नालंदा के थरथरी में निजी बीएड कॉलेज निर्माण के ठेकेदार से मांगी रंगदारी

Share Button

नालंदा(संवाददाता )। नालंदा का थरथरी थाना क्षेत्र एक बार फिर सुर्खियों में है।कभी नक्सली गढ़ माने जाने वाला थरथरी में एक बार फिर नक्सली धमक की सुगबुगाहट दिख रही है।

कभी पीएलएफवाई का बर्चस्व वाले इस क्षेत्र में एक नया संगठन जन्म ले रहा है। अपने आप को आजाद हिंद फौज संगठन का बताते हुए लगभग आधा दर्जन हथियार बंद अपराधियों ने मंगलवार की रात्रि थरथरी थाना क्षेत्र के अमेरा में एक निजी बीएड कॉलेज के निर्माण के बेस कैम्प पर धावा बोल कर सभी मजदूरों को बंधक बना लिया। उनके मोबाइल जब्त कर लिए। साथ ही मारपीट करते हुए मजदूरों को साफ कहा कि जब तक लेवी नहीं मिलेगी तब तक यहाँ काम बंद रहेगा।

अमेरा बेस कैम्प पर डीएसपी और एसडीओ
अमेरा बेस कैम्प पर डीएसपी और एसडीओ

थरथरी थाना क्षेत्र के अमेरा गांव में बन रहे डा0 त्रिशुलधारी पाण्‍डेय मेमोरियल कॉंलेज ऑफ एजुकेशन से लेवी मांगने का मामला सामने आया है। इस मामले में पीडि़त ठेकेदार ने थरथरी थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराकर बुधवार को जान माल की सुरक्षा का गुहार लगाया।

इस मामले में पुलिस छान बीन कर रही है। थाना क्षेत्र के ही करियावॉं गांव निवासी ठेकेदार आशुतोष कुमार उर्फ मुन्‍ना ने बताया कि मंगलवार को हमलोग करीब 25 वर्कर  के साथ सोये हुए थे। तभी बीते रात लगभग 11 बजे हथियार से लैस छह की संख्या में हो रहे बिल्‍डींग निर्माण के पास पहुंचा और हमलोगों जगाकर बंधक बना लिया और मोवाइल को भी जब्त कर लिया।

उसके बाद लेवी मांगने के संबंध में मालिक एवं मुंशी का नम्‍बर मांगने लगा और बोला की मुझे तुम्‍हारे मालिक से लेवी लेना है। मुझे लेवी मिल जायेगा तब मैं बता दुंगा की मुझे लेवी मिल गया है उसके बाद काम करना, अगर लेवी दिए बिना काम शुरू किया तो तुम सभी को कभी भी पहुंचकर जान से मार दुंगा। जिससे मजदूरों में दहशत का महौल बना  हुआ है जिससे काम प्रभावित हो रहा है।

यह भी पढ़े  एनएचएआई ने सड़क किनारे बना रखा है मौत का गढ्ढा

घटना की जानकारी मिलते ही हिलसा डीएसपी प्रवेन्द्र भारती भी पहुँच कर मामले की छानबीन की।

संवेदक आशुतोष कुमार ने बताया कि लेवी मांगने छह की संख्‍या में अपराधी  आए। अपने आप को आजाद हिन्‍द फौज संगठन का बता रहा था। सभी के पास पिस्‍टल व सिक्‍सर मौजूद था। संवेदक ने बताया कि इस मामले में पुलिस का सहारा लिया तो तुम्‍हे तुम्‍हारे घर से उठा लुंगा और काम कर रहे वर्करों में प्रत्‍येक दिन दो-दो आदमी घटाते चले जायेगें और साथ ही कहा कि पुलिस भी मेरे सामने नहीं टिक पायेगी।

पटना में हुइ बम बलास्‍ट के बाद  से ही थरथरी थाना क्षेत्र के अमेरा गांव सुर्खियों में आया था। बताते चलें कि बम बलास्‍ट में अमेरा गांव के निवासी सोनु कुमार का नाम सामने आया था। यह सोनु पीएलअफआई के संगठन से जुडे़ रहने का संदेह जताया गया था। उसके बाद  बुधवार को हुई इस घटना से अमेरा एक बार फिर सुर्खियों में है,लेकिन इस बार एक नए नक्सली संगठन के पैर पसारने को लेकर ।

थानाध्‍यक्ष शिवनरायण राम ने बताया कि लिखित शिकायत आया है। पुलिस इस मामले में हर बिंदु पर जॉंच करेगी। इसका मामले में  जल्‍द अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Share Button

Relate Newss:

पुलिस फायरिंग में दो मधेसियों की मौत, 40 से अधिक घायल
हिलसा के एसडीओ अजीत कुमार सिंह ने न्याय को यूं नंगा कर दिया
मांझी ने बनाया हम, नीतिश को बताया दुश्मन नं.1
बाजारू मीडिया को त्याग पत्रकार विनय ने खोला ढाबा
किरण नहीं, सुरजीत थीं देश की प्रथम महिला आइपीएस ?
डिपार्टमेंट ऑफ़ कॉमर्स के असिस्टेंट डायरेक्टर की गाड़ी से शराब की तस्करी!
मौन है लखनऊ के दल्ले पत्रकारों की कलम !
क्या कहेंगे अपने राजनेताओं के इस अल्प ज्ञान को !
यशवंत ने अपनाया केजरीवाल स्टाइल, गये जेल
बिना IT Act ज्ञान के पत्रकार के खिलाफ धुर्वा थाना प्रभारी की चल रही यूं अनुसंधान !
नालंदा के थानों में जी हुजूरी करते चौकीदार और अपराधी बने डीएम-एसपी
बंद एसी रुम की क्राइम मीटिंग से बाहर निकल AK-47 का धुंआ देखिए सीएम साहब
पूर्व जजों की जांच के पक्ष में सीबीआइ
टाडा के भगौड़ा पत्रकार सुरेंद्र सिंह का 21 साल बाद सरेंडर
मीडिया मालिकों के कालाधन पर क्यों नहीं पड़ा छापा : आलोक मेहता  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...
loading...