के सीओ निरंजन कुमार ने इस मामले में मंदिर हटाने का नोटिस पुजारी के बजाय बजरंग बली को भेज दिया है जिससे भक्तों में काफी रोष है.

मामला लोहियानगर मोहल्ले का है जहां बजरंग बली की प्रतिमा स्थापित कर लोग वर्षों से पूजा कर रहे है लेकिन वहां ओवरब्रिज बनने के बाद उसके बगल से बनने वाली सड़क के बीच में यह मंदिर आ रहा था जिससे हटाना जरूरी है.

मामले पर विरोध जताते हुए बजंरग दल के कार्यकर्ताओं ने हंगामा किया और सीओ के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है.

उनका कहना है कि मंदिर को सम्मानपूर्वक जगह देकर हटाना चाहिए.

पूरे मामले में दिलचस्प बात यह है कि बजरंग बली से जारी नोटिस को किसी व्यक्ति से रिसिव भी कर लिया है.

सीओ का कहना है कि गलती हुई है और इसकी जांच कराई जा रही है.

सीओ के मार्फत बजरंग बली को नोटिस देने पर इस विषय पर पूरे इलाके में चर्चा जोरों पर है

गौरतलब है कि इसी तरह सीतामढ़ी के एक वकील ने भगवान श्रीराम पर माता सीता को उत्पीड़ित करने का केस दर्ज कराने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था जिसे बाद में कोर्ट से खारिज यह कह कर कर दिया कि त्रेतायुग की घटना के लिए आप किसे दोषी बनाएंगे.

Share Button

Relate Newss:

हाय री नालंदा की मीडिया, भ्रष्ट्राचार के विस्फोटक न्यूज को यूं पचा गये!
सुशासन बाबू के कुशासित नालंदा में यूं 'कैद' हुआ जमशेदपुर का टीवी रिपोर्टर
..और ऐसे ‘पौर’ विहीन हुआ गया नगर निगम
सोशल मीडिया का यह वायरस मांगता है फिरौती
नालंदा में मिली 1500 साल पुराना एक प्राचीन विश्वविद्यालय के अवशेष
दैनिक जागरण के इस इंटरनल मेल ने खोली मीडिया की यूं कलई
हर हथकंडे अपना रहे हैं यौन शोषण का आरोपी सुदर्शन न्यूज के सुरेश चह्वाणके
रिपोर्टिंग के दौरान ट्रॉमा के ख़तरे से बचने के लिए कुछ परामर्श
ब्लैक लिस्टेड 'राष्ट्रीया' ही नाम बदल कर रहा सीएम रघुवर की 'फ्रॉड ब्रांडिंग'
यहां टेंडर मैनेज कराने वाले सीएम क्या रोकेगें भ्रष्टाचार : बाबू लाल मरांडी
Loading...