राहुल गांधी को लेकर मीडिया के इस रुख पर एक छात्रा ने जताई नाराजगी

Share Button
Read Time:2 Minute, 59 Second

rahul

बैंगलुरु के माउंट कार्मेल में राहुल गांधी की किरकिरी वाली खबर चलाए जाने पर कॉलेज की एक स्टूडेंट मीडिया पर भड़क गई। एलिक्सिर नाहर नाम की इस स्टूडेंट ने फेसबुक पर एक खुला खत लिखा है, जो वायरल हो गया है।

इस खत में उसने कहा कि मीडिया ने इस सेशन के एक पक्ष को ही दिखाया है। उसने कहा कि एक स्वस्थ लोकतांत्रिक प्रक्रिया को मीडिया ने क्या बना दिया।

उसने अपने खत में कहा कि राहुल गांधी काफी अच्छे नेता हैं और उनके हर प्रश्न पर स्टूडेंट्स का रिस्पांस मिला जुला था न कि एक तरफा।

एलिक्सिर ने लिखा, ‘ वह एक अच्छा संवाद था। स्वच्छ भारत और मेक इन इंडिया के बारे में राहुल गांधी द्वारा पूछे गए सवाल पर कुछ लड़कियां राहुल से सहमत दिखीं तो कुछ असहमत। आखिर सबकी अपनी राय है।

इस राय को सम्मान देने की जगह मीडिया ने बुरे ढंग से बात रखी। मीडिया #RahulStumped जैसे हैशटेग खबरें चलाने लगा। वह परेशान करने वाला था।

अपने खत में एक्सिर ने शिकायत की कि सिर्फ कुछ मिनट के प्रश्न-उत्तर का सेशन दो घंटे चले प्रोग्राम पर भारी पड़ गया और हेडलाइंस से असली खबर गायब हो गई।

उसने लिखा कि कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट ने कैसे एक स्कूल की लड़कियों से बात की।

 उन्होंने बताया कि कैसे सुंदर या दुबले जैसे शब्द अहमियत नहीं रखते, कैसे महिलाएं मां, बहन और दादी के तौर पर उसके जीवन में अहमियत रखती रही हैं।

उसने पोस्ट में लिखा कि बातचीत शुरू करने पर राहुल ने जो जोर दिया, वो छू लेने वाला था।

उन्होंने युवा कांग्रेस में भ्रष्टाचार की बात मानी। लोकसभा में संवाद में कमी पर चिंता व्यक्त की।

गौरतलब है कि बुधवार को राहुल गांधी बैंगलुरु के माउंट कार्मल कॉलेज पहुंचे। जहां उन्होंने राहुल गांधी सवाल-जवाब सेशन के दौरान बैकफुट पर आ गए।

कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट की उस समय किरकिरी हो गई, जब उनके सवालों पर स्टूडेंट्स ने कहा- हां, मोदी सरकार की पॉलिसीज काम कर रही हैं। हालांकि, इसके बाद राहुल ने चर्चा का रुख ही मोड़ दिया।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

मोदी नहीं, मुबारक का भाषण सुन रहे हैं ओबामा
देखिए वीडियोः  शराब व शवाब का कैसा स्टडी करने गए थे बिहार के ये माननीय
क्या पोर्न इंडस्ट्री से आई हैं कैटरीना कैफ ?
शुक्रिया सरायकेला उपायुक्त, संतोष सरीखे पत्रकारों के जज्बे को सलाम
'बदलते समय में मीडिया की भूमिका' पर पत्रकारों की कार्यशाला
मुंगेर के वयोवृद्ध स्तंत्रतासेनानी व पत्रकार काशी प्रसाद जी नहीं रहे
पीएम मोदी को बोलने की तमीज सीखना चाहियेः राहुल गांधी
लालू स्तर तक जा गिरे हैं दादरी और दलितों की हत्या पर मौन मोदी : अरुण शौरी
पर्यावरण को यूँ नष्ट कर रहे हैं खनन माफिया
पीएम नरेन्द्र मोदी की वाराणसी जीत पर फर्जी वोटरों का ग्रहण !
मीडिया में महिलाओं को नहीं पचा पा रहे हैं पुरूष
स्कूल संचालक पर 'माही का बेटा' के कलम की धार
गुमनामी की गर्त में प्रथम महिला केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री के गाँव के टीले की विरासत !
'राजनामा' की पड़तालः नोटबंदी से बजा जनता का बैंड
नालंदा में सामंतवादियों ने महादलितों को लक्ष्मी पूजा से रोका और मारपीट की
हिन्दुत्व की आड़ में धंधेबाजी करने वाले सुदर्शन न्यूज चैनल को राज्यसभा की नोटिस
सोशल साइट पर वायरल हो रहा है एक हिन्दी दैनिक की यह खबर
सरकारी भोंपू बनता आज की मेनस्ट्रीम मीडिया
पता नहीं कब हम अर्थ और व्यर्थ का अर्थ समझ पायेंगे!
'व्यापमं घोटाला' में मप्र के सीएम भी शामिल
सावधान यारों देश मेरा सोता हैं
लफुआ, लम्पट, पत्रकार और मैनेजमेंट !
कोबरा पोस्ट स्टिंग से खुद की लाज बचाने में जुटे नामचीन मीडिया हाउस
'एक्सपर्ट मीडिया न्यूज' से बोले नालंदा एसपी- अब यूं जारी नही होगी प्रेस विज्ञप्ति
पत्रकार रंजन हत्याकांड के आरोपी को सीबीआई कोर्ट से जमानत

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...