बिहार को ललकारने वाले मोदी को घुटने टेकने पड़े :नीतिश

Share Button

पटना के गांधी मैदान में आ स्वाभिमान रैली को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा हमला बोला।

Nitish_patnaनीतीश ने कहा कि आज स्वाभिमान रैली है और आज ही के दिन देश के प्रधानमंत्री को भूमि अधिग्रहण विधेयक पर झुकना पड़ा है। नीतीश ने कहा कि मोदी सरकार जमीन अधिग्रहण विधेयक लेकर आई थी, आज उसपर उसे कदम वापस लेने पड़े।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने 11वें ‘मन की बात’ कार्यक्रम में कहा कि उनकी सरकार भूमि अधिग्रहण अध्यादेश को फिर से जारी नहीं करेगी। यह अध्यादेश सोमवार को अप्रभावी हो जाएगा। रेडियो प्रसारण कार्यक्रम ‘मन की बात’ में मोदी ने कहा, ‘अध्यादेश कल अप्रभावी हो जाएगा और हम इसे फिर से जारी नहीं करेंगे।’

नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा हमला बोला। नीतीश ने कहा कि आज स्वाभिमान रैली है और आज ही के दिन देश के प्रधानमंत्री को भूमि अधिग्रहण विधेयक पर झुकना पड़ा है।

उनके मुताबिक अध्यादेश में 13 केंद्रीय कानूनों को मिला दिया गया था। मोदी ने कहा, ‘किसानों के हित के लिए सरकार कुछ भी करने के लिए तैयार है।’ 13 केंद्रीय कानूनों में राजमार्ग और रेलवे से संबंधित कानून भी शामिल हैं।

पीएम मोदी की इसी बात पर हमला बोलते हुए नीतीश ने कहा, ‘चले थे बिहार को ललकारने, आज घुटने टेकने पड़े।’ मोदी सरकार पर अपना गुस्सा निकालते हुए नीतीश ने आगे कहा कि आज पीएम के ‘मन की बात’ नहीं थी, बल्कि देश की ‘जनता के मन की बात’ थी।

काला धन को लेकर पीएम को निशाने पर लेते हुए नीतीश ने चुटकी ली और कहा कि वह काला धन वापस लाने की बात करते हैं, जनता के बैंक में डालने की बात करते थे। अरे बोहनी तो कर देते?

डीएनए विवाद पर नीतीश का मर्म भी आज खूब छलका। नीतीश ने बार-बार जोर देकर कहा, मेरे डीएनए को गड़बड़ कहा? मेरे डीएनए को गड़बड़ कहा? मैं आपका (बिहार का) हूं। आजादी की लड़ाई की बात करते हुए नीतीश ने कहा कि जिनके पूर्वजों का देश की आजादी में कोई योगदान नहीं है, वो हमारे डीएनए को गड़बड़ कहते हैं?

नीतीश ने कहा, ‘पहले वाले पीएम कम बोलते थे, आदत थी उनकी कम बोलने की। ये आए हैं जो बोलते ही रहते हैं, किसी की सुनते नहीं। दिल्ली की पुलिस को मोदी जी ही कंट्रोल करते हैं लेकिन बिहार में दिल्ली से कम अपराध हैं।’

Share Button

Relate Newss:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...