राहुल गांधी को लेकर मीडिया के इस रुख पर एक छात्रा ने जताई नाराजगी

Share Button

rahul

बैंगलुरु के माउंट कार्मेल में राहुल गांधी की किरकिरी वाली खबर चलाए जाने पर कॉलेज की एक स्टूडेंट मीडिया पर भड़क गई। एलिक्सिर नाहर नाम की इस स्टूडेंट ने फेसबुक पर एक खुला खत लिखा है, जो वायरल हो गया है।

इस खत में उसने कहा कि मीडिया ने इस सेशन के एक पक्ष को ही दिखाया है। उसने कहा कि एक स्वस्थ लोकतांत्रिक प्रक्रिया को मीडिया ने क्या बना दिया।

उसने अपने खत में कहा कि राहुल गांधी काफी अच्छे नेता हैं और उनके हर प्रश्न पर स्टूडेंट्स का रिस्पांस मिला जुला था न कि एक तरफा।

एलिक्सिर ने लिखा, ‘ वह एक अच्छा संवाद था। स्वच्छ भारत और मेक इन इंडिया के बारे में राहुल गांधी द्वारा पूछे गए सवाल पर कुछ लड़कियां राहुल से सहमत दिखीं तो कुछ असहमत। आखिर सबकी अपनी राय है।

इस राय को सम्मान देने की जगह मीडिया ने बुरे ढंग से बात रखी। मीडिया #RahulStumped जैसे हैशटेग खबरें चलाने लगा। वह परेशान करने वाला था।

अपने खत में एक्सिर ने शिकायत की कि सिर्फ कुछ मिनट के प्रश्न-उत्तर का सेशन दो घंटे चले प्रोग्राम पर भारी पड़ गया और हेडलाइंस से असली खबर गायब हो गई।

उसने लिखा कि कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट ने कैसे एक स्कूल की लड़कियों से बात की।

 उन्होंने बताया कि कैसे सुंदर या दुबले जैसे शब्द अहमियत नहीं रखते, कैसे महिलाएं मां, बहन और दादी के तौर पर उसके जीवन में अहमियत रखती रही हैं।

उसने पोस्ट में लिखा कि बातचीत शुरू करने पर राहुल ने जो जोर दिया, वो छू लेने वाला था।

उन्होंने युवा कांग्रेस में भ्रष्टाचार की बात मानी। लोकसभा में संवाद में कमी पर चिंता व्यक्त की।

गौरतलब है कि बुधवार को राहुल गांधी बैंगलुरु के माउंट कार्मल कॉलेज पहुंचे। जहां उन्होंने राहुल गांधी सवाल-जवाब सेशन के दौरान बैकफुट पर आ गए।

कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट की उस समय किरकिरी हो गई, जब उनके सवालों पर स्टूडेंट्स ने कहा- हां, मोदी सरकार की पॉलिसीज काम कर रही हैं। हालांकि, इसके बाद राहुल ने चर्चा का रुख ही मोड़ दिया।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...