फर्जी डिग्री देती है मैनेजमेंट गुरु अरिंदम चौधरी की IIPM

Share Button

राजनामा.कॉम।  विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) का कहना है कि मशहूर मैनेजमेंट गुरु अरिंदम चौधरी अपने संस्थान आईआईपीएम के जरिए छात्रों को धोखा दे रहे हैं, क्योंकि यह संस्थान किसी भी नियामक संस्था से मान्यता प्राप्त नहीं है।

iipm_scamदिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने  चौधरी के खिलाफ यूजीसी की शिकायत पर केस दर्ज किया है।

अपनी शि‍कायत में यूजीसी ने कहा है कि अरिंदम चौधरी के संस्थान इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ प्लानिंग एंड मैनेजमेंट के पास मैनेजमेंट की डिग्री देने का अधि‍कार नहीं है क्योंकि, यह इसके लिए मान्यता प्राप्त नहीं है।

क्राइम ब्रांच ने शि‍कायत के आधार पर आईपीसी की धारा 420 (धोखाधड़ी) के तहत संस्थान के डीन और निदेशक अरिंदम चौधरी के खि‍लाफ मामला दर्ज कर लिया है।

इसके साथ उनके पिता मलयेंद्र किशोर चौधरी के खि‍लाफ भी मामले में केस दर्ज किया गया है।

पुलिस का कहना है कि वह अभी मामले में जांच कर रही है और अलगे सप्ताह तक जरूरी कार्रवाई कर सकती है।

गौरतलब है कि मौजूदा सत्र में भी आईआईपीएम में हजारों बच्चों का अंडरग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट प्रोग्राम के तहत दाखि‍ला लिया गया है। इसमें 22 महीने के लिए 5 लाख से 14 लाख तक की फीस वसूली गई है।

Share Button

Relate Newss:

गुजराती मोदी को बिहारी मोदी पर नहीं है भरोसा ?
बिहार सरकार के सचिव ने दैनिक जागरण के मुंगेर संस्करण का दिया जांच का आदेश
नीतिश जी देखिये, अपने चहेतों के भ्रष्ट्राचार का उड़ता स्टेडियम !
सांसद रामटहल चौधरी तक के घर की नाली का पानी स्कूल परिसर में होता है जमा
सृजन महाघोटालाः सीबीआई की रडार पर नेताओं,अफसरों के साथ पत्रकार भी
मोदी राज के किसान क्यों कर रहे हैं आत्महत्या?
ऐसा फेसबुकिया भक्त, जिसने किया मोदी की नाक में दम !
मोदी जी का 'लूट लो झारखण्ड' ऑफर
3 साल बाद भी CID को नहीं मिला शरतचंद्र हत्या कांड का सुराग, CBI जांच की मांग
अंधविश्वास में फंसे नाग ‘देवता’ !
'मलमास मेला सैरात भूमि को 3 सप्ताह के अंदर अतिक्रमण मुक्त कराएं राजगीर सीओ'
मीडिया के विरुद्ध पब्लिक ट्रायल की जरुरतः केजरीवाल
राबड़ी के कटाक्ष ने पहना दी आरएसएस को फुलपैंटः लालू
नागपुर में नितिन गड़करी का पोस्टर, बताया 'विदर्भ का डाकू'
पत्रकार प्रताड़ना को लेकर यूं मुखर हुए पूर्व विधायक अनंत राम टुडू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...