मुंडाजी आप मुख्यमंत्री थे तब क्या किया?

Share Button

अब बरसात आ गया। बाजार में कोयले की मांग कम होने लगी है।अवैध खदानों में पानी भरने लगा है तो रामगढ प्रसासन जाबाज़ी दिखाने लगा है। ताकि भविस्य में कोई जांच एजेंसी उनकी गर्दन नहीं पकड़ने सके।

लेकिन उनकी मंशा साफ़ झलक रही है। किसी भी बड़े फैक्ट्री में छापामारी नहीं हो रही है। किसी बड़े तस्कर के नाम से केस दर्ज़ नहीं हो रहा है। सब दिखावे के लिए हो रहा है।

इसी बहती गंगा में अर्जुन मुंडा ने भी हाथ धो दिया। लिखकर राजनाथ सिंह को दिया है कि कोयला तस्करी हो रही है। उन्होनें तब दिया जब बरसात हो गया। ताकि वो भी कह सके कि मैंने भी लिखा है कोयला तस्करी पर।

पर मुंडाजी आप मुख्यमंत्री थे तब क्या किया?  क्या उस समय कोयला चोरी नहीं हुई? और आपने राजनाथ को क्यों लिखा? आपने विपक्ष के नेता की हैसियत से विधानसभा के पटल पर बात क्यों नहीं रखा?  क्यूंकि आपकी पोल यहाँ खुल जाती कि आप भी उसी हमाम के साथी है।

अगर सही में चाहते हैं तो विपक्षी नेता की हैसियत से सभी विधायको सांसदों के हस्ताक्षर युक्त आवेदन केंद्र को लिखिए कि सीबीआई जांच की जाये। पर इतनी हिम्मत शायद आपमें नहीं है और नहीं किसी अन्य भाजपाई नेता में। सिर्फ एक को छोड़कर।

अरे हेमंत तस्करी का दोस्त ही सही निगरानी जांच करने का आदेश तो दिया? आपने क्या किया?  बाबा जी का……

……….हजारीबाग के  पत्रकार टीपी सिंह अपने फेसबुक वाल पर

Share Button

Relate Newss:

जद(यू) से बिहार के मंत्री और झारखंड के अध्यक्ष का इस्तीफा
मीसा भारती को महंगा पड़ा हार्वर्ड का 'फेक लेक्चर' बनना
वो गरिया क्या दिया, कुछ मीडिया वालों की सुलग गई
फेसबुक पर यूं बौखलाए कैमरे की जद में आये ईटीवी (न्यूज18) के सीनियर रिपोर्टर!
भ्रष्टाचार को लेकर दोहरा मापदंड अपना रही है झारखंड की रघुबर सरकार
पुलिस ने 2 लाख की दंड राशि की जगह वीरेन्द्र मंडल को फर्जी केस में यूं भेजा जेल
इस मीडिया गैंग की नई करतूत, प्रशासन को कर रहे यूं बदनाम
जरा देखिये, ब्रांडिंग के नाम पर क्या कर रही है रघुवर सरकार
15 हजार लेकर थानाध्यक्ष ने कराई नाबालिग छात्रा की शादी, कतिपय पत्रकार देख ले VEDIO
SSP की उपेक्षा से आहत JMM MLA अमित कुमार ने की अपनी सुरक्षा वापस !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...