मीसा भारती को महंगा पड़ा हार्वर्ड का ‘फेक लेक्चर’ बनना

Share Button
Read Time:0 Second

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती विवादों में आ गई हैं। मीसा पर ने  हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में हुए एक कार्यक्रम के बाद ये दावा कर दिया कि उन्होंने भी इस कार्यक्रम में लेक्चर दिया लेकिन, यूनिवर्सिटी ने उनके इस दावे को गलत बताया। दरअसल, हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में इंडिया कॉन्फ्रेंस हुई, उसमें मीसा भारती को भी ऑडियंस के तौर पर बुलाया गया था।

misa bharti horwordकहते हैं कि कांफ्रेंस खत्म होने के बाद मीसा मंच पर चली गईं और खूब तस्वीरें खिंचवाईं। इसके बाद ये तस्वीरें सोशल साइट फेसबुक के अलावे कई अखबारों को यह कहकर जारी कर दी गई कि उन्होंने इंडिया कॉन्फ्रेंस  में लेक्चर दिया है।

उधर, हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के अनुसार मीसा भारती को श्रोता के तौर पर बुलाया गया था न कि वक्त के तौर पर। इसकी तस्दीक इस बात से की जा सकती है कि उन्होंने कांफ्रेंस में आने के लिए टिकट खरीदा था। उन्हें लेक्चर देने के लिए नहीं बुलाया गया था और उन्होंने यहां कोई लेक्चर नहीं दिया। न ही इस तरह की कोई खबर अमेरिकी अखबारों में छपी है।

misa bhartiवहीं, मीसा भारती के मुताबिक वो फोटो सिर्फ प्रतीक के तौर पर ली गई थी। मुझे एक गेस्ट के तौर पर बुलाया गया था। मैंने कभी भी ये नहीं कहा कि मैं लेक्चर देने गई थी।

misa_bharti_horwrdहॉर्वर्ड ने इस कान्फ्रेंस के वक्ताओं की आधिकारिक सूची भी जारी की है। इस सूची में पूर्व आइपीएस अधिकारी किरण बेदी, सज्जन जिंदल, भारतीय गुणवत्ता परिषद के आदिल जैनुलभाई, वॉकहार्ट के हबील खोडकीवाला, अभिनेता राहुल बोस, कांग्रेस नेता व महाराष्ट्र के पूर्व सीएम पृथ्वीराज चहवाण, पूर्व एनएसए शिवशंकर मेनन जैसी मशहूर हस्तियां शामिल हैं।

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

कोई टिमटिमाती आशा की किरण भी नहीं दिख रही !
सर्जिकल अटैक : देशहित में कई सवाल
पीटीआई और भाषा में हर साल करोड़ों का घपला !
मोदी नहीं, मुबारक का भाषण सुन रहे हैं ओबामा
इस तरह बनाए जा रहे हैं रिपोर्टर- पत्रकार
एनएचएआई वेबसाईट का दावाः रांची-हजारीबाग एन.एच 33 फोरलेन सड़क पर एक भी मौत नहीं !
सियासी सादगी का कोई आठवां अजूबा नहीं हैं केजरीवाल
'राजनामा' की पड़तालः नोटबंदी से बजा जनता का बैंड
इकॉनॉमिक टाइम्स से दिलीप सी. मंडल की दो शिकायतें
कम्यूनल-अनसोशल वीडियो वायरल करने वाले ऐसे पुलिसकर्मी पर हो क्वीक एक्शन
करोड़ो के पार्श्व नाथ की मूर्ति तोड़ने वाले दो अपराधी धराया
We can do it. Yes, We can do it !
लालू-कन्हैया की मुलाकात के बीच शराब कारोबारी की मौजूदगी का क्या है राज !
सीबीआई और दिल्ली पुलिस ने छोटा राजन को लेकर बनाया मीडिया वालों को बेवकूफ
सीएम नीतिश कुमार का फरमान , ईटीवी को कोई बाईट नहीं दें जदयू नेता !
लिव इन रिलेशन छाप पत्रकार और महिला ने सड़क पर की यूं बड़ी नौटंकी  
'इंडियाज़ डॉटर' एक ग्लोबल समस्या के प्रति जागरूकता अभियानः बीबीसी
'राजगीर मलमास मेला सैरात भूमि से SDO-DSP हटायेगें अतिक्रमण और DM-SP करेंगे मॉनेटरिंग'
दैनिक जागरण के फोटो जर्नलिस्ट के साथ मारपीट, ठेकेदार एसडीओ पर मुकदमा !
पत्रकारिता नहीं, राजनीति रही हरिवंश जी के रग-रग में !
पता नहीं कब हम अर्थ और व्यर्थ का अर्थ समझ पायेंगे!
चाहता तो मैं प्रधानमंत्री होता !
डॉ. नीलम महेंद्र को मिला अटल पत्रकारिता सम्मान
युवा पत्रकार मनोज सिंह ने लिखा- मीडिया में 'तल्लूचट्टू' भी एक बीट है!
एक था ‘अखबारों की नगरी’ मुजफ्फरपुर का 'ठाकुर'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
mgid.com, 259359, DIRECT, d4c29acad76ce94f
Close
error: Content is protected ! www.raznama.com: मीडिया पर नज़र, सबकी खबर।