यूपी में पत्रकार जगेन्द्र की हत्या पर केंद्र व राज्य सरकार को नोटिस

Share Button
Supreme Courtराजनामा.कॉम। सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश में पत्रकार जगेंद्र सिंह की हत्या की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने का निर्देश देने का अनुरोध करने वाली जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस जारी किया है।
आरोप है कि पत्रकार की हत्या उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री राममूर्ति वर्मा के इशारे पर की गई।
सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश एम.वााई. इकबाल की अध्यक्षता वाली अवकाशपीठ ने इस मामले में दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए केंद्र तथा राज्य सरकार को नोटिस जारी किए हैं।
इससे पहले वरिष्ठ अधिवक्ता आदिश सी. अग्रवाल ने न्यायालय से मामले की सीबीआई जांच का आदेश देने की गुहार लगाई। जनहित याचिकाकर्ता डी.एस. जैन ने भी न्यायालय से अनुरोध किया कि वह इस संबंध में दिशा-निर्देश तय करे और निर्देश जारी करे कि पत्रकार की अस्वाभाविक मौत से संबंधित मामले की जांच इलाके के जिला एवं सत्र न्यायाधीश की निगरानी में हो।
गौरतलब है कि जगेंद्र को मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जला दिया गया था। आरोप है कि उत्तर प्रदेश के मंत्री के इशारे पर पुलिस ने ऐसा किया। बुरी तरह झुलस चुके जगेंद्र की आठ जून को मौत हो गई।
Share Button

Relate Newss:

मीडियाई चुप्पी के इस षड्यंत्र को तोड़ने की चुनौती
'साहित्य सम्मेलन शताब्दी समारोह' में सम्मानित हुए साहित्यकार मुकेश 
नीतिश के गुस्से में छुपा है राज्य में बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल के साफ संकेत
प्रिंट मीडिया के लिये यह है आत्म-चिंतन का समय
टाडा के भगौड़ा पत्रकार सुरेंद्र सिंह का 21 साल बाद सरेंडर
साजिश के तहत मेरी खबर को नगेटिव प्लांट किया गयाः हरीश रावत
प्रेस क्लब के थोंपू महंथ पर उठे सवाल, एक फोटो जर्नलिस्ट ने निकाली यूं भड़ास
हाईकोर्ट में लगी मनु की मूर्ति के खिलाफ राष्ट्रव्यापी आन्दोलन का ऐलान
अमिताभ,रजनीकांत,श्याम बेनेगल जैसों पर भारी गजेंद्र चौहान?
इस बच्ची की कलम और पढ़ाई के प्रति ललक देख नम हो गई आँखें
सच को दबाने की वैधानिक साज़िश
बंगाल BJP अध्यक्ष ने कहा- ममता बनर्जी को दिल्ली से बाल पकड़ निकाल सकते हैं
मुरादाबाद  में जलती चिता से शव के मांस खाते युवक धराया
महाशपथ के साथ ही राष्ट्रीय फलक पर नीतीश की भूमिका अहम
श्रीराम पर केस के बाद अब उनके भक्त हनुमान को भेजा नोटिस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...