मुंडाजी आप मुख्यमंत्री थे तब क्या किया?

Share Button
Read Time:0 Second

अब बरसात आ गया। बाजार में कोयले की मांग कम होने लगी है।अवैध खदानों में पानी भरने लगा है तो रामगढ प्रसासन जाबाज़ी दिखाने लगा है। ताकि भविस्य में कोई जांच एजेंसी उनकी गर्दन नहीं पकड़ने सके।

लेकिन उनकी मंशा साफ़ झलक रही है। किसी भी बड़े फैक्ट्री में छापामारी नहीं हो रही है। किसी बड़े तस्कर के नाम से केस दर्ज़ नहीं हो रहा है। सब दिखावे के लिए हो रहा है।

इसी बहती गंगा में अर्जुन मुंडा ने भी हाथ धो दिया। लिखकर राजनाथ सिंह को दिया है कि कोयला तस्करी हो रही है। उन्होनें तब दिया जब बरसात हो गया। ताकि वो भी कह सके कि मैंने भी लिखा है कोयला तस्करी पर।

पर मुंडाजी आप मुख्यमंत्री थे तब क्या किया?  क्या उस समय कोयला चोरी नहीं हुई? और आपने राजनाथ को क्यों लिखा? आपने विपक्ष के नेता की हैसियत से विधानसभा के पटल पर बात क्यों नहीं रखा?  क्यूंकि आपकी पोल यहाँ खुल जाती कि आप भी उसी हमाम के साथी है।

अगर सही में चाहते हैं तो विपक्षी नेता की हैसियत से सभी विधायको सांसदों के हस्ताक्षर युक्त आवेदन केंद्र को लिखिए कि सीबीआई जांच की जाये। पर इतनी हिम्मत शायद आपमें नहीं है और नहीं किसी अन्य भाजपाई नेता में। सिर्फ एक को छोड़कर।

अरे हेमंत तस्करी का दोस्त ही सही निगरानी जांच करने का आदेश तो दिया? आपने क्या किया?  बाबा जी का……

……….हजारीबाग के  पत्रकार टीपी सिंह अपने फेसबुक वाल पर

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

बदल गई सोशल मीडिया, गूगल से फेसबुक तक जारी है बदलाव
झारखंड में मुख्यमंत्री जनसंवाद केन्द्र की गुंडागर्दी तो देखिये
पत्रकारिता-समाज सेवा सीखनी हो तो मुजफ्फरपुर में आनंद दत्ता से सीखिए !
बंद हो अखबार के हॉकरों द्वारा बिना बिल दस रुपये की वसूली
चटखारे के साथ वायरल हो रहा है गडकरी की 'सूसू से सिंचाई' का शोध
एक यौन शोषण का सच और त्रिया-चरित्र !
अब हिंदी कहावत बनेगी कि सोने से सोना मिलता है !
21 दिन बाद भी सुपरविजन नहीं, बीडीओ पर मेहबान है रांची पुलिस !
मोदी जी ने 370 एकड़ वन भूमि से अडानी का एहसान चुकाया
वो गरिया क्या दिया, कुछ मीडिया वालों की सुलग गई
.......तो डेढ़ सौ रिपोर्टों के बाद एक रिपोर्ट और सही
कलाम को बेहद पसंद थी झारखंड की भोली भाली जनता
संयोग या दुर्योग ? सीपी सिंह पर पड़ ही गया मनोज कुमार का साया !
DMCA के पचड़े में फंस भड़ास4मीडिया बंद, बोले यशवंत-जल्द निकलेगा हल
योग सुंदरी से यूं शीर्षासन करा रहे हैं झारखंड के अधिकारी
......तो मीडिया में घुसे इस 'भेड़िए' की पोल न खोलता !
एग्जिट पोल पर बिना रोक निष्पक्ष चुनाव बेईमानी
शशि थरुर, सुनंदा पुस्कर और सोशल साइट
जरुरी है PCI की वित्‍तीय एवं वैधानिक शक्तियों में बढ़ोतरी :न्‍यायमूर्ति सीके प्रसाद
बदलाव की आंधी में उड़े या खुद को नहीं आंक पाये सुदेश ?
लोकप्रियता में फेसबुक से आगे निकला व्हाट्सएप्प
लुआठी' के सम्पादक ‘आकाश खूंटी’ को मिला ‘श्रीनिवास पानुरी स्मृति सम्मान’
भास्कर समूह के गोरखधंधे में शामिल हैं 69 कंपनियां
मेहमानों को भी बेइज्जत करने से नहीं चूके झारखंडी अफसर
इन संपादकों की हकीकत तो जानिये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
mgid.com, 259359, DIRECT, d4c29acad76ce94f
Close
error: Content is protected ! www.raznama.com: मीडिया पर नज़र, सबकी खबर।