रघु’राज में भी बेलगाम हैं प्रदेश के निजी स्कूल

Share Button
Read Time:1 Minute, 41 Second

PRIZEमुकेश भारतीय

रांची। इस बार फिर प्रदेश में  शहर से लेकर गांव तक प्रायः निजी स्कूल मनमानी कर रहे हैं।  बीते साल री-एडमिशन के नाम पर पैसा वसूला गया। हो हंगामा हुआ।  अखबारों में मामला उठा  तो इस वर्ष री-एडमिशन का नाम बदल गया।

अब वार्षिक चार्ज, पीपुल फंड, विल्डिंग फंड, बस भाड़ा, व्यंजन शुल्क, चिकित्सा शुल्क के नाम पर पैसा वसूला जा रहा है। स्कूल में ठेला लगाकर पिकनिक के नाम पर भी अवैध वसूली हो रही है।

यहां तक कि कई स्कूल अपने ही कैंपस में दुकान खोल लिये हैं। पुस्तक, कॉपी, बैग, जूता, मोजा से लेकर बेल्ट तक बेच रहे हैं।

कई बड़े स्कूल शहर के कुछ दुकानदारों से कमीशन तय कर लिये हैं। स्कूल में नामांकन और स्कूल द्वारा निर्धारित दुकान से ही कॉपी, पुस्तक, ड्रेस, बैग व अन्य सामान खरीदने के लिए अभिभावकों को बाध्य किया जा रहा है।

निजी स्कूली ने कमाई का फंडा अपनाया है। हर साल कॉपी किताब बदलता है। जिसका सीधा लाभ किताब दुकानदार को मिलता है।

कमीशनखोरी के इस खेल में अभिवावकों को 50 रूपये की किताब को लगभग 200 रूपये तक खरीदना पड़ता है।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

डीएम और एसपी के अनुदेश को यूं ढेंगा दिखा रहे हैं नालंदा पुलिस-प्रशासन के नुमाइंदे
प्रेस क्लब रांची के नवांतुकों पर अतीत से सीख भविष्य संवारने की बड़ी जिम्मेवारी
SBI बैंक में देखिये भ्रष्टाचार, मिड डे मिल का 100 करोड़ बिल्डर के एकाउंट में डाला
भगवान बिरसा जैविक उद्दान के निदेशक ने कहा, ऑब्जेक्शन के साथ हुई बहाली
आईपीएस अमिताभ ठाकुर के खिलाफ सतर्कता जांच शुरू !
खुलासे के साथ भूमिगत हुआ ‘केसरी गैंग’ का रिंग मास्टर
JJA ने हजारीबाग से शुरु की पत्रकार प्रशिक्षण अभियान
नदी में डूबा देने के भय से दफ्तर में दुबके हैं घनश्यामपुर के सीओ!
देश की प्रथम आदिवासी महिला राज्यपाल बनी द्रौपदी मुर्मू
रिपोर्टिंग के दौरान ट्रॉमा के ख़तरे से बचने के लिए कुछ परामर्श
किसान चैनलः बजट 45 करोड़ और ब्रांड एंबेसडर बने अमिताभ को मिले 6.31 करोड़!
राजनीति वनाम मोदी जी का गुजरात मॉडल
मंत्री की टिप्पणी पर हाय तौबा मचाने वाले, इस आंचलिक पत्रकार की सुध कौन लेगा?
अभिनेत्री से 'अम्मा' बनी जयललिता की हालत नाजुक
रघुवर सरकार से बिल्कुल मायूस  हूं, अफसरों की चल रही मनमानी
आईये raznama.com की नई मुहिम "ऑपरेशन इंक" से जुड़िए
दैनिक भास्कर ग्रुप से कार्यमुक्त निदेशक अब चलाएंगे वेबसाइट
महंगी पड़ेगी पीएम के यार से रंगदारी
भाजपा मंत्री की सरेआम गुंडागर्दी, स्वजातीय राजद नेता को पीटा!
सीएम रघुबर दास के पॉल्टिकल एडवाइजर से प्रेस एडवाइजर बने अजय कुमार
हे आर्य, तेनु काला चसमा सजदा हे देव जँचता जी रुखड़े मुखड़े पे
भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक के खिलाफ उपवास पर बैठे नीतिश
व्यवस्था देने में फेल रहे केजरीवाल
बिहार चुनाव नतीजा लोकतंत्र की जीत और राहुल गांधी उभरता हुआ सितारा: शत्रुघ्न सिन्हा
पूर्व भाजपा सांसद शहनवाज हुसैन से कुख्यात शहाबुद्दीन के रहे हैं गहरे ताल्लुकात

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...