मुंगेर के वयोवृद्ध स्तंत्रतासेनानी व पत्रकार काशी प्रसाद जी नहीं रहे

Share Button

राजनामा.कॉम। बिहार के मुंगेर के वरिष्ठ पत्रकार, अधिवक्ता एवं शिक्षक काशी प्रसाद का निधन बीती देर रात लगभग 12 बजे मंगल बाजार स्थित निवास पर हो गया।

वे विगत दो माह से हृदय रोग से जूझ  रहे थे। वे 94 वर्ष के थे  और अंतिम सांस तक  द टाइम्स आफ इंडिया से संवाददाता के रूप में जुड़े रहे।

काशी प्रसाद जी ने अपने पत्रकारीय जीवन में देश के ख्यातिप्राप्त अंग्रेजी और हिन्दी अखबारों द स्टेट्समैन, द सर्चलाइट, द इंडियन नेशन, प्रदीप, आर्यावर्त, नवभारत टाइम्स, आज, सन्मार्ग, राष्ट्रवाणी से संवाददाता के रूप में जुड़े रहे। वे आकाशवाणी से भी जुड़े रहे।

उन्होंने मुंगेर के सरकारी श्रीदुर्गा संस्था उच्च विद्यालय में अंग्रेजी शिक्षक के रूप नौकरी कीं और प्रधानाध्यापक पद पर अवकाशग्रहण किया ।

शिक्षा-सेवा से सेवानिवृत होने के बाद उन्होंने मुंगेर सिविल कोर्ट में वकालत की प्रैक्टिस शुरू कीं और अंतिम सांस तक वकालत के पेशे से जुड़े रहे ।

मुंगेर में गंगा नदी पर आज दौड़ रही ट्रेन में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा। गंगा नदी पर रेल सह सड़क पुल निर्माण के लिए ‘जागृति‘ संस्था के बैनर तक चलाए गए दशक पुराने आंदोलन का नेतृत्व उन्होंने अध्यक्ष के रूप में किया।

उन्होंने आम सभा में पुल न बनने पर सरकार को आत्मदाह की खुली घोषणा की थीं।

वे स्वतंत्रता-सेनानी  भी रहे और भारत छोड़े आंदोलन में  अह्म भूमिका निभाईं ।परन्तु, उन्होंने स्वतंत्रता-सेनानी पेंशन लेने से इन्कार कर दिया।

वे अपने पीछे पुत्र श्रीकृष्ण प्रसाद (अधिवक्ता व पत्रकार), आचार्य पी. संजय (ज्योतिषाचार्य),  अजय कुमार (अधिवक्ता), और बिजय कुमार समेत भरा-पूरा परिवार छोड़ गए हैं।

Share Button

Relate Newss:

कायर-अपराधी भी सुसाइड बाद अखबार के विज्ञापन में बन गया आदर्श !  
शत्रुघ्न सिन्हा का चुनाव प्रचार से दूर रखने का छलका का दर्द
गोड्डाः  सरकारी पुल निर्माण में बाल श्रम कानून की उड़ रही धज्जियां
तबादले पर बवाल है-उठते कई सवाल हैं
वेतन के लिए खबर मंत्र के खिलाफ ब्यूरो हेड-रिपोर्टर का मुकदमा
SSP की उपेक्षा से आहत JMM MLA अमित कुमार ने की अपनी सुरक्षा वापस !
गुमला की मीडिया में सड़ांध पैदा कर रखा है ईटीवी का रिपोर्टर!
पगलाया बिहार नगर विकास एवं आवास विभाग, यूं बनाया 2 दिन का सप्ताह
जब लाइव डिबेट में अर्णब के सामने आशुतोष हुए शर्मसार !
गुमला में बन रहा है फर्जी आधार कार्ड
तेजस्वी यादव ने फेसबुक पर लिखा- बिहार में है थू-शासन
मीडियाई चुप्पी के इस षड्यंत्र को तोड़ने की चुनौती
राजगीर के इस खबर की पड़ताल ने मीडया समेत पूरी सिस्टम को यूं नंगा कर दिया
पांकी विधायक विदेश सिंह की आय को लेकर जनहित याचिका
नागालैंड में बेगुनाह फरीद की हत्या के पीछे का षड्यंत्र !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...