रिलायंस ने ‘न्यूज नेटवर्क18 मीडिया’ की बिक्री की खबर को बताया झूठी-निराधार  

Share Button
Read Time:3 Minute, 43 Second

राजनामा डेस्क। ‘रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड’ (RIL) के चेयरमैन मुकेश अंबानी अपनी मीडिया फर्म ‘नेटवर्क18 मीडिया एंड इंवेस्टमेंट लिमिटेड’ को ‘टाइम्स ग्रुप’ (Times Group) को बेचने के लिए बातचीत कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ‘टाइम्स ग्रुप’ की प्रकाशक कंपनी ‘बेनेट कोलमैन एंड कंपनी लिमिटेड’ (BCCL) इसके लिए एक एडवाइजर की तैनाती पर भी विचार कर रही है, ताकि प्रॉपर्टी के बारे में पूरी पड़ताल की जा सके।

वहीं, ‘रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड’ ने अपने न्यूज मीडिया बिजनेस को ‘टाइम्स समूह’ को बेचे जाने की खबरों से इनकार किया है। कंपनी के प्रवक्ता का कहना है, ‘रिलायंस इंडस्ट्रीज इस तरह की खबर का खंडन करती है। यह खबर झूठी और निराधार है।’

सूत्रों का कहना है कि ‘टाइम्स ग्रुप’ ने ‘सीएनबीसी’ (CNBC) में अपनी रुचि दिखाई है, लेकिन अंबानी अपनी पूरी मीडिया परिसंपत्ति को एक साथ बेचना चाहते हैं।

बताया जाता है कि यह बातचीत अभी शुरुआती दौर में है। इस खबर के साथ ही ‘नेटवर्क18’ के शेयर में गुरुवार को 10 प्रतिशत का उछाल देखा गया और यह लगभग छह महीने में अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच गए।

एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी द्वारा अपने न्यूज बिजनेस को बेचने की योजना का खुलासा उस समय हुआ था, जब ‘नेटवर्क18’ की एंटरटेनमेंट डिवीजन (जिसमें कई मूवी, म्यूजिक और कॉमेडी चैनल्स शामिल हैं) को सोनी कारपोरेशन को बेचने की खबर सामने आई थी।

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, नेटवर्क18 ने मार्च में समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में 1.78 बिलियन रुपए का नुकसान दर्ज किया था, जबकि इसका कुल कर्ज 28 बिलियन रुपए तक पहुंच गया था।   

बता दें कि पिछले दिनों खबर आई थी कि जापान की कंपनी ‘सोनी’ (SONY)  ‘नेटवर्क18 मीडिया एंड इंवेस्टमेंट लिमिटेड’ में बड़ी हिस्सेदारी खरीद सकती है। इसके लिए दोनों में बातचीत चल रही है। हालांकि यह बातचीत भी अभी शुरुआती दौर में ही है।

‘रिलायंस इंडस्ट्रीज’ ने ‘नेटवर्क18’ का अधिग्रहण वर्ष 2014 में किया था। ‘नेटवर्क18’ के पास न्यूज और एंटरटेनमेंट के 56 चैनल हैं। इसकी न्यूज प्रॉपर्टीज में ‘मनी कंट्रोल’(MoneyControl), ‘न्यूज18’ (News18), ‘सीएनबीसीटीवी18 डॉट कॉम’ (CNBCTV18.com), ‘क्रिकेट नेक्स्ट’ (CricketNext) और ‘फर्स्टपोस्ट’ (Firstpost) शामिल हैं।

वहीं,‘बेनेट कोलमैन’ को ‘टाइम्स ग्रुप’ के नाम से पहचाना जाता है। इसके पास ‘टाइम्स नाउ’ (Times Now) और ‘ईटी नाउ’ (ET Now) चैनल हैं। ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के अलावा यह ग्रुप बिजनेस अखबार ‘इकनॉमिक टाइम्स’ भी पब्लिश करता है।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

पत्रकारिता-समाज सेवा सीखनी हो तो मुजफ्फरपुर में आनंद दत्ता से सीखिए !
आलोक श्रीवास्तव को ‘राष्ट्रीय दुष्यंत कुमार अलंकरण’ सम्मान
नरेन्द्र मोदी अलोकतांत्रिक और अहंकारी हैं ‘अमित शाह!
बूथ कैप्चर की तस्वीरें ले रहे टाइम्स नाउ के रिपोर्टर को जदयू वालों ने पीटा, EC ने DM-SP को दिए FIR क...
3 साल बाद भी CID को नहीं मिला शरतचंद्र हत्या कांड का सुराग, CBI जांच की मांग
जनप्रतिनिधि निकाल रहे नालंदा में शराबबंदी की हवा, मुखिया और पैक्स अध्यक्ष समेत 7 धराये
दैनिक हिंदुस्तान के जिलावार अवैध संस्करणों में सरकारी विज्ञापन पर रोक
इस अवैध कारोबार के खिलाफ क्यों नहीं हुई कार्रवाई
न लहर....न पहर....सब बेअसर की संभावना
मरांडी जी ने किया था 50 करोड़ रु. माफ
मांझी ने बनाया हम, नीतिश को बताया दुश्मन नं.1
राजगीर में अराजकता, पार्श्व नाथ की मूर्ति तोड़ा
'लिव इन रिलेशन' रेप के दायरे से बाहर नहीं :हाई कोर्ट
67 साल बाद भी झारखंड के गांवों में मौजूद है गरीबी और शोषण :रघुवर दास
नो टेंशन, राजगीर मलमास मेला एप्प है न
प्रिंट मीडिया मालिकों के लिए फिर यूं खास रही पंजाब
जरुरत है Brand Bihar को बेहद सशक्त करने की
मनमानी और दलालों का अड्डा है कोडरमा रेलवे स्टेशन !
चोर-पुलिस के आतंक से त्रस्त हैं नालंदा के चंडी का रामघाट बाजार
एन.एच-33 फोरलेनिंग में लापरवाही की हद
NDA की अग्नि परीक्षा शुरु, RJD की टिकट पर लड़ेेंगे JDU विधायक
बिहार की 'निर्भया' की नीति और नियत पर उठे सबाल
ईमेल आइडी तक विहीन सुदेश महतो का सोशल साइट पर तूती!
गोड़ा पुलिस की वाहन चेकिंग से डीटीओ अनजान !
41 साल से 1 रूपये 04 पैसे की रखवाली में एबीसी को छूट रहे पसीने !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...