पटना के गांधी मैदान में हुई रैली थी तिलांजलि सभाः मोदी

Share Button

modi-bhagalpurबिहार विधानसभा चुनाव फतेह करने के ख्याल को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भागलपुर में आयोजित एनडीए की परिवर्तन रैली में जेडीयू और आरजेडी पर जमकर निशाना साधा।

उन्होंने कहा कि 2 दिन पहले गांधी मैदान में एक ‘तिलांजलि सभा’ हुई। इसमें जेपी, लोहिया और कार्पूरी ठाकुर जैसे नेताओं के आदर्शों की तिलांजलि दे दी गई।

पीएम मोदी ने जेडीयू और आरजेडी की स्वाभिमान रैली पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग जय प्रकाश जी की ऊंगली पकड़कर राजनीति की पाठशाला में आए थे, उन्होंने जेपी को जेल में ठूंसने वालों को (कांग्रेस) से हाथ मिलाकर जय प्रकाश नारायण को तिंलाजली दे दी।

पैकेज लाए तो बिहार का विकास होगा

मोदी ने कहा मैंने बिहार को पैकेज दिया तो बड़ी-बड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस की जाने लगी। उन्होंने कहा कि अगर पैकेज मोदी लाए तो भी विकास तो बिहार का ही होगा न… होगा की नहीं होगा। बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोगों की जनता की आंख में धूल झोंकने की आदत नहीं जाती।

5 साल में बिहार को मिलेंगे 3 लाख 74 हजार करोड़

बिहार को पैकेज दिए जाने की बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 5 साल में फाइनेंस कमीशन से 3 लाख 74 हजार करोड़ का पैकेज बिहार को मिलेगा। उन्होंने कहा कि ये पैकेज बिहार को मिले विशेष पैकेज से अलग होगा। 2005 में बिहार में 101 हेल्थ सेंटर थे, जो 2014 आते-आते 70 हो गए।

नीतीश नहीं कर पाएं केंद्र से भेजे पैसे का उपयोग

मौजूदा सरकार को उखाड़ फेंकने की बात करते हुए पीएम मोदी ने नीतीश पर केंद्र सरकार से मिलने वाले पैसे का उपयोग न करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि पैसे हो उसके बावजूद भी काम न हो तो ऐसी सरकार को हटाना चाहिए या नहीं। भारत सरकार ने बिहार सरकार को जो जैसे दिए थे, वे उसमें से 521 करोड़ रुपए खर्च नहीं कर पाए। पैसे होने के बावजूद काम न हो, ऐसी सरकार को हटाना चाहिए कि नहीं।

14 महीने कब-कब आई बिहार की याद

नीतीश कुमार के 14 महीने बाद बिहार की याद आने वाले बयान पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि याद उनको आती है जो भूल जाते हैं, उनको नहीं जो बिहार को भूले ही नहीं। मोदी ने इस बात का जिक्र किया कि उन्हें कब-कब बिहार को याद किया-

– पीएम मोदी ने कहा कि नेपाल में भूकंप आया तो मैं पहला व्यक्ति था जिसने मुख्यमंत्री को फोन किया कि कैसी स्थिति है, उन्होंने कहा मैं तो दिल्ली में हूं। हर जिले में फोन किया, एनडीए के हर नेता को फोन किया। सबको दौड़ाया। अपने मंत्रियों को हर जिले में भेजा, लेकिन बिहार की सरकार ने क्या किया?

– उन्होंने कहा कि पिछले साल जब कोसी नदी पर एक पहाड़ गिर गया था और नदी बंद हो गई। लगा कि कोसी नदी की वजह से बिहार फिर तबाह हो जाएगा। हमने तुरंत एनडीएमसी के लोगों को राहत के लिए तुरंत भेजा। नदी के किनारे के गांवों को खाली कराया ताकि इलाके को डूबने से बचाया जा सके।

Share Button

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...