बिल्डर अनिल सिंह का सहयोगी फिल्म पीआरओ रंजन सिन्हा  गिरफ्तार

Share Button

-विनायक विजेता-
तीन दिन पूर्व हुए एक्जीविशन रोड हंगामा मामले में गांधी मैदान पुलिस ने भोजपुरी फिल्मों के पीआरओ रंजन सिन्हा को गांधी मैदान पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया।

गांधी मैदान थाना प्रभारी नीखिल कुमार ने बताया कि इस मामले में बिल्डर अनिल सिंह सहित 11 नामजद आरोपितों में रंजन सिन्हा का भी नाम है जिसके कारण उसे गिरफ्तार किया गया है।

प्रखंड स्तर पर पटना से प्रकाशित एक लोकप्रिय दैनिक में वैशाली जिले के एक प्रखंड से अपनी पत्रकारिता जीवन की शुरुआत करने वाला रंजन बाद के दिनों में फिल्मी क्षेत्र से जुड़ गया खासकर बिहार में भोजपुरी फिल्मों के प्रमोशन में रंजन सिन्हा का महत्वपूर्ण योगदान माना जाता है।

रंजन के भोजपुरी फिल्मों के लगभग सभी स्टार और गायक सहित वॉलीवुड के अभिनेता सुनील शेट्टी सहित कई अभिनेताओं से संपर्क हैं। एक्जीविशन रोड मामले में मुख्य आरोपित पाटलिपुत्र बिल्डर के एमडी अनिल सिंह ने जब पिछली बार स्थानीय प्राधिकार के तहत आरा-बक्सर निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद का चुनाव लड़ा था तो रंजन को ही अनिल सिंह ने एक गायक-अभिनेता और वर्तमान में सांसद के कहने पर अपना पीआरओ बनाया था उसके बाद से रंजन सिन्हा अनिल सिंह से लगातार संपर्क में था और उसकी कंपनी के पीआरओं का भी अतिरिक्त कार्यभार संभाल रखा था।

रंजन के परिजनों के अनुसार बिल्डर अनिल सिंह के साथ रंजन का प्रोफेशनल संबंध है न की व्यक्तिगत। इसी प्रोफेशनल संबंध के कारण रंजन सिन्हा को अनिल सिंह के साथ उनके कई कार्यक्रम में देखा गया। हालांकि मृदुभाषी रंजन के खिलाफ इसके पूर्व कहीं भी कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं है। पर इस मामले में उसके आरोपित होने की सच्चाई क्या है यह पुलिसिया जांच में ही सामने आएगी।

Share Button

Relate Newss:

एनएजे ने सीएम को लिखा पत्र- पत्रकार को तत्काल रिहा कर नालंदा डीईओ पर हो कड़ी कार्रवाई
भोजपुरी गायक पवन सिंह की पत्नी ने खुदकुशी की
रांची कॉलेज को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी यूनिवर्सिटी बनाने गवर्नर की सहमति
अपनी हक हकूक के लिये 'हिलसा आंचलिक पत्रकार' का गठन
नाबालिग छात्रा की थाने में जबरिया शादी मामले को यूं उलटने में जुटे कतिपय लोकल रिपोर्टर
बिहार महासंग्राम में मोदी का 53 तो सोनिया का 100 रहा चुनावी स्ट्राइक रेट
ऐय्याश-भगोड़ा विजय माल्या को भारत लाना दूर की कौड़ी, गिरफ्तारी के 3 घंटे बाद ही रिहा
वरीय पत्रकार राम बिलास को राजगीर के एक अतिक्रमणकारी ने सरेराह दी ऐसी धमकी !
सांसद घेरो आंदोलन का मुख्य केंद्र होगा फि़ल्म 'जियो और जीने दो
श्रीकृष्ण प्रसाद को मातृशोकः नहीं रहीं मुंगेर की 81वर्षीय महिला पत्रकार सावित्री देवी
अनिल अंबानी को तिलैया UMPP में नहीं दिखे अच्छे दिन
राजस्थान के IPS अफसर से ठगी कर भागे 4 साइबर अपराधी राजगीर में धराये
'महापाप की कवरेज' पर बोले मी लार्डः ‘मीडिया की आजादी के खिलाफ नही हैं हम’
अमेरिकी दूतावास ने यूं पढ़ाया इस बड़े रूसी अखबार को व्‍याकरण का पाठ
कहीं दूसरा 'हूल’ न बन जाये पत्थलगड़ी ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...