रांची के दैनिक जागरण की आत्मा यूं मर गई इस वरिष्ठ पत्रकार पर FIR को लेकर

Share Button

रांची (INR)।  देश में नंबर वन का तमगा दिखाने वाले रांची से प्रकाशित हिन्दी दैनिक जागरण की आत्मा भी मरी प्रतीत होता है। वरिष्ठ पत्रकार कृष्ण बिहारी मिश्र पर धुर्वा थाना में हुई एफआईआर को लेकर उसमें भी जिस तरह से समाचार प्रकाशित किये गये हैं, वह यही सब स्पष्ट करता है।

 इस अखबार में खबर है कि पुलिस ने आईटी एक्ट के तहत कृष्ण बिहारी मिश्रा नामक एक शख्स को नामजद आरोपी बनाया गया है। इसकी पुष्टि धुर्वा थाना प्रभारी ने की है।

आगे लिखा है कि कृष्ण बिहारी मिश्रा नामक एक शख्स के फेसबुक एकाउंट से मर्यादा  पुरुषोतम भगवान राम के चेहरे को हटाकर उसकी जगह मुख्यमंत्री रघुवर दास के चेहरे को जोड़ा गया है। ऐसे में फेसबक पर पोस्ट करने वाले कृष्ण बिहारी मिश्रा नामक शख्स को गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाये।

दैनिक जागरण में प्रकाशित एक कॉलमीय समाचार में तीन बार ‘कृष्ण बिहारी मिश्रा नामक शख्स’ का प्रयोग किया गया है। जबकि एक सच्चाई है कि रांची की मीडिया में अगर कोई इस वरिष्ठ पत्रकार से वाकिफ नहीं है, ऐसा संभव ही नहीं। कोई नवसिखुआ रिपोर्टर घास चर सकता है लेकिन, उसका राज्य ब्यूरो कदापि नहीं। इस तरह की खबर को राज्य ब्यूरो, रांची लिख प्रकाशित करना भी कई सबाल खड़े करते हैं।

बकौल, श्री कृष्ण बिहारी मिश्र- उन्होनें दैनिक जागरण अखबार में मोतिहारी और धनबाद में कार्यालय प्रमुख के रुप में सेवा दी है। पर ये हमारे लिए शख्स का प्रयोग कर रहा है। ये ऐसा क्यों कर रहा है। उसे वे अच्छी तरह जानते हैं।

यहां काम कर रहे एक शख्स को उन्हें देखते ही मिर्ची लग जाती है। इसलिए उसे एक छोटा सा मौका मिला। खूब जमकर अपनी भड़ास निकाल ली। ऐसे उसकी हिम्मत नहीं कि वो हमें दोषी ठहरा दें। पर अखबार में भड़ास अगर निकल जाता है।

 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...