सच्चाई कुछ…छापा-दिखाया कुछ

Share Button
Read Time:1 Minute, 33 Second

तुझे मान गये भाई। तू है असली झारखंडी मीडिया का एक ऐसा बड़ा वर्ग, जिसके चश्में के गर्द साफ करने की कला राजनामा डॉट कॉम  में नहीं है। तू  कुछ भी छाप-दिखा सकते हो। आखिर वाक्य और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता तेरी जागीर जो ठहरी। भला तू भाई लोग राजनामा डॉट कॉम को ये आजादी क्यों दोगे ! ऐसी भी बात नहीं है कि तू सब राजनामा डॉट कॉम या उसके संचालक-संपादक मुकेश भारतीय को नहीं जानते हो। सब जानते हो। लेकिन,सबाल है कि तू लोग एक बड़े समाचार पत्र को छोड़ मेरा साथ क्यों दोगे। वह भी व्यूरोकेट्स और कॉरपोरेटस् मीडिया की विस्तर पर  गहरी नींद में सोई राजनीतिक सत्ता के दौर में। तू सब  भले ही बड़े तीसमार खां संपादक-पत्रकार हो लेकिन, क्या यह कहना गलत है कि तू भाई  लोग किसी को आयना भी नहीं दिखा सकते और नहीं किसी को दिखाने ही दे सकते हो। फिर क्या करुं। आदत से मजबूर हूं। चलो कम से कम ये आयने तो देख लो ताकि पता चल सके कि कौन कहां खड़ा है…………. मामला कुछ…सच्चाई कुछ…छापा-दिखाया कुछ…यह तेरी कैसी पत्रकारिता 🙂

0 0
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
Share Button

Relate Newss:

किसान चैनलः बजट 45 करोड़ और ब्रांड एंबेसडर बने अमिताभ को मिले 6.31 करोड़!
धड़ाधड़ खुल रहे रीजनल चैनलों की कहानी, एक्सपर्ट वासिंद्र मिश्र की जुबानी
पत्रकारिता की आड़ में राष्ट्रव्यापी दलाली का नमुना
इस तरह बनाए जा रहे हैं रिपोर्टर- पत्रकार
बिना हेलमेट बाइक चला रहे छायाकार को पुलिस ने धुना, लगी गंभीर चोट
जी न्‍यूज पर चली झूठी खबर को सच बनाने में सारे चैनल टूट पड़े
आर्गेनाइजर ने लिखा, हिंदू विरोधी हैं FTII प्रदर्शनकारी छात्र !
कम्यूनल-अनसोशल वीडियो वायरल करने वाले ऐसे पुलिसकर्मी पर हो क्वीक एक्शन
संसद में चर्चा हुई तो पहले पन्ने पर छपा तबरेज, पहले होता था उल्टा !
बिहार सरकार के सचिव ने दैनिक जागरण के मुंगेर संस्करण का दिया जांच का आदेश
सोशल मीडिया के सहारे तेजस्वी का भाजपा पर करारा हमला
टीआरपी की होड़ में मर गई मीडिया की नैतिकता!
हाकिमों-नेताओं के दलाल बन गए हैं अखबारों के प्रखंड रिपोर्टर
बाजारू मीडिया को त्याग पत्रकार विनय ने खोला ढाबा
वाह री नालंदा पुलिस ! साजिशन हमले के शिकार पत्रकार को ही बना डाला मुख्य आरोपी
न्यूज़ 18 संवाददाता पर जानलेवा हमला, डीएम से मिले पत्रकार
पूँजीवादी कारपोरेट मीडिया का राजनीतिक अर्थशास्त्र
मीडिया का मुंह सील गये हैं भाजपा के अर्जुन मुंडा !
चैनल खोल पत्रकारों को यूं चूना लगा फरार हुआ JJA का चर्चित अध्यक्ष
इकॉनॉमिक टाइम्स से दिलीप सी. मंडल की दो शिकायतें
एक और पत्रकार पर जानलेवा हमला, पुलिस ने दर्ज नहीं की FIR
 ‘फर्स्ट पोस्ट’ नाम से एक बड़ा अंग्रेजी अखबार शुरू करने वाले हैं मुकेश अंबानी  
पत्रकारों ने बांका के डीएम का पुतला फूंका !
जेयूजे प्रदेश अध्यक्ष रजत गुप्ता का आह्वान- रांची चलो
कानपुर में पत्रकारों का सपा-भाजपा के खिलाफ हल्ला बोल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...