रीगा विधायक के भाई की है सेलीब्रेट लेडीज मनीषा के साथ बरामद पेजेरो कार

Share Button
  • अमित सिंह उर्फ ‘टुन्ना जी’ हैं  रीगा के एमएलए

  • बड़े भाई उदय प्रताप सिंह हैं रांची के बड़े ठेकेदार

  • विधायक ने सफाई दी, पहले ही गाड़ी बिक चुकी है

पटना (विनायक विजेता)। पटना के राजीव नगर स्थित ‘आश्रय शेल्टर होम’ की संचालिका एवं सेलीब्रेट लेडीज मानी जाने वाली मनीषा दयाल को काले रंग की जिस अत्याधुनिक पजेरो के साथ दबोचा गया है, वह पजेरो एक कांग्रेस विधायक के बड़े भाई के नाम पर सीतामढ़ी डीटीओ में रजिस्टर्ड है।

रीगा के विधायक  अमित कुमार उर्फ टुन्ना जी फिलवक्त रीगा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक हैं। उनके बड़े भाई उदय प्रताप बिहार और रांची के बड़े ठेकेदार माने जाते हैं।

आज सोमवार को जब उस गाड़ी और उसके रजिस्ट्रेशन नंबर की गहराई से छानबीन शुरु की तो यह सनसनीखेज खुलासा हुआ कि जिस वीबाईपी नंबर की पजेरो (बीआर-30ई 0001) को मनीषा के साथ पकड़ा गया और जिस गाड़ी पर उसे बिठाकर थाने लाया गया, वह गाड़ी रीगा कांग्रेस विधायक के बड़े भाई के नाम रजिस्टर्ड है।

सीतामढ़ी के जिला परिवहन विभाग में इस गाड़ी का निबंधन उदय प्रताप, पुत्र राजेन्द्र सिंह, ग्राम-सोनार, थाना-रीगा, जिला- सीतामढ़ी के साथ रांची के सुखदेव नगर आवास का भी पता दर्ज है।

रीगा विधायक अमित कुमार ..

इस संदर्भ में जब रीगा विधायक अमित कुमार से बात की तो उन्होंने यह सफाई दी कि उनके भाई ने यह गाड़ी पूर्व में बेच दी है, पर एनओसी नहीं आने के कारण गाड़ी का ट्रांसफर अभी नहीं हुआ है।

उन्होंने कहा रेवन्यू टिकट सटे पन्ने पर इस गाड़ी की बिक्री के साक्ष्य उनके पास मौजूद है। लेकिन उन्होंने गाड़ी कब और किसके हाथ से बेची, इस बाबत जब साक्ष्य मांगा गया तो उन्होंने कहा कि कहीं रखा हुआ है। मिलते ही आपके वाट्सएप पर भेज दिया जाएगा।

मुजफ्फरपुर के बाद रविवार को एक और अल्पावास गृह का मामला सामने आने पर अब निश्चित तौर पर साबित हो गया है कि लगभग हर अल्पावास गृह चलाने वाले एनजीओ के संचालक परदे के पीछे वह कुकृत्य करते रहें है, जिसके कारण राज्य ही नहीं पूरे देश की मानवता शर्मशार हो रही है।

Share Button

Relate Newss:

आपस में भिड़े नक्सली, 16 की मौत, थाना छोड़ भागी पुलिस
200 सीटें जीतने का दावे के साथ बेफिक्र है महागठबंधन
एसपी ने दिया दुर्गा पूजा पंडालों में जरुरी आपात उपकरण रखने के निर्देश
रांची रेड क्रॉस बैंक में बेरोक-टोक 10 वर्षों से जारी है यह काला कारोबार
अफसरों को हड़काने की जगह यूं आत्ममंथन करें सीएम
मीडिया पर अमित शाह का दिखा खौफ, यूं हटा लिया खबर
न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया के आउटपुट एडिटर बने अतुल अग्रवाल
चाय नहीं, खून के सौदागर हैं मोदी : लालू यादव
प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर का राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि को लेकर ऐतिहासिक आदेश
एनएचएआई वेबसाईट का दावाः रांची-हजारीबाग एन.एच 33 फोरलेन सड़क पर एक भी मौत नहीं !
जशोदा बेन ने मांगी आरटीआई, पीएम मोदी का कैसे बना पासपोर्ट
District Administration, Nalanda पर ऐसी सूचना-चित्र के क्या है मायने?
कोल्हान में फर्जी पत्रकारों की बाढ़, यूं एक और सरगना आया सामने!
कनफूंकवों ने रघुवर की बांट लगा दी.....
मीडिया के चतुर सयानों की सूचना को अब राज़नामा नहीं लेगी संज्ञान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...