भारतीय संविधान पर ‘डर्टी पॉलिटिक्स’ का प्रहार !

Share Button

durtti polticsवेशक जल्द ही रिलीज होने वाली हिन्दी फिचर फिल्म ‘डर्टी पॉलिटिक्स’ के खिलाफ कड़े अभियान शुरू करने की जरुरत है। क्योंकि इस फिल्म से जुड़े तमाम लोगों के लिये राष्ट्र और उसका स्वभिमान कोई मायने नहीं रखते साफ प्रतीत हो रहे हैं।

इस फिल्म के प्रमोशन के लिए जारी एक पोस्टर में फिल्म की नायिका को अपने अर्धनग्न बदन बदन पर तिरंगा लपेट लाल बत्ती लगी एक ऐसे कार की छत पर बैठा दिखाया गया है, जिस लाल बत्ती का उपयोग लोकतंत्र के चार स्तंभें में से तीन स्तंभों के शीर्ष पदों पर विराजमान अधिकारी करते हैं।

एक ओर पूरा राष्ट्रजहां राष्ट्रभक्ति से सारोबोर होकर आने वाले स्वतंत्रता दिवस की तैयारियों में लगा है, वहीं इस फिल्म के पोस्टर ने हमारे तिरंगे का जिस तरह अपमान किया है, वह किसी भी परिस्थिति में बर्दाश्त से बाहर है ।

समझ में नहीं आता है कि मशहुर फिल्म निर्माता-निर्देशक के सी बोकाडि़या, अभिनेत्री मल्लिका शेरावत के आलावे केन्द्रीय फिल्म सेंसर बोर्ड और केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्रालय की राष्ट्रीय संस्कृति इतनी मृतप्राय क्यों हो चली है।

Share Button

Relate Newss:

सरकार और एनजीओ चलाने में फर्क होता है केजरीवाल जी
सावधान! जमशेदपुर-सरायकेला के ग्रामीण ईलाकों में ‘केसरी गैंग’ ने मचा रखा है यूं कोहराम
पूँजीवादी विज्ञापन जगत का सन्देश: खरीदो और खुश रहो!
आपकी पार्टी भी कोई दूध की धूली नहीं है शरद यादव जी
दिमाग कंपा जाती है पत्रकार संदीप कोठारी का शव !
पटना बेऊर जेल में कैद आतंकियों के हमले में कई पुलिसकर्मी घायल
राष्ट्रीय पुरस्कार लौटाने वाले समेत 24 हस्तियों में सईद मिर्जा, कुंदन शाह, अरुंधति राय भी शामिल
आखिर पत्रकार वीरेन्द्र मंडल के पिछे हाथ धोकर क्यों पड़ी है सरायकेला पुलिस
डीएसपी के झांसे में नहीं आए पत्रकार, आमरण अनशन जारी
पत्रकार सुरक्षा कानून एवं आवास योजना की आवाज लोकसभा में उठायेंगे गिलुवा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...