राजस्थान के ‘दुर्ग’ को पटना SC-ST कोर्ट से यूं मिली बेल

Share Button

राजनामा.कॉम।  राजस्थान के पत्रकार दुर्ग सिंह पुरोहित को पटना के एससी/एसटी कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी है। राजपुरोहित को पिछले दिनों पटना पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उनकी गिरफ्तारी एसएसी/एसटी एक्ट के तहत की गयी थी।

राज पुरोहित के परिवार वाले भी पटना पहुंच गये। वे लोग लगातार साजिश का आरोप लगा रहे थे। इसके बाद मामला हाई प्रोफाइल हो गया और तब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जांच के आदेश दिये थे।

लेकिन इसी बीच पत्रकार दुर्ग सिंह राज पुरोहित के लिए राहत भरी खबर शुक्रवार को अपराह्न में आयी। पटना के एससी/एसटी कोर्ट ने पत्रकार राज पुरोहित को जमानत दे दी।

राज पुरोहित की ओर से एससी/एसटी कोर्ट में जमानत याचिका दायर की गई थी। इस पर शुक्रवार की दोपहर बाद सुनवाई हुई। कोर्ट ने राजपुरोहित को जमानत देते हुए 5-5 हजार के दो पर्सनल बांड भी भराये हैं।

 बाड़मेर में निजी चैनल में कार्यरत राजपुरोहित को पिछले दिनों पटना पुलिस ने गिरफ्तार किया। इसके बाद यह मामला बिहार के राजनीतिक गलियारे में चर्चा का विषय बन गया।

मामला इतना अधिक तूल पकड़ा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसे गंभीरता से लिया। साथ ही उन्होंने जांच का आदेश भी दिया। इसकी जांच की जिम्मेदारी जोनल आईजी नैयर हसनैन खान को दी गई है।

 राजपुरोहित को पिछले रविवार को गिरफ्तार किया गया। सोमवार को उन्हें पटना लाया गया। साथ मंगलवार को कोर्ट में उनकी पेशी हुई। तब कोर्ट ने उन्हें जेल भेज दिया। लेकिन शुक्रवार को राजपुरोहित को बड़ी राहत मिली और कोर्ट ने उन्हें बेल दे दिया।

मालूम हो कि राजपुरोहित के घरवाले भी अभी पटना में ही हैं। परिजनों को कहना है कि सोशल मीडिया पोस्ट के कारण यह सब हुआ है। परिवार के लोगों ने बाड़मेर की भाजपा नेता प्रियंका चौधरी पर साजिश रचने का आरोप लगाया गया है।

Share Button

Relate Newss:

पूर्व मध्य रेलवे में 'स्क्रैप घोटाले' की हो बिंदुवार जांच
जानिये वरिष्ठ पत्रकार कृष्ण बिहारी मिश्र के खिलाफ FIR पर क्या बोले धुर्वा थाना प्रभारी
लालू ने दी अपने विधायकों को स्टिंग, अनुशंसा और भोग से बचने की नसीहत
....और एक-एक पत्रकार को यूं नंगा कर डाले कृष्ण बिहारी मिश्र !
इंडियन जर्नलिस्ट एसोसियन द्वारा पत्रकार को झूठे मुकदमा में फंसाने की निंदा
धनबाद में पत्रकार को धमकी देने वाले सब इंसपेक्टर निलंबित
देखिये हजारीबाग सेंट्रल जेल में भाजपा नेताओं की ढिठई
टीवी पर खबर कम तमाशा ज्यादा  :मार्क टुली
दैनिक हिन्दुस्तान विज्ञापन घोटाले में गिरफ्तार हो सकते हैं शशि शेखर समेत शोभना भरतिया
महागठबंधन के हाथों मिली करारी हार के बाद ब्रिटेन में लगे पोस्टर 'मोदी नॉट वेलकम '
कितने नैतिक हैं हमारे भारतीय न्यूज़ चैनल
मर गया या मार डाला गया प्रभात खबर का फ़ोटो जर्नलिस्ट राजीव ?
झारखंड सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के निदेशक का कमाल देखिये
बड़े बेआबरू होकर तेरे कूचे से हम चले....
अंततः रघुवर सरकार का हुआ विस्तार, सरयु राय समेत 6 मंत्रियों ने ली शपथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...