बड़ा सेलीब्रेटी फीगर है ‘आसरा’ की संचालिका, कई ब्यूरोक्रेट्स-लीडरों का है संरक्षण

Share Button

राजधानी पटना के राजीव नगर स्थित जिस आसरा गृह में रहा रही दो महिलाओं की मौत हो गई। उसकी संचालिका मनीषा दयाल एक बड़ा सेलीब्रेटी चेहरा है। उसके कई प्रभावशाली व्यूरोक्रेट्स और राजनेताओं से गहरे संबंध रहे हैं…..”

पटना (विनायक विजेता)। इस आश्रय गृह में रहने वाली दो महलाओं की मौत संदिग्ध परिस्थित में हो गई। महिलाओं की मौत के बाद उन्हें पीएमसीएच ले जाया गया, जहां पूर्व में ही मौत की हुई पुष्टि के बाद इस संस्था के संचालकों ने एक का शव चुपके से जला दिया और दूसरे शव को भी ले जाने के फिराक में थे, जिसकी भनक पुलिस को लग गई और पुलिस ने लाश को अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

रविवार को पटना के डीएम कुमार रवि और एसएसपी मनु महाराज इस आसरा गृह में जाकर लगभग पांच घंटे की छानबीन के बाद संस्था की संचालिका मनीषा दयाल, चिरंतन कुमार सहित चार लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार करने का आदेश जारी कर दिया।

मनीषा दयाल को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है। मनीषा दयाल, जो पहले से ही एक संस्था ‘अनु माया ह्यूमन रिसोर्स फांउडेश’ की बिहार प्रदेश की अध्यक्ष है, की पहुंच और पैठ काफी उपर तक है।

मनीषा के संपर्क में कई राजनेता और ब्यूरोक्रेट्स रहे हैं। बिहार के पूर्व मंत्री व फुलवारी शरफ के जदयू विधायक श्याम रजक के आवास पर मनीषा का अक्सर आना जाना होता था।

मुजफ्फरपुर कांड के बाद चर्चा में आए एक वरीय आईएएस अधिकारी की पत्नी से मनीषा लगातार संपर्क में रहती थी। 

इनके अलावा भी उसके बहुत उंचे संपर्क है। मनीषा के इन्हीं संपर्को के कारण यह कयास लगाया रहा है कि पटना पुलिस पूरे मामले का उद्भेदन करेगी या मनीषा की उपरी पहुंच पुलिस पर भारी पड़ेगी।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...