लोकसभा में उठा ‘सूखा’ के साथ फिल्म ‘पद्मावती’ का मुद्दा

Share Button

नयी दिल्ली। लोकसभा में आज कांग्रेस के आर ध्रुवनारायण ने कर्नाटक में विभिन्न क्षेत्रों में सूखे की स्थिति का मुद्दा उठाया और सरकार से मंजूरी राशि को तत्काल राज्य को जारी करने की मांग की।

सरकार ने कहा कि 1782 करोड़ रपये की स्वीकृत राशि जल्द जारी की जाएगी।

शून्यकाल में आर ध्रुवनारायण ने इस विषय को उठाते हुए कहा कि राज्य के अधिकांश प्रखंडों में सूखे की स्थिति है। केंद्र सरकार ने सहायता के तौर पर राशि मंजूर की है लेकिन अभी तक जारी नहीं की गयी है।

इस पर केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बताया कि राज्य के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर ज्ञापन दिया था।

कर्नाटक से सांसद कुमार ने कहा कि राज्य के लिए 1782 करोड़ रपये की राशि आवंटित की गयी जिसे जल्द जारी किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्य आपदा मोचन कोष (एसडीआरएफ) की बाकी राशि दी जा चुकी है।

शून्यकाल में ही भाजपा के पुष्पेंद्र सिंह चंदेल ने बुंलेदखंड में किसानों की समस्या को और इसी पार्टी के श्यामा चरण गुप्ता ने अपने संसदीय क्षेत्र इलाहाबाद में खेती और सिंचाई संबंधी मुद्दे को उठाया।

भाजपा सांसद ओम बिड़ला ने कोटा क्षेत्र में लहसुन के अधिक उत्पादन की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए मांग की कि लहसुन के निर्यात की व्यवस्था की जानी चाहिए ताकि इसके दाम कम नहीं हों।

सत्तारूढ़ दल के ही बोधसिंह भगत ने बालाघाट सिवनी क्षेत्र की रेल से संबंधित समस्याओं को उठाया।

भाजपा के रामटहल चौधरी ने पिछले साल दिसंबर में रांची में एक इंजीनियरिंग छात्रा के साथ दुष्कर्म और उसे जलाकर मारे जाने के मुद्दे को उठाया और इस मामले की जांच को तेज कर कार्रवाई की मांग की।

कांग्रेस के के सी वेणुगोपाल ने केरल में शिक्षण संस्थानों में छात्राओं की सुरक्षा का मुद्दा उठाया।

भाजपा के शरद त्रिपाठी ने अपने क्षेत्र में इलाहाबाद बैंक में ग्राहकों हो रही दिक्कतों को उठाया।

भाजपा की किरण खेर ने मांग की कि पंजाब और हरियाणा की नौकरियों में चंडीगढ़ के अभ्यर्थियों से निवास प्रमाण पत्र मांगने का चलन बंद होना चाहिए।

लोकसभा में उठा फिल्म ‘पद्मावती’ का मुद्दा

लोकसभा में आज भाजपा के एक सदस्य ने फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली की आने वाली एक फिल्म में रानी पद्मावती को गलत तरह से पेश किये जाने का आरोप लगाते हुए इस मामले में कार्रवाई की मांग की।

चित्तौढ़गढ़ से भाजपा के सांसद सी पी जोशी ने शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए कहा कि कुछ लोग अपनी ख्याति के लिए ऐतिहासिक तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश करते हैं और ऐसा ही आने वाली फिल्म ‘पद्मावती’ में किया जा रहा है।

उन्होंने आरोप लगाया कि इस फिल्म में रानी पद्मावती का गलत चित्रण किया जा रहा है और उन्हें प्रेमिका के तौर पर दिखाया जा रहा है जिन्होंने 16000 रानियों के साथ जौहर किया था।

जोशी ने इस मामले में कार्रवाई की मांग की।

गौरतलब है कि पिछले दिनों जयपुर में ‘पद्मावती’ की शूटिंग के दौरान तथ्यों को तोड़ मरोड़ कर पेश करने का आरोप लगाते हुए एक संगठन के लोगों ने फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली के साथ बदसलूकी की थी जिसके बाद उन्होंने फिल्म की शूटिंग बंद कर दी थी।

शून्यकाल में ही अकाली दल के पी एस चंदूमाजरा ने कहा कि पहले राष्ट्रीय राजधानी से आकाशवाणी पर क्षेत्रीय भाषाओं में समाचार बुलेटिन प्रसारित किये जाते थे लेकिन अब प्रसार भारती ने क्षेत्रीय भाषाओं के बुलेटिन को राष्ट्रीय राजधानी से प्रदेशों की राजधानी में स्थानांतरित कर दिया है जो अनुचित है।

उन्होंने कहा कि देश के पहले सूचना प्रसारण मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देश की एकता के प्रतीक के तौर पर राष्ट्रीय राजधानी से क्षेत्रीय भाषाओं में भी बुलेटिन शुरू किया था।

अकाली सदस्य ने मांग की कि प्रसार भारती के इस फैसले को वापस लिया जाना चाहिए।

राकांपा के धनंजय महाडिक ने कहा कि पिछले दिनों महाराष्ट्र में मराठा समाज आरक्षण की मांग को लेकर शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहा है। उन्होंने राज्य में नौकरियों, स्कूलों में दाखिलों में मराठा समुदाय के लोगों को आरक्षण दिये जाने की मांग की।

शून्यकाल में ही इनेलोद के दुष्यंत सिंह चौटाला ने आरोप लगाया कि पिछले साल फरवरी में हरियाणा में हुए जाट आंदोलन के दौरान पुलिस कार्रवाई में 31 लोगों की कथित मौत के मामले में सीबीआई जांच का आश्वासन दिया गया था लेकिन अभी तक जांच शुरू नहीं की गयी और सरकार को इस मामले में सीबीआई जांच का आश्वासन देना चाहिए।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...