मढ़वा के दिन प्रेमी संग फरार प्रेमिका ने ग्राम कचहरी में रचाई शादी !

Share Button

गिरियक, नालन्दा (निसार अंसारी)। “मियां बीबी राज़ी तो क्या करे क़ाज़ी “। इस कहावत का चरितार्थ फिर सामने आया जब दो प्रेमी युगल ने सारे बन्धन तोड़कर ग्राम कचहरी का सहारा लेकर एक दूसरे के विवाह के बंधन में बंध गए।

मामला सहायक थाना क्षेत्र के पुरी गांव की है। 5 मई को  प्रेमिका ने अपनी मर्जी के खिलाफ हो रही विवाह की सूचना अपने प्रेमी को दिया और दोनों भागकर दो दिन बाद खुद पोखरपुर पंचायत के पुरी गाँव पहुंच गए।

प्राप्त समाचार के अनुसार पुरी ग्राम निवासी महादलित परिवार के हीरो रविदास का पुत्र 21 वर्षीय बीरो कुमार को मोसेपुर पुर निवासी गया रविदास की पुत्री फूल कुमारी के साथ प्रेम हो गया। विगत एक वर्ष से फूल कुमारी एवं बीरो कुमार के साथ प्रेम प्रसंग इतना गहरा गई कि दोनों एक साथ जीने मरने का संकल्प ले भी कर लिए।

इसी बीच लड़की के पिता गया रविदास अपनी पुत्री का अन्यत्र शादी तय कर दी। शादी का रश्मों रिवाज भी लड़की के घर आरम्भ हो चुका था। यह बात लड़की फूल कुमारी ने अपने प्रेमी बीरो को बताया और प्रेमिका ने उसे भगा ले जाने को कहा।

आनन फानन में प्रेमी बीरो प्रेमिका फूल कुमारी का घर रहुई थाना के मोसेपुर पहुंचा और प्रेमिका को शौच के बहाने घर से बाहर आने को कहा तथा रातों रात प्रेमि प्रेमिका को लेकर फरार हो गया। दूसरे दिन प्रेमी प्रेमिका को लेकर अपने घर पुरी गांव पहुंच गया।

बता दें कि उसी दिन लड़की के घर मंडपा छादन का कार्यक्रम भी था। घर में फुल कुमारी को नहीं देख कोहराम मच गया। परिजन लड़की की खोजबीन शुरू कर दी। हालांकि प्रेम प्रसंग की बात लड़की के परिवार वालों को पहले से पता था।

इधर दोनों जोड़ी शादी करने के लिए कोर्ट कचहरी का सहारा लेने को तैयार थे। परिवार वालों के साथ लड़की के पिता लड़की फुल कुमारी की तलाश में पुरी गांव लड़की की बहन के घर पहुंचे तो सारा मामला उल्टा दिखा।

मामला ग्राम कचहरी पहुंचा, जहां ग्राम कचहरी के सरपंच एवं कार्यकारणी के सदस्य इकठ्ठा हुए। लड़का लड़की दोनों के परिजन भी ग्राम कचहरी पहुंचे। दोनों युगल जोड़ी की मामला को ग्राम कचहरी के समक्ष रखा गया। प्रेमी एवं प्रेमिका के जिद आगे किसी की नहीं चली। दोनों के एक दूसरे के साथ शादी रचाने को तैयार होने के चलते लड़का और लड़की के माता पिता का आपसी सहमति मिल गयी।

नतीजा निर्विरिध हुए सरपंच सनोज कुमार की पूरी बेंच ने पोखरपुर ग्राम कचहरी में एक इतिहास बनाते हुए आदर्श शादी रचवा दी। शादी सादे रीति रिवाज में सम्पन्न हुआ। लड़का लड़की एक दूसरे के गले में खुशी खुशी वर माल डालकर सदा के लिये विवाह के बंधन में बंध गए।

इधर उपस्थित ग्राम कचहरी एवं ग्रामीणों ने जय माला का रश्म पुरा कर लड़की को सिंदूर दिलवा कर आदर्श विवाह को अम्पन्न कराया।

बता दें कि दुल्हन बनी फूलकुमारी प्रेमी बीरो कुमार की मामी की बहन है जिसके चलते युवक का आना जाना लगा रहता था। आने जाने के क्रम में दोनों का आंखें चार हुई और मामला शादी रचाकर साथ जीने मरने की नौबत आ गयी।

इस शादी के मौके पर उप सरपंच केदार महतो, न्याय मित्र बिनोद कुमार, न्याय सचिव अतिश कुमार, न्याय के सदस्य गण विपिन सिंह, विभा देवी, किरण देवी, सांस्था से जुड़ी अंजनी देवी सहित काफी संख्या में महिला पुरुष व ग्रामीण मौजूद थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *