पत्रकार पुत्र को शराब पिलाई गई थी या हत्यारों ने पी थी !

Share Button

राजनामा.कॉम। नालंदा के पत्रकार आशुतोष के पुत्र चुन्नू के हत्या की गुत्थी लगभग सुलझ चुकी है। घटनास्थल को जांच करने के बाद पटना से गई फोरेंसिक की टीम ने इस ब्लाइंड केस में महत्वपूर्ण सुराग नालन्दा पुलिस को दिया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चुन्नू की हत्या आंख में पेचकस घुसेड़कर की गई थी। हत्या करने के पहले चुन्नू को शराब पिलाई गई थी और हत्यारों ने खुद भी पी थी। जिस जगह सभी जुटे थे वहां शराब का खाली पाउच भी मिला है।

हत्या करने के बाद सभी ने सड़क किनारे एक 15 से 20 फिट के गड्ढे में शव को फेंक दिया था। हत्यारे भले ही ग्रामीण परिवेश के है, लेकिन सबूतों को नष्ट करने में काफी दिमाग लगाया था।

लाश को पानी मे फेंक देने के कारण स्निफर डॉग ही नहीं, बल्कि फोरेंसिक की टीम को भी कुछ खास हाथ नही लगा था। जांच के क्रम में टीम को पाइन के किनारे और खेत में कुछ ब्लड सेम्पल मिले थे। जिसका नमूना लिया गया था।

जांच में पता चला था कि जिन तीन चार लड़कों के साथ चुन्नू को अंतिम समय में देखा गया था, उसमें एक उसका रिश्ते का भाई भी था। जब उन संदिग्ध लड़कों से पूछताछ हुई तो दो ऐसे लड़के मिले, जो कुछ छुपा रहे थे।

जांच टीम ने जब उनमे से एक के घर तलाशी लिया तो एक पेचकस मिला, जो धोया हुआ था। लेकिन उसमें खून के कुछ दाग थे।

इसके अलावा घर की जांच के दौरान नल के पास से भी खून के धब्बे मिले। जबकि मृतक के रिश्ते के भाई ने अपने कपड़े सिर्फ में धो दिए थे, लेकिन एक जगह ब्लड के सैम्पल मिल गए।

फिलहाल दोनों युवकों को हिरासत में ले लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है।

सूत्रों के अनुसार जिन युवकों को हिरासत में लिया गया है। उनमें से एक के साथ मृतक चुन्नू का बकझक भी हुआ था। चुन्नू ने उसे काफी बुरा भला कहा था। लेकिन दोनों काफी शातिर है। पुलिस की मानें तो जल्द ही इस मामले का उदभेदन कर लिया जाएगा।

(साभारः पत्रकार Amitabh Ojha की रिपोर्ट, जैसा कि उन्होंने अपनी फेसबुक पेज वाल पर लिखा)

Share Button
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.