मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयरबार ने सड़क पर ही बना दिया शराबमय पार्क

Share Button
Read Time:3 Minute, 12 Second

mehtaएनएचएआई की  मनमानी का फोरलेन

-: मुकेश भारतीय :-

ओरमांझी (रांची)। ऐसे तो नेशनल हाईवे ऑथिरीटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) द्वारा नेवरी विकास रांची से हजारीबाग तक बनाई गई एन.एच 33 फोरलेन सड़क पर अतिक्रमण आम बात हो गई है। जिसको जहां मौका मिला, उसे कब्जाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रखा है। लेकिन ओरमांझी बाजार से थोड़ा आगे मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयर बार लाईन होटल का कोई सानी नहीं है।

इस होटल ने सड़क की जमीन पर ही कई दुकान और जैमिनी पार्क बना रखा है। जहां ठीक पहले भारी पैमाने पर शराब प्रचार के रंगीन लाईट बोर्ड लगा रखा है, होटल गेट के आगे आकर्षक तरीके से पार्क सजा रखा है। यही नहीं पार्क के आगे कई दुकाने भी सजा रखी है, जो किराये पर दे रखा है।

यहां पर सड़क बनाने में भी काफी अनियमियता बरती गई है। ले-देकर काफी कुछ समेट दिया गया है। निर्धारित मापदंड के अनुसार यहां चौड़ी करण भी नहीं किया गया है। सड़क एक तरफा दिखता है।

मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयर बार लाईन होटल पिछले 4-5 वर्षों के भीतर दिन-दूनी रात चौगुनी तरक्की की है। जमीन दलाली और ठगी का केन्द्र के रुप में उभरे इस होटल की स्थिति पहले काफी अच्छी नहीं थी। पहले यहां बोतल दर बोतल चोरी छिपे शराब मिलती थी। आज एयरकंडीशन वीयर बार है। पहले होटल में चौक-चौराहों से किलो-दर किलो दाल-सब्जियां परोसी जाती थी और आज अत्याधुनिक स्तर के सारे ऐशो-आराम की चीजें परोसी जाती है।

पुलिस-प्रशासन में मामू के नाम से शुमार होटल मालिक का अपना अलग ही दबदबा रहा है। जिससे उसका हर काम आसान होता रहा है। कई बार अपने करारनामों के कारण यह होटल सुर्खियों में आया लेकिन, इसका बाल-बांका तक नहीं हुआ। हत्या से लेकर कई तरह के अपराध यहां हुए हैं।

एन.एच 33 फोरलेन सड़क पर सभी लोग गुजरते हैं। लेकिन मेहता रोस्पा गार्डन रेस्टूरेंट एंड वीयर बार लाईन होटल की करतूतों की ओर सबका ध्यान जाते हुए भी कभी कोई इसे गंभीरता से नहीं लेता। अगर कोई लेता भी है तो उसकी खास खातिरदारी हो जाती है। एन.एच.33 के रहनुमा भी मुर्ग-मुस्सलम के आगे घुटने टेके रहते हैं। किसी शिकायत पर कहीं से कोई कार्रवाई नहीं हो पाती।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

पत्रकारिता छोड़ी, संभाली खेती और सूखे में भी उगा दी धान की उन्नत फसल
बिहारः डायन का आरोप लगा वृद्ध महिला पंच की पिटाई
मनीषा दयाल की कार्यों की तरह उसके पजेरो में भी है काफी झोल-झाल !
सुलभ इंटरनेशल ने मिथिला पत्रकार समूह को दिया दस लाख का अनुदान
यह रही मोदी सरकार की वेबसाइट विज्ञापन नीति
क्या पोर्न इंडस्ट्री से आई हैं कैटरीना कैफ ?
मुखिया के खिलाफ सड़क पर उतरे लोग, एसपी से बोले- ‘निर्दोष है पत्रकार’
मेरी कश्ती डूबी वहां, जहां पानी कम था !
प्रिंट मीडिया मालिकों के लिए फिर यूं खास रही पंजाब
पत्रकारिता का शर्मनाक दिन बन गया 25 अक्टूबर, 2014
आखिर चाहता क्या है सुप्रीम कोर्ट ?
विलुप्त होती प्रजाति के पत्रकार थे विनोद मेहता !
जो हुकुम सरकारी, वही पके तरकारी !
पत्रकारों के लिए पाक-अफगानिस्तान से भी खतरनाक है भारत देश
डीएम और एसपी के अनुदेश को यूं ढेंगा दिखा रहे हैं नालंदा पुलिस-प्रशासन के नुमाइंदे
इधर केंद्रीय गृहमंत्री की बैठक, उधर राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या
झारखंड के महामहिम को दुःखी कर गई स्कूल गेट पर बजबजाती नाली
पत्रकारों के लिए एशिया का पाक-अफगानिस्तान से खतरनाक देश है भारत !
गूगल कंपनी में करीब 200 बकरियां नौकरी, वेतन सहित मिलती हैं अन्य सुविधाएं
धन्य है बिहार के नेता... धन्य है बिहार के पत्रकार...
PCI के आदेश पर DAVP ने जागरण,टाइम्स ऑफ इंडिया समेत इन 51 अखबारों पर की बड़ी कार्रवाई
पत्रकारों ने मांगी छुट्टी तो हिन्दुस्तान के संपादक दिनेश मिश्रा ने दी गालियां !
दुर्गा उरांव ने की अपील, साथी हाथ बढ़ाना
बिहार विधानसभा चुनाव की मंझधार में जी पुरवईया !
कम्यूनल-अनसोशल वीडियो वायरल करने वाले ऐसे पुलिसकर्मी पर हो क्वीक एक्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...