रांची मेयर “नोट फॉर वोट” पर किया एक संस्था ने दावा !

Share Button
Read Time:0 Second

rachi_rama_subodh(राज़नामा.कॉम)।  झारखंड की राजधानी रांची के मेयर चुनाव में पकड़े गये  वोट फॉर नोट मामले ने एक नया मोड़ ले लिया है। आज स्थानीय अदालत में मो. अकिलुर्र रहमान नामक व्यक्ति ने  शपथ पत्र दाखिल कर यह दावा किया है कि  मतदान के ठीक एक दिन पहले पुलिस-प्रशासन, आय कर की टीम ने 22.66 लाख की जो राशि होटल सिटी प्लेस से बरामद की थी, वह उसकी एक ऐसी संस्था की है, जो चुनावों में ईमानदार एवं निष्पक्ष छवि के उम्मीदवारों को मदद करती है। 

   मो. अकिलुर्र रहमान के अधिवक्ता द्वारा दर्ज शपथ पत्र में दावा किया गया है कि उसके संस्था ने वे सारे पैसे एक संस्था के तहत चंदा कर जुटाये गये थे। शपथ पत्र के साथ उन लोगों के नाम की सूची भी सौंपी गई है, जिनके द्वारा राशि दान दी गई है।

अदालत ने इस मामले पर  सुनवाई की तारीख आगामी सोमवार को मुकर्रर की है।

विदित हो कि इन दिनों रांची मेयर चुनाव के ठीक एक दिन पहले  होटल सिटी प्लेस के एक कमरे से प्रशासन ने गुप्त सूचना का हवाला देते हुये छापामारी कर करीब 23 लाख रुपये नकद बरामद की थी।  पैसों के साथ दो लोगों को पकड़ा भी गया था। जिसे बाद में जेल भेज दिया गया ।

तब सारे  पैसे  बंडलों में वार्ड दर वार्ड उल्लेखित करते हुये अलग-अलग लिफाफे में बंद थे। ठीक उसी समय  कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी एवं पूर्व मेयर रमा खलखो के अलावे पूर्व केन्द्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय , उनके भाई सुनील सहाय, जिला परिषद के अध्यक्ष सुन्दरी तिर्की समेत कई दिग्गज मौजूद थे। पैसे भरे लिफाफे के साथ प्रत्याशी रमा खालखो के पोस्टर बैनर होने के कारण पुलिस ने एक मामला दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी का वारंट लेकर घुम रही है। सुबोधकांत सहाय के भाई सुनील सहाय से पूछताछ की जा चुकी है।

इस पुरे मामले पर चुनाव आयोग ने मतदान बाद अचानक कदम उठाते हुये मतगणना पर रोक लगा रखी है। इधर विरोधी भाजपा समेत  प्रायः सभी राजनीतिक दल अपनी रोटियां सेंकने में मशगुल हैं। हालांकि अन्य सभी मेयर प्रत्याशियों ने चुनाव आयोग से मतगणना पर से रोक हटाने तथा परिणाम घोषित करने की मांग पर अड़े हैं।

 

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

हार्सट्रेडिंग मामलाः सीबीआई ने खंगाले नेताओं के 35 ठिकाने
नहीं रहे मशहूर व्यंग्यकार और लेखक पद्म श्री केपी सक्सेना
कहां गुम हो गईं बैलगाडियां !
मुफ्ती मोहम्मद सईद से पूछे भाजपा कि वह भारतीय हैं या नहींः आरएसएस
ये कैसा इंसाफ है एसपी साहब
बेटियों को लेकर क्यों क्रूर हो रहे हैं हम
रणवीर सेना के पुनर्गठन में लगे हैं इंदुभूषण
भारत-श्रीलंका के बीच हुआ असैन्य परमाणु समझौता
भाजपा के बाद कांग्रेस की नियत झारखंड को लेकर फिर साफ नहीं दिख रहा !
कांग्रेसी मेयर प्रत्याशी के बूथ प्रबंधन का 22.66लाख रु. धराये
उपभोक्‍ता कानून और हम: जागो ग्राहक जागो
लालू जी के विचारों को कैद नहीं किया जा सकताः तेजस्वी
शंकराचार्य ने पीएम मोदी को चेताया, "शिरडी गए तो चुकानी होगी कीमत"
हैदराबाद ब्लास्ट का आरोपी मंजर इमाम में धराया
अब नहीं रहे ‘रुस्तम ए हिंद’ दारा सिंह
नीतिश सेकुलर नेता और राहुल अगला कमांडरः मनमोहन
मधु कोड़ा को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा राहत, ईडी केस में जमानत
सुरक्षा बलों के खिलाफ महिलाओं का नग्न आंदोलन
बहुरोग नाशक है काली मिर्च
केजरीवाल को नक्सलियों का समर्थन, पांच बच्चे पैदा करे हिंदूः सिंघल
‘स्पेशल 26’ देखेंगे सीबीआई के अधिकारी
नई दिल्लीः रैन बसेरों पर दबंगो का कब्जा
यही है ''कुंडा का गुंडा''
साधुत्व का व्यापार करते हैं आसाराम बापू
झारखंड में यह कैसा राज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
mgid.com, 259359, DIRECT, d4c29acad76ce94f
Close
error: Content is protected ! www.raznama.com: मीडिया पर नज़र, सबकी खबर।