प्रेम प्रसंग में हत्या के बाद उपद्रवियों का तांडव

Share Button

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के अजीतपुर में सन्नाटा है। दो पक्षों में हिंसक झड़प में यहां तीन लोगों की मौत के बाद चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बल के जवान तैनात हैं। अधिकारी मौके पर कैंप कर रहे हैं। सीएम जीतनराम मांझी सारी स्थिति पर खुद नजर रखे हुये हैं।

बताया जाता है कि नौ जनवरी से लापता भारतेन्दु नामक युवक की लाश मिलने पर मुजफ्फरपुर जिले के सरैया में जमकर उपद्रव हुआ। भीड़ ने अपहरण के आरोपित के घर समेत दर्जनों घरों में आग लगा दी और लोगों के साथ मारपीट की। उपद्रवियों ने दो दर्जन से अधिक वाहन भी फूंक डाले।  इस हिंसक झड़प में तीन लोगों की मौत हो गई। एसएसपी रंजीत कुमार मिश्रा के अनुसार इस मामले में अब तक 10 उपद्रवियों को पकड़ा गया है।

muz_policeबताते हैं कि भारतेन्दु पड़ोस के गांव की लड़की से प्रेम करता था। 9 जनवरी को वह लापता हो गया। भारतेन्दु के पिता कमल सहनी ने लड़की के भाई सदाकत के खिलाफ अपहरण की एफआईआर कराई थी। 18 जनवरी को जब जमीन में गड़ी भारतेन्दु की लाश मिली तो लोग उग्र हो गए। बकौल एसएसपी रंजीत कुमार मिश्र, प्रेम प्रसंग में अपहरण कर हत्या की गयी है। जलने से दो की मौत हो गयी है। मारपीट में एक मौत हुई है। हत्या के मुख्य आरोपी और दस हमलावर दबोचे गए हैं।

एडीजी पुलिस मुख्यालय गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा है कि माहौल बिगाड़ने वालों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगा। दोनों मामलों में कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी। स्थिति पर पुलिस मुख्यालय नजर रख रही है।

ajitpurआईजी पारस नाथ के अनुसार स्थिति नियंत्रण में है। उन्होंने 6 घंटे तक मौके पर खुद कैम्प कर बिगड़ी स्थिति को संभालने का हरसंभव प्रयास किया है। मौके पर डीआईजी, एसएसपी समेत पुलिस टीम जमी हुई है। पड़ोसी जिलों से भी पुलिस बुलायी गई है।

इधर बिहार के सीएम जीतनराम मांझी ने मृतकों के आश्रितों को पांच लाख तथा घायलों को पचास हजार का मुआवजा देने का आदेश दिया है। उन्होंने बताया कि घायलों का इलाज सरकारी खर्चे पर हो रहा है। क्षतिग्रस्त घरों का पुनर्निर्माण भी सरकार कराएगी। सीएम ने स्थायी तौर पर उक्त गांव में पुलिस आउटपोस्ट बनाने का ऐलान किया है ।

घटना को मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुये कहा कि जांच का जिम्मा गृह सचिव व एडीजी (पुलिस मुख्यालय) को संयुक्त रूप से सौंपा गया है। इस घटना के बाद सीएम ने अपनी मुंबई यात्रा बीच में ही स्थगित कर वापस पटना लौट आये हैं। उन्होंने मुजफ्फरपुर व पड़ोसी जिले के सभी मंत्रियों को घटनास्थल पर जाने को भी कहा है।

Share Button

Relate Newss:

अब्दुल हामिद ने इंटिग्रेटेड फार्मिंग के जरिए बदली गांव की सूरत
बिहार का 'डीएनए' ही ऐसा है कि विश्व नेता को जिला नेता भी न रहने दिया
बोलिये सूचना भवन के शुक्राचार्य की जय...
जान हथेली पर लिये पढ़ने जाने को विवश हैं बच्चें !
लालू स्तर तक जा गिरे हैं दादरी और दलितों की हत्या पर मौन मोदी : अरुण शौरी
मेरे लेवल का नहीं है पद्म श्री सम्मान :सलीम खान
हरिबंश को मिली चाटुकारिता का ईनाम
मुंगेर के वयोवृद्ध स्तंत्रतासेनानी व पत्रकार काशी प्रसाद जी नहीं रहे
चाऊ एन लाई द्वारा प्रदत्त बौद्ध ग्रंथ त्रिपिटक को देख अह्लादित हुए चीनी पत्रकार दल   
बिहारः मामला एक और दर्ज हुई तीन एफआईआर !
यह है दैनिक जागरण की शर्मशार कर देने वाली पत्रकारिता
पत्रकारों ने बांका के डीएम का पुतला फूंका !
गेहूँ उत्पादन के लिए बिहार को मिला कृषि कर्मण पुरस्कार
इन दिनों काफी सुर्खियों में है सरायकेला दैनिक जागरण का यह रिपोर्टर !
पटना में ही था हैदर अली संग तहसीन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...