मीडिया-दलाली का कच्चा चिठ्ठा है दैनिक भास्कर रिपोर्टर का यह वायरल ऑडियो

Share Button

वेशक पत्रकारिता के गिरते स्तर के सच को दिखाती एक घटना पूरे पत्रकारिता जगत को शर्मसार कर जाती है। देश ने उपेंद्र राय और नीरा राडिया जैसे हाई-प्रोफाइल दलाली के मामले भी देखे है।”

राजनामा.कॉम। इन दिनों बिहार के हिंदी दैनिक भास्कर अखबार से जुड़े एक रिपोर्टर की बातचीत की ऑडियो खूब वायरल हो रही है। सोशल मीडिया पर वायरल इस ऑडियो क्लिप में बिहार के खगड़िया में पत्रकारिता और दलाली का काला सच बिल्कुल शर्मशार करदेने वाली है।

वायरल ऑडियो क्लिप में हिंदी दैनिक भास्कर अखबार के गोगरी (जमालपुर) अनुमंडल से दैनिक भास्कर के रिपोर्टर गौतम सिन्हा और गोगरी थाना कांड संख्या 77/18 के अभियुक्त रिंकेश कुमार के बीच हुई बातचीत है।

बातचीत में 50 हज़ार रुपयों में थाना और 10 हज़ार रुपयों में अखबार को मैनेज करने की कीमत तय की गई हैं। 

ऑडियो क्लिप में कही गयी बातें पत्रकारिता के नाम पर थाना से लेकर विभिन्न कार्यालयों में हो रही दलाली का काला चिठ्ठा खोलने के लिये काफी है।

वायरल ऑडिओ टेप थाना … पत्रकार … दलाली … शोषण की पोल खोल रही रही है। थाना में दलाली की दुकान खुल गयी है। इस दुकान में पत्रकार भी अपनी दुकान चला रहे हैं।

बातचीत रिंकेश कुमार (नामजद) के मोबाइल नंबर 8757370154 और गौतम सिन्हा (रिपोर्टर) के मोबाइल नंबर 8409353604 के बीच हुई है। बातचीत दिनांक 18 अप्रैल 2018 की सुबह 11 से 2 बजे दोपहर के बीच हुई है।

रिंकेश कुमार स्पष्ट स्पष्ट कहना है कि ऑडियो कॉल में रिपोर्टर गौतम सिन्हा की ही आवाज़ है।

बकौल अभियुक्त रिंकेश कुमार, दैनिक भास्कर के रिपोर्टर गौतम सिन्हा ने उससे पुलिस केस में मदद की एवज में थाना मैनेज करने के 50 हजार और अपने ब्यूरो चीफ सहित ऑफिस खर्च के लिये 10 हजार रुपयों की मांग की गयी। साथ ही रिपोर्टर द्वारा यह भी कहा गया कि उसे ईच्छानुरुप जो लगे सेवा शुल्क दे दिया जाय।

बहरहाल, पूरी ऑडियो सुनने-समझे के बाद यह बात बिल्कुल साफ हो जाती है कि गौतम सिन्हा सरीखे लोगों की मीडिया में पैठ किस खास योग्यता के आधार पर होती है और वे किस तरह के अनैतिक कार्य में मशगुल रहते हैं।

सुनिये  दैनिक भास्कर रिपोर्टर की बातचीत का वायरल ऑडियो.

.  

Share Button

Relate Newss:

सीबीआई की सभी कार्रवाई असंवैधानिकः गुवाहाटी हाईकोर्ट
40 के दशक में दुनिया का सबसे शक्तिशाली देश होगा भारत : भटकर
वाट्सएप की दो टूकः नहीं कर सकते प्रायवेसी का उल्लंघन
हिन्दी के ही एफएम चैनल कर रहे हैं हिन्दी का बेड़ा गर्क :राहुल देव
झारखण्ड जनसम्पर्क निदेशालय में पहली बार यौन उत्पीड़न आंतरिक शिकायत समिति का गठन
पत्रकार पुत्र को शराब पिलाई गई थी या हत्यारों ने पी थी !
श्रीराम पर केस के बाद अब उनके भक्त हनुमान को भेजा नोटिस
‘मास्टर स्ट्रोक’- ABP न्यूज से मिलिंद के बाद पुण्य प्रसून का भी इस्तीफा, अभिसार को छुट्टी!
बिहार भाजपा अध्यक्ष की शर्मनाक पोस्ट- ‘केजरीवाल सा कमीना-राक्षसी प्रवृति का इंसान और प्रियंका गांधी ...
बनारस की संस्कृति बनाम आरएसएस की विचारधारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...