महिला एसपी ने यूं किये ‘खट्टर’ के स्वास्थ्य मंत्री के दांत खट्टे

Share Button

hariyana minister woman sp

हरियाणा के फतेहाबाद में हेल्थ मिनिस्टर अनिल विज और एसपी संगीता कालिया के बीच नशे की तस्करी पर रोक लगाने की बात पर जमकर बहस हुई। बहस इतनी बढ़ गई कि विज ने महिला एसपी से कहा ‘गेट आउट’. इस पर एसपी भी अपनी बात पर अड़ गईं।

उन्होंने कहा ‘मैं नहीं जाऊंगी. आई विल नॉट लीव.’ इस पर मंत्रीजी ही अपने अफसरों और समर्थकों के साथ बैठक छोड़कर चले गए।

दरअसल कष्ट निवारण समिति की बैठक के दौरान एक शिकायतकर्ता नशे पर रोक लगाने की शिकायत लेकर आया था।

इस शिकायत पर मंत्री अनिल विज ने एसपी संगीता कालिया से सवाल पूछा कि नशे पर रोक क्यों नहीं लगाई जा रही है ?  

इस पर महिला एसपी कालिया का जवाब था कि पुलिस कार्रवाई कर रही है। नशे तस्करी के कई मामले दर्ज किए गए हैं, लेकिन आरोपी जमानत पर बाहर आ जाते हैं और फिर से धंधा शुरू कर देते हैं।

इस बात पर महिला एसपी ने कहा, ‘एक दिन में रोकना संभव नहीं है सर, सरकार इन्हें लाइसेंस देती है। नेताओं का संरक्षण मिलता है। सरकार ही इसे रोक सकती है। हम इन लोगों को गोली तो नहीं मार सकते।’

महिला एसपी का यह जवाब सुनकर विज और भड़क गए. और उन्होने एसपी साहिबा को बोला गेट आउट। आप जाइए यहां से। लीव।

इस पर एसपी संगीता ने कहा कि मेरी कोई गलती नहीं है, तो मैं बैठक से नहीं जाऊंगी। नो आई विल नॉट लीव।

बौखलाए मंत्रीजी ही बीच में बैठक छोड़कर अपने समर्थको के साथ चले गए।

इसके साथ-साथ विज ने कहा कि जब तक इस एसपी का तबादला नहीं हो जाता वे फतेहाबाद में इस समिति की बैठक नहीं लेंगे। इस घटना का सारा हाल मुख्यमंत्री को बताया जाएगा।

देखें वीडियो….. 

Share Button

Relate Newss:

पगलाया बिहार नगर विकास एवं आवास विभाग, यूं बनाया 2 दिन का सप्ताह
अगर साईज पता हो तो पाठकों को अंडरगार्मेंटस भी बांट दे अखबार
जेल में ऐश कर रहे महापापी ब्रजेश ठाकुर की बड़ी ‘मछली’ है ‘रेड लाइट एरिया’ की उपज मधु
नालंदा एसपी के कथनी और करनी में फर्क, हर तरफ चोरों की है बहार
RSS का नया एजेंडाः  एक कुआं, एक मंदिर और एक श्मशान
उत्तराखंड के सीएम हरीश रावत ने कहा, गौ-हत्यारों को नहीं है भारत में रहने का अधिकार
दैनिक हिंदुस्तान के पाकुड़ ब्यूरो चीफ पर एफआईआर, अखबार भी हटाया
बिहार आईएस एसोसिएशन के आंदोलन से नीतिश के गुड गवर्नेंस पर उठे सबाल
डीएसपी साहेब बताईये, कौन पी गया प्रतिबंधित अंग्रेजी शराब की 24 बोतलें !
गुजरात में पाटीदारों की चित्कारः खूंखार अपराधी को चुन लो, पर मत दो भाजपा को वोट
'गोरा katora' नहीं हुजूर, लोग कहते हैं 'घोड़ा कटोरा'
अख़बारों से लुप्त होते सामाजिक सरोकार
वार्डन की मेहरबानी, बेटी की जगह 3 साल तक पढ़ाता रहा सेवानिवृत बाप
ख़बरों की आंधी के बीच बेचारे दर्शक
बिहार में पार्टी की बुरी हार का एक बड़ा कारण :भाजपा सांसद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...