पत्रकार रंजन हत्याकांड के आरोपी को सीबीआई कोर्ट से जमानत

Share Button

मुजफ्फरपुर। बिहार के सीवान में पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड के आरोपी और पूर्व सांसद शहाबुद्दीन के करीबी कहे जाने वाले मोहम्मद कैफ को सीबीआई कोर्ट से जमानत मिल गई है।

सीबीआई की विशेष कोर्ट ने गुरुवार को कैफ को जमानत दी। इस मामले की जांच कर रही सीबीआई की ओर से 90 दिनों के अंदर केस में चार्जशीट जमा नहीं की गई थी जिसके बाद कोर्ट ने कैफ को जमानत दे दी।

राजदेव रंजन की हत्या 13 मई 2016 को सीवान के रेलवे स्टेशन के पास हुई थी। इस केस में शहाबुद्दीन को भी आरोपी बनाया गया था और पुलिस ने 5 शूटरों को भी गिरफ्तार किया था। मालूम हो कि पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड में कैफ का नाम आया था।

इसके बाद उसने पुलिस के दवाब में कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था. कैफ को सीवान के बाहुबली नेता और पूर्व सांसद शहाबुदद्दीन का करीबी भी बताया जाता रहा है। राजदेव रंजन मर्डर केस में नाम आने के बाद उसकी तस्वीरें सूबे के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव के साथ भी वायरल हुई थी। कैफ ने कहा था कि तेजप्रताप मेरे आइकॉन हैं। मैं पॉलिटिक्स ज्वाइन करना चाहता हूं।

वह भागलपुर जेल से शहाबुद्दीन की रिहाई के समय कैफ उसे रिसीव करने आया था। कैफ काफिले के साथ-साथ सीवान और शहाबुद्दीन के गांव प्रतापपुर भी गया था।

13 मई को हुई थी पत्रकार की हत्या

जर्नलिस्ट राजदेव रंजन की हत्या 13 मई 2016 को सीवान के रेलवे स्टेशन के पास हुई थी। इस केस में शहाबुद्दीन को भी आरोपी बनाया गया था। पुलिस ने 5 शूटरों को अरेस्ट किया था।

पुलिस को पता चला था कि लड्डन मियां के कहने पर राजदेव को गोली मारी गई थी। लड्डन शहाबुद्दीन का करीबी बताया जाता है। उसने सरेंडर कर दिया था। फिलहाल इस केस की सीबीआई जांच कर रही है।

Share Button

Relate Newss:

मैं ही सबका पूर्वज हूं, मैं आदिवासी हूं।
रेलवे की जमीन से जारी पशुओं की अवैध खरीद-बिक्री पर प्रशासन की वैध मुहर !
महिला पत्रकार की अतरंग वीडियो वायरल करने वाले 27 पत्रकारों पर पुलिस की गाज
जमशेदपुर प्रेस क्लब का चुनाव हास्यास्पद ,बली का बकरा बने श्रीनिवास
नमो के भाषण पर झुंझलाई दीदी
स्वतंत्रता एक उत्सव है; आजादी एक चुनौती है।
रेप के आरोपी RJD विधायक को पटना हाइकोर्ट से मिली जमानत
नालंदा में अपराधियों का नंगा नाच, एन एच 31 पर मुखिया के देवर को गोली मार पांच राइफल लूटे
बराक ओबामा की शान या उनकी कायरता की पहचान !
बड़ा सेलीब्रेटी फीगर है ‘आसरा’ की संचालिका, कई ब्यूरोक्रेट्स-लीडरों का है संरक्षण
अफीम पर रोक को लेकर मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में पीआईएल करेगी पंजाब सरकार !
दैनिक हिन्दुस्तान में एसपी-डीएसपी के तबादले की 'फेक खबर' से नालंदा में सनसनी
मैला साफ करने को मजबूर है एएनएम
दरभंगाः पुलिस कार्रवाई से शराब माफियाओं में हड़कंप !
हाफ टाईम ओवरः नितीश के सामने कहां खड़े हैं मोदी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...