मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयरबार ने सड़क पर ही बना दिया शराबमय पार्क

Share Button

mehtaएनएचएआई की  मनमानी का फोरलेन

-: मुकेश भारतीय :-

ओरमांझी (रांची)। ऐसे तो नेशनल हाईवे ऑथिरीटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) द्वारा नेवरी विकास रांची से हजारीबाग तक बनाई गई एन.एच 33 फोरलेन सड़क पर अतिक्रमण आम बात हो गई है। जिसको जहां मौका मिला, उसे कब्जाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रखा है। लेकिन ओरमांझी बाजार से थोड़ा आगे मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयर बार लाईन होटल का कोई सानी नहीं है।

इस होटल ने सड़क की जमीन पर ही कई दुकान और जैमिनी पार्क बना रखा है। जहां ठीक पहले भारी पैमाने पर शराब प्रचार के रंगीन लाईट बोर्ड लगा रखा है, होटल गेट के आगे आकर्षक तरीके से पार्क सजा रखा है। यही नहीं पार्क के आगे कई दुकाने भी सजा रखी है, जो किराये पर दे रखा है।

यहां पर सड़क बनाने में भी काफी अनियमियता बरती गई है। ले-देकर काफी कुछ समेट दिया गया है। निर्धारित मापदंड के अनुसार यहां चौड़ी करण भी नहीं किया गया है। सड़क एक तरफा दिखता है।

मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयर बार लाईन होटल पिछले 4-5 वर्षों के भीतर दिन-दूनी रात चौगुनी तरक्की की है। जमीन दलाली और ठगी का केन्द्र के रुप में उभरे इस होटल की स्थिति पहले काफी अच्छी नहीं थी। पहले यहां बोतल दर बोतल चोरी छिपे शराब मिलती थी। आज एयरकंडीशन वीयर बार है। पहले होटल में चौक-चौराहों से किलो-दर किलो दाल-सब्जियां परोसी जाती थी और आज अत्याधुनिक स्तर के सारे ऐशो-आराम की चीजें परोसी जाती है।

पुलिस-प्रशासन में मामू के नाम से शुमार होटल मालिक का अपना अलग ही दबदबा रहा है। जिससे उसका हर काम आसान होता रहा है। कई बार अपने करारनामों के कारण यह होटल सुर्खियों में आया लेकिन, इसका बाल-बांका तक नहीं हुआ। हत्या से लेकर कई तरह के अपराध यहां हुए हैं।

एन.एच 33 फोरलेन सड़क पर सभी लोग गुजरते हैं। लेकिन मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयर बार लाईन होटल की करतूतों की ओर सबका ध्यान जाते हुए भी कभी कोई इसे गंभीरता से नहीं लेता। अगर कोई लेता भी है तो उसकी खास खातिरदारी हो जाती है। एन.एच.33 के रहनुमा भी मुर्ग-मुस्सलम के आगे घुटने टेके रहते हैं। किसी शिकायत पर कहीं से कोई कार्रवाई नहीं हो पाती।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...