रघु’राज में सुमन के इस आतंक से बेखबर हैं सरयु राय !

Share Button

राजनामा.कॉम। जहां एक तरफ झारखंड के सीएम रघुबर दास राज्य में भ्रष्ट अधिकारियों पर नकेल कसने की दावा करते फिर रहे हैं, वहीं  उनके ही घर-जिले जमशेदपुर में एक आयकर आयुक्त की मनमानी और भ्रष्टाचार उनके दावों की खिल्ली उड़ा रहा है।

ITC SUMANजी हां, उस एक अधिकारी का नाम है  श्वेताभ सुमन। कहा जाता है कि उनका तबादला झारखंड के जमशेदपुर से उतर प्रदेश के मुजफ्फरनगर हो चुका है और उनके स्थान पर आयकर आयुक्त बी. बिरसा एक्का का पदास्थापन है। लेकिन यह सब महज कागजों तक ही सीमित है। असल में श्वेताभ सुमन की हीं चलती है।

SUMAN_HOSUEउन्होंने रिश्वत वसूली से लेकर रंगदारी भांजने का एक बड़ा नेटवर्क बना रखा है। वे मुजफ्फरनगर कम और जमशेदपुर में ही अधिक अपना गोरखधंधा करते रहते हैं। हैरनी की बात  है कि क्या इन सब से सीएम रघुबर दास अनजान हैं? ऐसा कैसे हो सकता है कि वे खुद के नाक के नीचे की सड़ांध से बेखबर हों।

इस बार आयकर आयुक्त श्वेताभ सुमन के व्यापक पैमाने पर जो भ्रष्टाचारी चेहरा सामने आया है, उसकी परछाईं राज्य के मुखिया यानि सीएम रघुबर दास के घर तक जाती प्रतीत होती है।

ITC BIRSAकहा तो यहां तक जा रहा है कि श्वेताभ सुमन के भ्रष्टाचार की डंका बजने के पीछे रघु’राज की एक बड़ी माया काम कर रही है।  तभी तो उनके रंगदारी के बज रहे डंका को  कोई सुनने वाला नहीं दिख रहा है।

अब तक नाजायज बेनामी अरबों कमा चुके श्वेताभ सुमन का जमशेदपुर के डिमना में एक रिसोर्ट है, जिसमें लड़कियां बुलाई जाती है। रिसोर्ट को भी लोग आयुक्त के रिसोर्ट के नाम से जानते है और बेफिक्र रहते हैं कि यहाँ छापेमारी वगैरह की कोई खतरा नहीं होती। इस रिसोर्ट में   सफेदपोस नेताओं, अधिकारियों, रईशजादों की झुंड कभी भी देखे जा सकते हैं।

आश्चर्य  है कि श्वेताभ सुमन का आवास जमशेदपुर एसपी के ठीक बगल में है।  फिर भी वे  जमशेदपुर आयकर आयुक्त की लाल बत्ती-बोर्ड-सुरक्षाकर्मी युक्त  सरकारी गाड़ी से अपने चहेतों को न सिर्फ घुमाते फिरते हैं, बल्कि अपने संसाधनों के बल व्यवसायी वर्ग का जम कर भयादोहन भी कर रहे हैं। उन्हें झारखंड सरकार द्वारा  अन्य सभी सरकारी सुविधाओं के आलावे  सशस्त्र पुलिस सुरक्षा गार्ड भी मिला हुआ है। 

suma_resortजमशेदपुर में स्वेताभ सुमन का पदास्थापन वर्ष 2007 में आयकर आयुक्त के पद पर हुआ था। उसके बाद उन्होंने शहर में कई बड़े इन्वेस्टमेंट किए हैं, जो उनके अवैध कमाई की यूं ही पोल खोल रहा है। इस संबध में उनके खिलाफ कई मामले भी उभर कर सामने आय़े लेकिन उनके रसुख के आगे अब तक बौने नजर आए हैं। 

बहरहाल, जमशेदपुर से सीएम रघुबर दास के साथ हीं दूसरे सबसे बड़े कद्दावर नेता-मंत्री सरयु राय भी आते हैं। सरयु राय भ्रष्टचार और अनियमियता के खिलाफ काफी तल्ख तेवर के माने जाते रहे हैं।

जाहिर है कि जमशेदपुर में एक आयकर आयुक्त की मनमानी और भ्रष्टाचार का आलम उनकी नीति और नियत पर भी सबाल खड़ा करता है। …….मुकेश भारतीय

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...