भोपाल मुठभेड़ की जांच से शिवराज सरकार का साफ इन्कार

Share Button

भोपाल।  आठ सिमी कार्यकर्ताओं से कथित मुठभेड़ मामले में सवालों का सामना कर रही मध्यप्रदेश सरकार अब इस मुठभेड़ की जांच नेशनल इंवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) से नहीं कराएगी. राज्य के गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा है कि एनआईए केवल सिमी सदस्यों के जेल से फ़रार होने की जांच करेगी.

mp-simiराज्य सरकार भले ही मुठभेड़ की जांच से इनकार कर रही है लेकिन राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने आठ विचाराधीन क़ैदी की कथित पुलिस मुठभेड़ में हुई मौत पर स्वंय संज्ञान लेते हुए इस मामल में मध्यप्रदेश के मुख्य सचिव, डीजीपी, जेल के डीजी और आईजी को नोटिस जारी कर उनसे छह हफ़्ते में जवाब मांगा है.

एमपी के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि जिन परिस्थियों में एनकाउंटर किया गया, उसकी पूरी जानकारी पुलिस दे चुकी है इसलिये इसमें ज़्यादा बोला जाना ठीक नही है.

सोमवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एक प्रेस कांफ्रेंस में घोषणा की थी कि सिमी सदस्यों के जेल से भागने और उनके एनकाउंटर की जांच एनआईए करेगी.

new-delhiमाना जा रहा है कि सिमी कार्यक्रताओं के साथ मुठभेड़ को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हुए आधा दर्जन वीडियो आने के बाद पुलिस के एनकाउंटर के दावे शक के घेरे में आ गए हैं इसी वजह से सरकार मुठभेड़ की जांच एनआईए से कराने से पीछे हट रही है.

इधर राजधानी दिल्ली के जंतर मंतर पर कई संगठनों ने भोपाल में कथित मुठभेड़ के विरोध में प्रदर्शन किया.

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...