राज्य सूचना आयोग ने कॉलेज के प्राचार्य को सशरीर शपथ पत्र के साथ किया तलब

Share Button

“प्राचार्य ने करीब 2 साल बीत जाने के बाद भी सूचना उपलब्ध नहीं कराकर आयोग को कहा गया हैं कि अपिलकर्ता को सूचना उपलब्ध करवा दिया गया हैं, जो कि सरासर गलत हैं…”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क (वीरेंद्र मंडल)। झारखंड पीपुल्स पार्टी के पूर्वी सिहभूम जिलाध्यक्ष कृतिवास मंडल ने जन सूचना पदाधिकारी, लालबहादुर शात्री मेमोरियल कांलेज, (L.B.S.M) करनडीह से कुल पांच बिन्दुओं पर सूचना अधिकार अधिनियम के तहत सूचना मांगी थी।

एल.बी.एस.एम.कांलेज करनडीह मे उर्दू, बंगला, उडिय़ा, मैथिली विषयों के शिक्षकों के योगदान देने की तिथि से लेकर छात्रों की वर्षवार संख्या की सूचना दिया जाय।

साथ ही शिक्षकों के उनके वेतमान और ली गई अन्य सुविधाएं एवं शिक्षकों के नियुक्ति पत्र की छायाप्रति की सूचना मागी गई थी।

लेकिन निश्चित अवधि मे एल.बी.एस.एम.कांलेज के जनसूचना पदाधिकारी के द्वारा जे.पी.पी जिलाध्यक्ष कृतिवास मंडल को सूचना उपलब्ध नहीं कराया गया। 

इसकी शिकायत पर झारखंड राज्य सूचना आयोग के प्राधिकृत पदाधिकारी ने कांलेज के जनसूचना पदाधिकारी को जवाब तलब किया है और कहा हैं कि वांछित सूचना एक सप्ताह के अन्दर अपीलार्थी को उपलब्ध कराया जाय

यही नहीं आगामी 25 सितंबर,19 को झारखंड राज्य सूचना आयोग मे अपीलवाद की सुनवाई में जनसूचना पदाधिकारी और प्रथम अपीलीय पदाधिकारी सह  प्राचार्य को सशरीर शपथ पत्र के साथ उपस्थित होने का आयोग सख्त निर्देश दिया हैं।

झारखंड राज्य सूचना आयोग ने कृतिवास मंडल को भी कहा है कि जन सूचना पदाधिकारी एल.बी.एस.एम.कांलेज, करनडीह के पास कंडिकावार आपत्ति दायर करे।

कृतिवास मंडल के द्वारा आज कंडिका वार आपत्ति दायर किया गया। जिसमें कहा गया हैं कि 1 साल 11 महिना बीत जाने के बाद भी सूचना उपलब्ध नहीं कराकर आयोग को कहा गया हैं कि अपिलकर्ता को सूचना उपलब्ध करवा दिया गया हैं, जो कि सरासर गलत हैं।

Share Button

Relate Newss:

IAS एसोसिएशन के खिलाफ पटना हाई कोर्ट में जनहित याचिका
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने की मीडिया की जमकर प्रशंसा
मदन तिवारी ने यशवंत सिंह से कहाः .....तो जेल खुद जायेगें हरिबंश
अपनी हक हकूक के लिये 'हिलसा आंचलिक पत्रकार' का गठन
स्मृति की डिग्रियां फर्जी हो सकती हैं, लेकिन वह नहीं :लालू प्रसाद
ऐसा क्यों करते हैं अम्बेडकरनगर नगर PRDA के मिश्र और खान
क्या इन्सान नहीं हैं नेवरी और पीपरा चौड़ा के मुसलमान ?
अमित शाह फिर बने भाजपा के कमांडर
झाडू के जरिए सिर्फ अपनी मार्केटिंग कर रहे हैं मोदीः राहुल गांधी
अभिनेत्री से 'अम्मा' बनी जयललिता की हालत नाजुक
नई विज्ञापन नीति से लघु एवं मध्यम अखबार संचालकों में गहरा रोष
4.5 लाख की साइकिल से चले अखिलेश
दैनिक 'हिन्दुस्तान' का देखिए फिर कमाल!
झारखंड के 30 पूर्व विधायक सम्मानित, प्रदीप यादव बने उत्कृष्ट विधायक
राजगीर के इस खबर की पड़ताल ने मीडया समेत पूरी सिस्टम को यूं नंगा कर दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...