बिहार में निष्पक्ष और निर्भीक पत्रकारिता की आवश्यकता : मंत्री प्रेम कुमार

Share Button

पटना। राज्य के कृषि मंत्री डॉक्टर प्रेम कुमार ने कहा है कि बिहार में निष्पक्ष एवं निर्भीक पत्रकारिता करना समय की आवश्यकता है। पत्रकारों को जनता की समस्याओं को उठाना चाहिए। प्रेस लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है इसलिए इसकी स्वतंत्रता की रक्षा भी होनी चाहिए ।

मंत्री प्रेम कुमार ने उक्त बातें रविवार को बिहार श्रमजीवी पत्रकार यूनियन की ओर से मूर्धन्य पत्रकार और अमृत वर्षा के संपादक स्वर्गीय पारसनाथ तिवारी की श्रद्धांजलि सभा में कहीं।

श्रद्धांजलि सभा में बड़ी संख्या में पत्रकार और छायाकार और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार पहुंचे थे।

मंत्री जी ने कहा कि स्वतंत्र पत्रकारिता की मशाल को जलाए रखना है उनके बताए रास्ते पर चलकर ही सुंदर बिहार का निर्माण किया जा सकता है।

उन्होंने कहा कि पारसनाथ जी के निधन से पत्रकारिता जगत को अपूरणीय क्षति पहुंची है।

मौके पर बिहार श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के महासचिव प्रेम कुमार ,विश्व संवाद केंद्र के संजीव कुमार ,कृष्णकांत ओझा, देवव्रत, राजकिशोर ,धर्मेंद्र,सिद्धार्थ, राकेश रंजन ,शशि उत्तम ,आकाश, उमेश कुमार ,राकेश कुमार , एस. एन. श्याम , विश्वपति, विद्यानन्द , क्रांति, अनिल, मुकेश, पत्रकार भाइयों ने अपने विचार प्रकट किए ।

स्वत्व पत्रिका के संपादक कृष्ण कांत ओझा ने स्वर्गीय तिवारी के उनके कार्यों का वर्णन किया । धन्यवाद ज्ञापन इटीवी के संजय कुमार ने किया।

Share Button

Relate Newss:

30 हजार रुपये प्रति किलो वाली सब्जी रोज खाते हैं पीएम मोदी
स्वाभिमान रैलीः गांव-गरीब पर लालू की पकड़ बरकरार
बहुत जरुरी है सोशल साइट से मिली तस्वीरों की जाँच
बिहार में एक बार फिर, नीतिश सरकार :पोल ऑफ एक्जिट पोल्स
इधर आमरण अनशन पर बैठे पत्रकार की हालत बिगड़ी, उधर राजनीति करने में जुटी पुलिस-संगठन
बिहारी बाबू ने पीएम मोदी को दी सलाह, न छेड़ें बिहारी अस्मिता
दैनिक जागरण पर चुनाव आयुक्त ने दिया FIR दर्ज करने का निर्देश
बराक ओबामा की शान या उनकी कायरता की पहचान !
केस रियल रिट्रीट होटल काः पूल पार्टी या नशा-सेक्स कारोबार ?
बीफ का बिजनेस करने वाले 95% हिन्दू, विधायक और सांसद चलाते हैं बीफ कंपनियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...