प्रभात खबर के खिलाफ बैनर पोस्टर लेकर सड़क पर उतरे  शिक्षक

Share Button

प्रभात खबरअब शिक्षक भी मीडिया की दबंगई से आजिज आकर सड़क पर उतरने लगे हैं। सोमवार को कुछ ऐसा ही दृश्य बिहार के मोतिहारी की सडकों पर देखने को मिला। ‘शिक्षक दलाल कैसे?

 प्रभात खबर बताये’ जैसे स्लोगन लिखे स्टीकर व पोस्टर लगाये गाड़ियों पर जब हुजूम में शिक्षक सड़क पर उतरे तो खबर लिखने वाले पत्रकार अपनी औकात पर आ गए।

फोन पर मनाने का सारा प्रयास विफल होने के बाद प्रभारी सहित प्रभात खबर की टीम ने शिक्षकों के बैठक स्थल के बगल में जिला परिषद परिसर में शिक्षकों के प्रतिनिधिमंडल से बातचीत कर मामले को रफादफा करने की कोशिश की।

प्रभात खबर लगातार कोचिंग के विरुद्ध श्रृंखला में खबर छापकर शिक्षकों पर दबाव बना रहा था। इसके खिलाफ जब शिक्षकों की गोलबंदी तेज हुई तो स्थानीय प्रभारी सच्चिदानंद सत्यार्थी सहित संवाददाता अमृतेश व छायाकार सुजीत पाठक के पांवों तले की जमीन खिसक गई।

रविवार से लेकर सोमवार की सुबह तक जब इधर-उधर की पैरवी से बात नहीं बनी और शिक्षक आन्दोलन पर उतारू हुए तो शिक्षक शरणम् गच्छामि हो गए।

कोचिंग संचालकों का कहना है कि कुछ छपास नेताओ का बयान छापकर वे हमारा भयादोहन करते हैं। किसी खबर में किसी शिक्षक का पक्ष नहीं लिया गया है।

जहाँ तक निबंधन की बात है तो राजधानी पटना में भी एक भी कोचिंग निबंधित नहीं है।

ऐसे में शिक्षा के क्षेत्र में इस पिछड़े व गरीब इलाके में कोचिंग निबंधित होंगे तो इसका अधिभार छात्रों पर ही पड़ेगा। साथ ही महँगी शिक्षा होने से गरीब छात्र शिक्षा से वंचित होंगे।

Share Button

Relate Newss:

अश्विनी गुप्ता अपहरण में कुख्यात पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को मिले थे ढाई करोड़ रुपये
मोदी-सरकार की आलोचना के शिकार बने पंकज श्रीवास्तव !
सप्ताह भर पहले ही झारखंड की शिक्षा मंत्री ने दे दी थी श्रद्धांजलि !
पीएम को विज्ञापन बनाने वाले जिओ पर महज 500 जुर्माना !
'एक्सपर्ट मीडिया न्यूज' से बोले नालंदा एसपी- अब यूं जारी नही होगी प्रेस विज्ञप्ति
लक्षमणपुर बाथे नरसंहारः न्याय पर उठा सबाल
'कांग्रेस मुखपत्र' ने की नेहरू और सोनिया की आलोचना, कंटेंट एडिटर बर्खास्त
मीडिया की परेशानी और चुनौतियों को भारत सरकार तक पहुंचाए पीआईबी
राजू अचानक क्यों बन गया जेंटिल मैन?
हजारीबाग पुलिस के रडार पर हैं कांग्रेस विधायक निर्मला देवी
पत्रकारिता की आड़ में राष्ट्रव्यापी दलाली का नमुना
टाटा स्टील के मजदूर से सीएम बने हैं रघुवर दास !
नीतिश कुमार ने निभाया अहम वादा, बिहार में शराबबंदी की घोषणा
‘इंडिया टीवी’ के रजत शर्मा की क्रिकेट में इंट्री, चुने गये DDCA  अध्यक्ष
मोदी मैजिक की 'डबल हैट्रिक' के बीच कांग्रेस भी उभरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...