मोदी की हिदायत के बाबजूद बेलगाम है साक्षी महाराज !

Share Button

देश के पीएम नरेंद्र मोदी के हिदायतों का बीजेपी के कट्टरवादी सांसदों का कोई प्रभाव नहीं दिख रहे है।  उन्नाव के बीजेपी सांसद साक्षी महाराज का तो इस मामले में कोई सानी नहीं है। हाल ही में सार्वजनिक तौर पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे  नाथूराम गोडसे के देशभक्त बताने वाले साक्षी अब कहा है कि हिन्दू महिलाओं को कम से कम चार बच्चे पैदा करने चाहिए।

साक्षी ने मेरठ में आयोजित एक महती संत समागम महोत्सव में यह भी कहा कि इन चार बच्चों में से एक को सेना में और एक को संत समाज में दे देना चाहिए।

उन्होंने संत समागम में सिर्फ यह ही नहीं कहा कि हिंदू धर्म की रक्षा के लिए अब हिंदू महिलाओं को कम से कम चार बच्चे पैदा करने चाहिए।इससे आगे लोगों की भावनाओं का मजाक उड़ाते हुए कहा कि भारत में लोग किसी की भी पूजा कर सकते हैं। लोगों को तो कुत्तों और गधों में भी भगवान दिखते हैं।

sakshiकहते हैं कि आम महिलाओं को नसीहत देने वाले साक्षी जैसे धार्मिक ठेकेदारों का जीवन काफी विवीदित और अपराधिक रहा है। साक्षी पर आईपीसी की धारा 506 के खिलाफ मुकदमें दर्ज हैं।  कभी मदरसों पर जुबानी बमबारी तो कभी मुस्लिमों पर गद्दार होने का आरोप लगाकर अकसर विवादों में इस बीजेपी सांसद का अगर बीता पल देखें तो एक बड़े आपराधिक छवि वाले इंसान की रही है। इस धारा के दायरे में मारपीट करने और जान से मारने की धमकी देने जैसे अपराध आते हैं। इनके खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने, धोखाधड़ी, हत्‍या, डकैती, मानहानि आदि जैसे आधा दर्जन से ज्‍यादा मुकदमें दर्ज हैं।

साक्षी महाराज पर धोखाधड़ी करना और बेइमानी से संपत्ति हड़पने के मुकदमे दर्ज हैं। यह अपराध आईपीसी की धारा 420 के तहत आता है। भाजपा सांसद साक्षी महाराज पर जमीन संबंधित धोखाधड़ी, वसीहत में छेड़खानी के मामले दर्ज हैं।

साक्षी महाराज पर धारा 153 A के तहत दो समुदाओं के बीच धार्मिंक दंगे भड़काने और महौल खराब करने के साथ ही हत्‍या का मुकदमा भी दर्ज है। साक्षी महाराज पर सरकारी काम में दखलअंदाजी और सरकारी कर्मचारी के उसके काम में दखलअंदाजी करने का भी आपराधिक मामला दर्ज है।

साक्षी महाराज पर धार्मिक स्‍थल को नुकसाना पहुंचाने और धर्म विशेष का अपमान करने का भी मुकदमा दर्ज है। हत्‍या के साथ ही साथ साक्षी महाराज पर लूट और डकैत का भी केस दर्ज है। साक्षी महाराज पर अंर्तराष्‍ट्रीय स्‍तर पर शांती भंग करने और ऐसा करने के लिए उकसाने का भी मुकदमा दर्ज है। साक्षी महाराज पर दंगा भड़कने जैसा जघन्‍य अपराध का केस भी दर्ज हो चुका है।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...