विवादों-सुर्खियों के बीच पुलिस-प्रशासन11 ने पत्रकार11 को रौंदा

Share Button

सरायकेला-खरसावां जिला इन दिनों काफी विवादों-सुर्खियों में है और जब तक ऐसे चर्चित मामलों का निपटारा ना हो जाए अन्य क्षेत्रों के पत्रकारों के लिए ऐसे आयोजन ठेस पहुंचाने वाले हो सकते हैं। हालांकि पूरे जिले में और भी जिला से लेकर अंचल स्तरीय पत्रकार निवास करते हैं, उनके लिए भी इस तरह के आयोजन जिला प्रशासन और उद्यमियों एवं नेताओं को कराया जाना चाहिए ताकि उनका भी मनोबल बढ़ता रहे….”

राजनामा.कॉम। एक ओर जहां सरायकेला खरसावां जिले में चर्चित मुखिया-पत्रकार प्रकरण और थाने में नाबालिग की शादी इन दिनों सुर्खियों में है और सरायकेला के कुछ पत्रकार के साथ-साथ पुलिस प्रशासन की भूमिका कटघरे में है, वहीं दूसरी ओर इसी जिले के आदित्यपुर  NIT मैदान में आज पुलिस प्रशासन इलेवन बनाम पत्रकार इलेवन के बीच दोस्ताना मैच खेला गया।

इस मैच में पुलिस प्रशासन 11 की टीम ने पत्रकार इलेवन की टीम को बुरी तरह से रौंदकर  ट्रॉफी पर कब्जा किया। वैसे सरायकेला थाना प्रभारी अविनाश कुमार की तूफानी बल्लेबाजी ने  आदित्यपुर के पत्रकारों को चारों खाने चित करते हुए 6 विकेट से  जीत दर्ज की।

इससे पहले  पत्रकार इलेवन की टीम ने 15 ओवरों  में 125 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया  था,  लेकिन  सरायकेला थाना प्रभारी अविनाश कुमार  द्वारा बनाए गए नाबाद 65 रन की पारी ने पत्रकार इलेवन  को  ट्रॉफी पर कब्जा करने से वंचित रखा।

हालांकि प्रशासन इलेवन  की ओर से उपायुक्त छवि रंजन ने  काफी समझदारी भरी पारी खेली। इधर पत्रकार इलेवन की ओर से  हिंदुस्तान के रिपोर्टर रणधीर कुमार राणा ने तीन विकेट लिए।

पत्रकार इलेवन की ओर से  प्रेस क्लब ऑफ आदित्यपुर के कथित अध्यक्ष  प्रभात खबर के प्रियरंजन  कप्तान की भूमिका में थे। जबकि  रणधीर कुमार राणा  उप कप्तान की भूमिका में थे। जमशेदपुर को-ऑपरेटिव कॉलेज के कर्मचारी सह दैनिक जागरण के पत्रकार  चंदन झा  टीम मैनेजर  की भूमिका में नजर आए। 

हालांकि  मैदान पर बल्लेबाजी में भी उन्होंने अपना जौहर दिखाया। वहीं पत्रकार इलेवन को अपना टीम पूरा करने के लिए बोरो की सहायता लेनी पड़ी। इसके लिए इनकी ओर से बैजू को मैदान में उतारा गया। बैजू राष्ट्रीय जनता दल का कार्यकर्ता है, उसे भी इन पत्रकारों ने पत्रकार बना दिया।

पुलिस प्रशासन 11 की ओर से उपायुक्त छवि रंजन के अलावे जिले के पुलिस कप्तान चंदन कुमार सिन्हा, एसडीपीओ अविनाश कुमार, गम्हरिया थाना प्रभारी जय प्रकाश राणा, आदित्यपुर थाना प्रभारी विजय कुमार सिंह, कपाली थाना प्रभारी वीरेंद्र पासवान, मौजूद रहे एवं लगभग सभी थाना प्रभारियों ने अपने- अपने जौहर दिखाए।

इतना ही नहीं आदित्यपुर नगर निगम की ओर से सभी पार्षदों को चिट्ठी जारी कर उक्त मैच को सफल बनाने का फरमान भी जारी किया गया था। हालांकि मैच में बतौर मुख्य अतिथि मेयर विनोद कुमार श्रीवास्तव ने मैच समाप्ति पर शिरकत की। मेयर एवं डिप्टी मेयर अमित सिंह ने ट्रॉफी देकर प्रतिभागियों को सम्मानित भी किया।

वैसे सूत्रों की अगर माने तो मैच के लिए लगभग 30 हजार की फंडिंग उद्यमी, नेता और बिल्डर की ओर से की गई थी। हालांकि जिला पुलिस प्रशासन और पत्रकारों के बीच मैच के आयोजन से दोनों को मानसिक और शारीरिक लाभ जरूर हुआ होगा, लेकिन ऐसे समय में जब जिले का एक पत्रकार और एक थाना विवादों में है, ऐसे में इस तरह के आयोजनों से तो यही समझा जाएगा कि रोम में आग लगी थी और पोप बंसी बजा रहा था।

एक बात और चर्चा में रही। आदित्यपुर प्रेस क्लब को आज जिला प्रशासन ने मान्यता देते हुए उपायुक्त छवि रंजन और एसपी चंदन कुमार सिन्हा ने पत्रकारों के बीच आईडेंटिटी कार्ड का वितरण संयुक्त रूप से की

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...