रघुवर दास की राह में ‘मेनहर्ट घोटाला’ बन सकता है रोड़ा

Share Button

jharkhand-bjp-dasराज़नामा.कॉम।  झारखंड में मुख्यमंत्री की कुर्सी की  दौड़ में सबसे आगे नजर आ रहे पूर्व उपमुख्यमंत्री रघुवर दास के राह में ‘मेनहर्ट घोटाला’ बड़ा रोड़ा बन सकता है।

पार्टी के अंदरुनी सूत्रों के अनुसार दास का नाम राज्य में करोड़ों रुपये के कथित ‘मेनहर्ट घोटाले’ में भी उछला था। इस कारण बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व को उन्हें स्वीकार करने में कठिनाई हो सकती है।

बताते हैं कि घोटाले की जांच के लिए बनी विधानसभा की समिति ने पाया था कि रांची में सीवरेज और ड्रेनेज प्रणाली विकसित करने के लिए वर्ष 2005 में तत्कालीन बीजेपी सरकार के नगर विकास मंत्री के तौर पर रघुवर दास ने सिंगापुर की कंपनी ‘मेनहर्ट’ को परामर्शी नियुक्त किया था।

इसमें निविदा की शर्तों और चयन की प्रक्रिया का पालन नहीं हुआ था। इस मामले में परामर्शी कंपनी को लगभग 21 करोड़, चालीस लाख रुपये का भुगतान किया गया था और इसे लेकर विधानसभा में कई दिनों तक हंगामा भी होता रहा था।

इस परियोजना की अनुमानित लागत 600 करोड़ रुपये थी। यह मामला राज्य निगरानी विभाग को जांच के लिए भेजा गया था और इस पर आज तक कोई कार्रवाई ही नहीं हुई।

उल्लेखनीय है कि जमशेदपुर पूर्व से पांचवीं बार विधायक चुने रघुवर दास दो बार पार्टी के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष रहने के आलावे  भाजपा-झामुमो युक्त शिबू सोरेन की सरकार में उप मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं।

 

 

Share Button

Relate Newss:

मनरेगा में भ्रष्टाचार के तमाचे का यूं हुआ समझौता
पत्रकारों के हित झारखंड यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट ने की आज शानदार पहल
खुद के संदेश में फंसे झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष
अस्तित्व रक्षा हेतु रघुवर सरकार को उखाड़ फेंकना जरुरी :शिबू सोरेन
प्रखंड कमेटी के गठन के साथ जर्नलिस्ट एसोसिएशन ऑफ झारखंड की बैठक संपन्न
मुंडा’काज हो या ‘रघु’राज, नहीं बदल रहे वन विभाग के भ्रष्ट'साज !
धनबाद प्रेस क्लब का निर्णय-300 रुपये दें और सदस्य बनें
हजारीबाग कोर्ट में गैंगवार, झारखंड में जंगल राज !
उद्घाटन हो चुका है, डिमांड भी बढ़ रही है, उत्पादन में जुट गये हैं कारोबारी !
चमरा लिंडा की गिरफ्तारी में झलकी तानाशाही मानसिकता
वरिष्ठ पत्रकार कृष्ण बिहारी मिश्र पर FIR को लेकर फेसबुक पर कड़ा विरोध जारी
.....और यूं 4 माह बाद जेल से बाहर निकले पत्रकार वीरेंद्र मंडल व उनके पिता
'पा लो ना' की पहल से समाज का उत्थान संभव : अर्जुन मुंडा
चतरा पत्रकार हत्याकांड का मुख्य आरोपी तमिलनाडु में धराया
झारखंड में मुख्यमंत्री जनसंवाद केन्द्र की गुंडागर्दी तो देखिये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...